इंतजार प्यार का - भाग - 30 Unknown Writer द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इंतजार प्यार का - भाग - 30

वहीं सूरज फिर करहाते हुए sirisa के पास जाता है। और उसको स्माइल के साथ बाय बोलती हे। लेकिन तभी sirisa उसको बोलती हे लगता हे की काफी जोर से लगी हे। तुम्हे प्लीज अपना खयाल रखना और घर जाकर अपना मरहम पट्टी करलेना ये सुन ने के बाद सूरज का फेस पूरी तरह से लाल हो जाता हे। और उसको काफी शर्मिंदगी फील होती है। लेकिन sirisa को उसको ऐसे देख कर काफी क्यूट लग रहा था। जिस बजह से खुद को रोक नहीं पाती है। और सूरज के गाल में किस कर देती हे। ये देख कर सूरज का आंखें बड़ी हो जाती हे और वो उसकी और घूरने लगता हे। वहीं जब sirisha को एहसास हुआ कि उसने क्या कर दिया है। तो वह शर्म से अपना सर नीचे कर देती हैं। और जल्दी से वहां से भाग जाती है। यह देखकर सूरज के फेस में एक बड़ी सी स्माइल आ जाती है। और वह अपने मन ही मन में अपने दोस्तों को थैंक यू बोलते हुए बोलता है की अच्छा काम किया तुम लोगों ने जिस वजह से मुझे पता चल गया कि वह मुझे बहुत प्यार करती है। और मैं भी उससे बहुत प्यार करता हूं। और इस ट्रिप में उसको अपने दिल की बात बता दूंगा और फिर उसको अपना बना लूंगा यह सोचकर वह अपने मन ही मन में खुश हो कर वहां से चला जाता है।

सब लोगों ने एक साथ अपने अपने लिए शॉपिंग कर लिए थे। सनाया भी अपने लिए शॉपिंग कर लिया था। जब वो अपने बेड में बैठ कर ट्रिप के बारे में सोच रही थी। तभी उसको आरव का खयाल आता हे। और फिर वो अपने और आरव के बारे में सोच ने लगी उसको उनका मिलना और फिर दोनों के लड़ाई के बारे में फिर एक दूसरे के साथ के पल के बारे में सोचने लगी। तभी उसको थोड़ी मायूसी होती है। क्योंकि आरव उसको पसंद करता है यह वो जान चुकी थी। लेकिन वह ये भी जानती थी कि वो उसको कभी भी अपने दिल की बात नहीं बताएगा और अगर वह भी उसको बोलेगी तो फिर भी हो उसको हां नहीं बोलेगा। यह सोचकर उसको बहुत मायूसी होती है। लेकिन तभी उसको उनकी ट्रिप के बारे में ख्याल आता और वह लोग का एक दूसरे के साथ 4 दिन के लिए जाने वाले थे। एक दूसरे के साथ काफी टाइम स्पेंड करने वाले थे। फिर सनाया सोचा की वहां पर वो आरव को स्पेशल फील करवाने की कोशिश करेगी। और फिर उसको अपने दिल की बातें बता देगी और तब तक आरव भी उसको पसंद करेगा और उसको हां बोल देगा। ये सब सोच कर और फोर कुछ प्लान बना कर आरव के बारे में सोचने लगती हे। और फिर सो जाती हे। ट्रिप के लिए तैयारी करते हुए बाकी सब भी काफी tired हो गए थे। जिस वजह से वो लोग अपने घर आकर सीधे सो गए। ऐसे हीं रेस्ट करते हुए उनकी एक और दिन बीत गई और फिर ट्रिप पे जाने वाला दिन आ गया। सब लोग आज भी ट्रिप पे कार पे जाने का प्लान बनाया था। और प्लान किया था की आर्यन और नैना अपना अपना suv लेकर आएंगे। उन दोनों ने भी काफी रॉयल एंड फास्टेस्ट suv को रेडी करवा दिया था।वो लोगों ने एक और दिन इन सब के इंतजाम और रेस्ट करने में बीता दिए। और फिर ऐसे हीं एक दिन बीत गया। और अगला दिन आ गया। आज वो लोग ट्रिप पे जाने वाले थे।
