इंतजार प्यार का - भाग - 1 Unknown Writer द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इंतजार प्यार का - भाग - 1

आज इंपीरियल कॉलेज के सामने काफ़ी सारी और महंगी कार की लाइन लगी हुई थी| आज कॉलेज का पहला दिन और प्रवेश का दिन था इसी बजाह से काफ़ी सारे बच्चे आज आए थे। यहाँ के काफ़ी सारे बचे अमीर परिवार से बेलोंग करने के बजाह से सब के पास अपना अपना पर्सनल कार हां बाइक था या फिर उन्हे अपने ड्राइवर कार में छोडने के लिए आए थे वहां पर काफी सारे स्टूडेंट डोनेशन देकर कॉलेज में पढ़ने के लिए आए थे। क्यूं की इम्पीरियल कॉलेज इंडिया की बेस्ट कॉलेज मेयो से एक हे। और इज कॉलेज में दुसरे देश के स्टूडेंट्स पढ़ने डोनेशन देकर आते हे या फिर एक्सचेंज स्टूडेंट बन के आते हे। और ये लोग अपने अपने दोस्तों को लेकर कॉलेज के कैंपस के अंदर कहीं खड़े हो कर बात चीट और हसी मजा कर रहे थे जिस बजा से कॉलेज काफ़ी जीवंत लग रहा था।
सब बच्चे वहन ईधर, उधर घुम रहे थे फिर अपने दोस्तों के साथ कुछ बात चीत कर रहे थे की तबी कॉलेज के गेट से एक हरे रंग की लेम्बोर्गिनी और आति हे और फिर सब की अटेंशन पकड़ो कर दे हे। जिस बजाह से सब के सब छात्र अपना अपना काम छोड कर बस उस कार की देखे जा रहे थे और फिर एक दसरे में ही उस कार के बारे में और कार के मालिक के बारे में बात कर रहे थे कर्ण शुरू कर देते हे। तबी उनमे से एक छात्र अपने दोस्त से बोलता हे की आरे यार ये कोंसी कार हे बहुत सही लग रही हे मुझे भी एक चाहिये तो उसका दोस्त उसे बोलता हे की मुझे पता नहीं लगता हे मार्केट में नहीं आई हे। रुक जय को पुछते हे | जय के पापा एक फार्मा कंपनी में सीईओ हे और जय भी इंपीरियल यूनिवर्सिटी में पढ़ने के लिए दान दिया हे| उसको तो कार के बारे में काफ़ी ज्ञान हे तो वो बता सकता है और फिर दोनो ही जय को पुचने के लिए मुद्दते हे। देखते हे की जय अपनी आंखें और मुह फादे हुए हिन बस कार को हिन घुर रहा था तो वो दोनो उसके पास जकर उसे कार के बारे में पुछते हे लेकिन वो कुछ बताता भी नहीं हे तो फिर से बोले हे लेकिन बार भी कोई जवाब है नहीं देता हे तो वो दोनो उसे हिलाते वह जिस बजाह से उससे होश में आना पदता हे और वो शॉक से बहार आते हे और फिर वो दोनो उसे कार के बारे में और उसे शॉक होने की बजाह पुचने लगते हे तो जय उनसे बोलता हे की यार ये लेम्बोर्गिनी की बिलकुल नई और ग्रैंड एडिशन मॉडल हे। जो की आज से ठीक एक या दो हफ्ते पहले दुबई में लॉन्च हुआ था और इसकी कीमत 10 मिलियन डॉलर हे और ये कार पुरी दुनिया में सिर्फ पंच ही मॉडल हे। अब शॉक होने की बारी बाकी स्टूडेंट्स जो की जय की बातो के बारी में सुन रहे थे। लेकिन जय उतने में ही नहीं रुका वो बस बताया हिन चला की यार ये गाड़ी को को मेरे दादाजी ने ख़रीद ने के लिए काफ़ी सारे ईफ़ोर्ड्स किये थे पर वो ख़रीद नहीं पाई क्यूं की कार को पुरे दुनिया के पंच रिच और पावरफुल बिजनेसमैन में पहले हिन रिजर्व कर दिए थे। और उनके नाम के बारे में पता नहीं चल रहा हे लेकिन ये पता चला हे की एशिया की दो व्यवसायी और ऑस्ट्रेलिया यूरोप और अफ्रीका के एक व्यवसायी ने खारिदा था। और ये कार को ख़रीदने के लिए सिरफ़ वैसा ही नहीं साथ में काफ़ी ज़्यादा कनेक्शन भी चाहिये | मुझे लगता हे की ये कार जिस्की हे हमें उससे दोस्ती भी कर लेनी चाहिए क्यूं की जो भी उससे पंगा लेगा वो आगे कुछ करने के लिए नहीं रहेगा।