हिंदी किताबें, कहानियाँ व् उपन्यास पढ़ें व् डाऊनलोड करें PDF

दारू लेना नहीं। (पूर्ण रूप से काल्पनिक कहानी)
by Urvil Gor V.
  • (1)
  • 27

दारू लेना नहीं। (पूर्ण रूप से काल्पनिक कहानी) कॉलेज इसी जगह है जहां हम पूरी दुनिया का ज्ञान सीखते है। राहुल अपने दोस्तो से: अरे भाई ये  हमारी कॉलेज ...

अधूरी ख्वाहिश
by Roopanjali singh parmar
  • (3)
  • 49

वो बस दोस्त बनना चाहती थी और बन गई .. भगवान से जैसे उसे सब कुछ मिल गया.. एक मन माँगी मुराद जो पूरी हो गई...........कनक नाम है इसका.. ...

परदेशिया (भाग-1)
by Amit Sharma
  • (1)
  • 50

रोहन जो इस कहानी का मुख्य पात्र है, के जीवन पर आधारित ये कहानी सम्पूर्ण रूप से नही, पर वास्तविकता से प्रेरित है। इस महीने बाइस साल का होने ...

नाटक-बहूधन
by Alok Sharma
  • (8)
  • 169

नाटक- बहूधन लेखक- आलोक कुमार शर्मा दृश्य-1 (सेठ जी के घर पर एक व्यक्ति कमल अपनी पत्नी के साथ अपनी बेटी का रिस्ता लेकर आया है सभी बैठक रूम ...

आलसी शीनू
by Neerja Dewedy
  • (8)
  • 182

                           बाल नाटक---                                              आलसी शीनू लारी लप्पा लारी लप्पा लारी लप्पा ला आओ झूमें नाचें ज़रा. लारी लप्पा लारी लप्पा लारी लप्पा ला खायें पियें सोयें ज़रा. ...

सुरक्षा कवच
by Ajay Amitabh Suman
  • (5)
  • 82

छोटा भाई समझ नहीं पा रहा था कि वह क्या करें? वह अपने बड़े भाई के पास दब के रहता था। धीरे-धीरे उसके मन में कुंठा उपजने लगी। इसका ...

बंदर की आत्मकथा
by Deepak Antani
  • (6)
  • 139

This is a one act play where in THREE WISE MONKEYS of Mahatama Gandhi wants to talk about their origin as wise monkeys. Mahatma Gandhi himself comes and helps ...

जिंदगी
by Udit Ankoliya
  • (17)
  • 426

the story of life in poetry but the tone of this poem is like a rap song .so if u read it like poem sometimes u miss tone but ...

ज़िन्दगी की जंग जीतकर आई एक परी
by Shaifali (Naayika)
  • (11)
  • 374

(1) कुछ रिश्ते खून के होते हैं, कुछ रिश्ते समाज में रहते हुए संबोधन के होते हैं और कुछ रिश्ते ऐसे होते हैं जो ज़हन में उगते रहते हैं, ...