ट्रिप वाला दिन
आरव अपने हॉस्टल रूम मैं ट्रिप के लिए तैयार हो रहा था कि तभी उसके दोस्त शिशिर के फोन में एक कॉल आता है। वो फोन आरव के सामने वाले टेबल पे रखा हुआ था। और फिर चिल्लाते हुए सिसिर से बोलता हे की सिसिर तेरे फोन में किसका कॉल आया है। तो सिसिर भी उससे चिलाते हुए बोलता हे की अरे यार देखना किसका कॉल हे। तो आरव फोन को उठाके देखने लगा लेकिन जब वो उसके फोन के स्क्रीन पे my sister लिखा हुआ था। तो उसने जल्दी से उसको चिलाते हुए बोलता हे की अरे सिसिर तेरी बहन का कॉल है। यह सुनने के बाद शिशिर थोड़ा सोच में पड़ जाता है। क्यूं की इसकी बहन उसको बहुत कम बार हीं इतने सुबह कल किया हे। वो ये सब सोच हीं रहा था की तभी उसको फिर से अरब की बात सुन ने को मिलता हे की अरे यार कुछ बोल वरना अभी कॉल cut हो जाएगा। तो सिसिर भी उसको बोलता है यार मैं तो बाथरूम में हूं तो उठा कर थोड़ी देर के लिए उससे बात कर ले और क्या बताना चाहती हे। मैं अभी आ रहा हूं। यह सुनने के बाद आरव एक पल के लिए बात रूम की डोर की तरफ घूर कर देखता हे। फिर उसको ओके बोल देता है। और फिर कॉल को उठाता है और अपने कान में लगा देता है। कि तभी उसको दूसरी ओर से एक पतली सी प्यारी सी और बचपने से भरा हुआ आवाज आती है। हेलो भैया आप कैसे हो और आपको पता हे मैं आज ट्रिप पर जा रही हूं। और mom ने कहा था की आप मुझे लेकर वहां पर चोद देंगे तो मेने आप को कॉल किया था और में आपके हॉस्टल में आने वाली हूं। और फिर आप मुझे लेकर एड्रेस में छोड़ देना जो को में आपको अभी मैसेज करने वाली हूं। ये सब बोलते वक्त वो काफी ज्यादा एक्साइटेड थी। वहीं उसकी मुंह से इतनी सारी बात सुन कर आरव एक दम irritate हो जाता हे। और उसको उस लड़की के ऊपर काफी ज्यादा गुस्सा अता हे। लेकिन फिर भी वो अपने गुस्से को दबाते हुए और उसकी बात को रोकते हुए बोलता है। कि मिस जरा रुकिए। अपने भाई के फोन में से किसी और की आवाज सुन कर वो लड़की घबराजती है। और आरव इससे आगे कुछ बोलता कि तभी वो लड़की आरव से chilate हुए पूछती है की मेरा भाई किधर है और मेरे भाई का फोन तुम्हारे पास कैसे आया और तुमने उसके साथ क्या किया। कहां है मेरा भाई जल्दी से मेरा उससे बात करवाओ वरना मैं तुमको नहीं छोड़ने वाली। में अभी का अभी मैं पुलिस को कॉल करने वाली हूं। यह सुनने के बाद आरव का गुस्सा का पारा एक दम से हाई हो गया और उसने उसी गुस्से में उससे बोलता है मिस मैं आपका भाई का रूम मेट हूं। और मैंने आपके भाई के कहने पर ही यह कॉल उठाया है और आपका भाई बाथरूम के अंदर हे। अगर आपको फिर भी बात करना है। तो मैं अभी का अभी उसको फोन दे देता हूं। और आप उसके साथ जितना बात करना चाहती उतना कर सकती हे। इतना सुनने के बाद वह लड़की को काफी