×
    अनन्त यात्रा
    by Yogesh Kanava
    • (0)
    • 14

    दूर-दूर तक नीला समन्दर फैला हुआ । वातावरण एकदम शान्त और इस नीरवता को चीरती है एक -एक कर आती समन्दर की लहरें । नीलिमा आज कोस्टा बीच पर ...

    पिंकी
    by Asha Rautela
    • (4)
    • 29

    पिंकी पिंकी टीवी पर कार्टून देख रही थी। टाॅमन एन्ड जेरी उसका फेबरेट प्रोगाम था। तभी उसकी मम्मी आई बोली,‘‘ पिंकी बेटा होमवर्क कर लो’’ मम्मी की बात सुनकर ...

    रात के ११बजे - भाग - 7
    by Rajesh Maheshwari
    • (1)
    • 30

    या तो सीरियल देख रहे होते हैं या फिर वे फिल्में देखते हैं। आज के प्रतिस्पर्धात्मक व्यापारिक युग के चैनल जो सीरियल दिखाते हैं वे भावनाओं को भड़काने वाले ...

    ससुराल के कुछ रोचक वाकये 
    by Rashmi Ravija
    • (4)
    • 34

    कुछ दिनों पहले यूँ ही सहेलियों के साथ गप्पें हो रही थीं तो बात निकली ससुराल में पहले दिन या शुरूआती दिनों की. एक से  बढ़कर एक रोचक किस्से ...

    समिरा
    by bipin mewada
    • (7)
    • 64

    समीराने उठकर अपना मोबाईल चेक कीया। कोई नया मेसेज या फोन कॉल नही था। मोबाईल चार्ज पर रख कर वो नित्य काम करने लगी। ब्रेक फास्ट करते हुए उसने ...

    खरपतवार
    by Manisha Kulshreshtha
    • (1)
    • 20

    उसकी यादों में कुछ दहशतें और कुछ वहशतें अब भी बाकी हैं. सप्ताह के बाकी दिन वह फाइलों, टेलीफोनों, लोगों से मुलाकातों के बीच वह खुद पर व्यस्तता के ...

    मेरी जनहित याचिका - 5
    by Pradeep Shrivashtava
    • (2)
    • 22

    प्रोफ़ेसर साहब की बात मुझे सही लगी। शंपा जी की कहानी जानने के बाद मेरे मन में उनके लिए सम्मान भाव उत्पन्न हो गया। मैंने कहा कि मैं उनके ...

    मेरा भाई
    by PAWAN KUMAR
    • (1)
    • 10

    मेरा भाई .. कभी कुछ बताने के लिये बहुत कुछ  होता  है  तो  कभी  जितना बताओ ऊतना  काम  हो  जाता है  पर हम किसी  को जानना  नही  छोडते  तोह ...

    आधी नज्म का पूरा गीत - 17
    by Ranju Bhatia
    • (2)
    • 22

    अमृता का कहना था कि दुनिया की कोई भी किताब हो हम उसके चिंतन का दो बूंद पानी जरुर उस से ले लेते हैं..और फ़िर उसी से अपना मन ...