शर्मिंदगी फील होती है। और फिर वो थोड़ी देर के लिए शांत हो जाती है। और फिर अपने प्यारी सी आवाज से आरव से बोलती है आई एम sorry मेने कुछ गलत सोच लिया प्लीज मुझे माफ कर दीजिए। ये सुन ने के बाद आरव का गुस्सा थोड़ा शांत होता है। और फिर वो उस लड़की को बोलता हे की ठीक है। तो फिर वो लड़की आरव से बोलती हे। प्लीज याद करके भाई को बोल देना कि वह वहीं पर रुके मैं अभी वही आने वाली हूं। वह मुझ को लेकर छोड़ देंगे। तो आरव भी उसको ओके बोलता है। और फिर फोन रख देता है। उसको फोन पे बात करने के बाद थोड़ी अजीब फीलिंग आ रही थी। क्योंकि उसको इस लड़की की आवाज काफी सुनी सुनी लग रही थी। और उसको लग रहा था की वो recently कहीं न कहीं सुना ही जिस वजह से वो वहीं पर बैठ कर सोचने लगता हे कि यह आवाज कहां सुना है। लेकिन फिर भी हो इस बात को इग्नोर करते हुए अपना पैकिंग कर के वहां से बाहर जाने के लिए निकल जाता है। कि तभी वहां पर शिशिर आ जाता है। और बोलता है क्या बात है यार क्या बोला छोटी ने और कुछ उल्टा सीधा तो नही बोल दिया अगर बोला हो तो उसकी और से में माफी चाहता हूं क्यूं की वो जरा मुंह फट हे। और किसी के सामने कुछ भी बोल देती हे। इतना सुनने के बाद आरव को उस लड़की से बात करना याद आ गया और फिर उसने थोड़ा सा संकोच करते हुए सिसिर से पूछता हे की भाई तेरी बहन की नाम क्या है। और सिसिर भी बिना कुछ सोचे बोलता हे की सिरिसा। ये सुन ने के बाद आरव को थोड़ा शॉक लगता हे। क्यूं की सूरज भी जिस लड़की के साथ बात कर रहा था उसका नाम भी sirisa है। और उसके टोन से लग रहा था की दोनो same लड़की हीं हे। जिस bajah से लग रहा था कि यह भी वही लड़की है लेकिन फिर भी वह अपने डाउट को अपने मन में ही रख कर उसको बोलता है अरे यार तेरी बहन आज ट्रिप पर जाने वाली है। और वह हॉस्टल में आएगी तो तू उसको लेकर छोड़ देना। इतना बोलने को बोलता हे। तो सिसिर उससे बोलता हे की हां यार पता हे। Mom ने कहा था। फिर सिसिर उसकी और घूम कर पूछता हे की तो तू अब कहां चला तो अरब उसको बोलता है अरे यार बताया तो था ना हम लोग 4 दिन के लिए जयपुर ट्रिप पर जा रहे हैं। तेरा यादाश थोड़ा slow हे। रोज बादाम खाया कर याद रहेगा। तो ये सुन कर सिसिर का मुंह बन गया। और फिर वो वैसे हीं अपना मुंह बनाए हुए हीं बोलता हे की हां यार मुझे याद है और मुझे बादाम खाने की कोई जरूरत नहीं हे। उसकी जरूरत तुझे हे क्यों की तूने मुझे बताया था की सब लोग तो यहां आने वाले थे ना। तो आरव उससे बोलता है नहीं यार प्लान चेंज हो गया सब लोग आर्यन के फार्म हाउस में मिलेंगे। तो फिर सिसिर बोलता है ठीक है और उससे पूछता हे की क्या वो उससे वहां पर छोड़ दे लेकिन आरव उसको मना कर देता है और बोलता हे की तेरी बहन आने वाली हे तुझे उसको छोड़ना हे और में cab me चला जाऊंगा। ये सुन ने के बाद सिसिर भी कुछ नहीं कहता और चुप हीं रहता है। वहीं आरव अपना सामान पैक करता है और अपने बैग को लेकर नीचे चला जाता है। और एक कैब बुक करता हैं। थोड़ी देर बाद cab भी आकर नीचे रुक जाती है। और फिर वह cab बैठ कर वहां से चला जाता है और थोड़ी देर बाद आर्यन के फार्म हाउस के सामने उतरता है।
वो उतरने के बाद देखता है तो नैना और आर्यन कार निकाल कर बाहर रखे हुए हैं। जहां आर्यन ने Lamborghini urus लाया था। और नैना ने रोल्स रॉयल्स का मॉडल लेकर आई थी जोकि दिखने में काफी रॉयल लुक दे रहे थे। फिर एक-एक करके वहां पर सब लोग आने लगे पहले सूरज आया उसके बाद सनाया फिर विक्रम फिर मेघा ऐसे करके एक-एक करके सब आ गए। फिर बिक्रम और आरव मिल कर सब की लगेज कार में सेट करते हे। अब तक बस सिरीसा ही वहां पर नहीं पहुंची थी तो बिक्रम सूरज की और देखता हे। और धीरे से उसके कान में पूछता हे की क्या हुआ यार सिरसा कब आएगी या फिर नहीं तो सूरज बोलता है की हां यार आएगी मुझे तो हां बोला था तो क्यों नहीं आएगी। तो फिर विक्रम उससे बोलता है तो कहां है यार कब आएगी। तो सूरज बिक्रम से बोलता है रुक मैं अभी उसको फोन करके पता लगाता हूं। और फिर वह सिरीशा को कॉल करने लगता है। लेकिन sirisa कल नहीं उठाती जिस वजह से वह काफी टेंशन में आ गया। और बोला अरे यार इसका तो कॉल ही नहीं लग रहा है अब क्या करूं। वो लोग वहां पर खड़े हो कर सिरसा के बारे में बात ही कर रहे थे। कि तभी वहां पर एक बाइक आकर रूकती है और उस बाइक से sirisa उतरती है। उसको देख कर सब लोग आंखें बड़ी बड़ी कर लेते क्योंकि वह लोग सिरीशा को अब पहचान नहीं पा रहे थे। लेकिन वो उन लोगों को काफी जाना पहचाना लग रही थी। तो थोड़ी देर तक अपने दिमाग के ऊपर प्रेशर देके याद करने की कोशिश करते हे। और तभी उन लोगों को याद आता है कि जब वह लोग आगरा टिप जा रहे थे।तभी वह उनको वहां मिली थी। और तभी वो लोग बिक्रम की और घूम कर उससे पूछते हे की क्या ये भी हमारे साथ जाने वाली हे। तो बिक्रम हां बोल देता है। और सब लोग समझ गए कि उसको कौन यहां पर बुलाया है। लेकिन फिर भी कॉल कुछ क्यों नहीं कहता और बस सिरसा की ओर देखने लगे। लेकिन सब लोग काफी खुस थे खास कर के नैना और सूरज क्यों की नैना उसी दिन उसके साथ काफी अच्छा बॉन्डिंग बन गया था। और सूरज उसको प्यार करता था और इस ट्रिप में उसको प्रपोज करने की प्लान बनाया था।
वही सिरसा बाइक से उतरने के बाद सीधे आकर सूरज के पास खड़ी हो जाती है। और सूरज की और देखने लगती हे। और वहीं सूरज तो अभी भी sirisa के साथ आए हुए लड़के के बारे में ही सोच रहा था। कि वह कौन लड़का है जो सिरसा के साथ यहां पर आया और इन दोनों का क्या रिश्ता है। क्या वह दोनों कपल है। अगर हे तो मेरा जिंदगी बर्बाद एक लड़की से प्यार किया वह भी नहीं मिलेगी क्या। लेकिन तभी वो बोलता हे की में सीरिया को उस लड़के से दूर कर दूंगा और अपने प्यार में डाल दूंगा। और ये सब वो अपने दिल में गहरी सपथ लेता हे। यह सब सोच सोच कर वह काफी इनसिक्योर हो रहा था। लेकिन वह अपने दिल के बातों के बारे में किसी को कुछ भी नहीं कहना चाहता था। जिस वजह से वह पूरी तरह से चुप ही रहा। वहीं आरव ने जब देखा कि सिरीशा किसके साथ आई है तो वह वह एकदम शॉक हो गया। और अपने आंखों को बड़ी-बड़ी करते हुए उस लड़के की ओर देखने लगा। क्योंकि वह लड़का कोई और नहीं शिशिर ही था जो कि यहां पर सिरसा को छोड़ने आया था। ये बात अरब पहले से हीं गैस कर दिया था लेकिन फिर भी सच जान ने के बाद उसको काफी शॉक लगा। वही शिशिर भी आरव को वहां देखकर काफी शौक हो गया था। वह उसी शॉक की स्थिति में ही आरव से पूछता है की। आरव यार तू यहां क्या कर रहा है। तुझे तो ट्रिप पे जाना था। तो आरव भी अपना शौक से बाहर आते हुए उससे बोलता है अरे यार मैं तो बोला था ना मैं ट्रिप जा रहा हूं। और ये लोग मेरे दोस्त हे जिनके साथ में जा रहा हूं क्या तू नही देख सकता। तो सिसिर भी चारो तरफ देखता हे। और आरव के दोस्तों को देख कर समझ जाता हे की आरव सच बोल रहा हे। तो शिशिर की आंखों में चमक आ जाती है और वह थोड़ी राहत भरी सांस लेता है। फिर आरव से बोलता है अरे यार आरव प्लीज। मेरी बहन भी तुम लोगों के साथ ट्रिप जा रही है तो इसका जरा ख्याल रखना प्लीज। तो आराम भी पहले सिरसा की ओर देखता है जो कि अब भी मुंह बनाए हुए उन दोनों को देख रही थी तो अरब हां बोलता है। वहीं सब लोग काफी ज्यादा शॉक थे क्यूं की आरव उन लोगों के अलावा किसी और के साथ कभी भी इस तरह से बात नहीं करता है। और फिर वो लोग सिसिर की और देखते हुए सोचते हे की ये लड़का कोन हे। क्यूं की वो लोग शिशिर से पहले कभी मिले थे यह उनको याद नहीं आ रहा था और उसके साथ आरव इतने अच्छे से बात कर रहा था। क्योंकि वह लोग जानते थे यार आरव किसी के साथ भी इतना अच्छे से बात नहीं करता और वही शिशिर भी वहां से चला गया। तो अरब बाकी लोगों के पास गया तो तभी सूरज आरव से पूछता है यार तू उसको कैसे जानता है। और वो कौन हे। तो आरव उसको बताता है कि वह और शिशिर दोनों रूम मेट है जिस वजह से उसने मुझे पहचानता है। तो सब लोग भी कुछ नहीं बोलते बस अपना सर हां में हिला देते हे। और तभी सिरसा थोड़ा शर्मिंदगी के साथ और संकोच करते हुए उससे बोलती है तो क्या सुबह आपने कॉल उठाया था तो आरव भी उसे अपने वही पुराना अंदाज में हां बोलता है। फिर सिरीसा उसको फिर एक बार सॉरी बोलती हे। तो आरव उससे बोलता हे। Ok चलो और वो आगे कार की और बढ़ जाता है। जब बाकी लोग आरव को अपने पुराने अंदाज में देखते हैं तो उन लोगों के फेस में स्माइल आ जाती है। और फिर वह सब वहां जाने के लिए रेडी हो जाते हैं।
तो क्या होता है आगे किस-किस की जोड़ी बनने वाली है इस ट्रिप में और कौन-कौन क्या-क्या करता है। कौन कितना मजा करता है इन 4 दिनों में जानने के लिए पढ़ते रहे हैं मेरा यह कहानी इंतजार प्यार का..............
To be continued...........
Written by
unknown writer

रेट व् टिपण्णी करें

सबसे पहले टिपण्णी लिखें