तो ये सब बात सुन के बाद सारे के सारे स्टूडेंट बुरी तारिके से शॉक हो जाते हे। और सोच ने लगते हे की केसे उसके साथ दोस्ती बढ़ा जा शक्ता हे। वो ऐसे हिन बात कर रहे थे की तबी वो कार जकार पार्किंग पे रुक जाती हे। और सारे के सारे स्टूडेंट कार का दरवाजा खुलने के इंतजार करने लगते हैं।
वही कॉलेज के प्रशासनिक कार्यालय में काफ़ी सारे बचे अपना प्रवेश फॉर्म दे कर अपना आई कार्ड लेने को खड़े हुए और एक दसरे से बात कर रहे थे और सारी की सारी लड़की बस एक ही लड़कों को घुर रहे थे जो की दिखने में किसी कहानी के राज कुमार से कम नहीं लग रहा था। 6 फीट 1 इंच की ऊंचाई किसको पाने के लिए हर लड़का सपना देखता हे गहरे भूरे रंग की आंखें जो की देखने में काफ़ी नशीली और गहरी लग रही होती हे। उसे देख कर कोई भी लड़की पागल हो जाएगा उसके प्यार में। उसके गले के पास एक तिल हे जिसको देख कर ऐसा लग रहा था जिसे की सुंदर ता को कोई भी नज़र ना लगाये उसे बजाह से भगवान उसके गले में वो तिल दिया हे। ये कोई और नहीं आरव ही हे। सारे लड़की उसे ऐसे घुर रही थी जैसे की अगर उन्हें एक मौका मिले तो उसे बस खा हिन जाए।
तबी उनमे से एक लड़की जिस्की नाम श्रुति हे। जो की देखने में भी काफ़ी अच्छा हे उसकी मासूम फेस और बड़ी बड़ी काली आंखें में देखने के बाद कोई भी उसके प्यार में पड़ जाए। वो धेरे से जय के पास जाती हे और अपने बाल को स्टाइल से पिचे करते हुए आरव से बोलती हे की “hey hendsome what is your name? Can I get your number and go for coffee”.. लेकिन आरव उससे अपने वही पुरानेे arrogant तारिके से उसके और बिना देखे हुए हिन जवाब देते हुए बोलता हे की "I am sorry, i am not interested in you so get lost”आरव के ऐसे जवाब सुन कर सब लोक शॉक हो जाते हे क्यूं की वो लड़की दिखने में काफ़ी अच्‍छी हे और वहां के काफ़ी लड़की उसे पसंद कर रहे द शॉक तो वो लड़की भी थी। क्यों की वो लड़की कभी भी आरव से ऐसी जवाब का उम्मीद नहीं किया था। और अब उस लड़की को थोड़ी शर्मिंदगी हुई लगी और आरव के ऊपर गुस्सा भी आरा वह और फिर वो वहां से अपने जग पर चली गई और अपने मान हिन मान में काफ़ी गली भी दे दिया। लेकिन आरव को इसे कोई भी फरक नहीं पड़ा और इसलिए अपना आई कार्ड लेकर अपने रूम में चला गया।
वही कार पार्क होने के बाद यूएस कार से एक लड़की निकलती हे जिसकी हाइट 5 फीट और 7 इंच हे। और देखने में काफ़ी सुंदर गोरा रंग काली आँख और घने पालके और सुरख़ गुलाबी होथ परफेक्ट फिगर के साथ एक लड़की हे जिसको देखने के बाद हर किसी के दिल की धड़कन काफी तेज हो जाती हे। और हमें देखने के बाद सब वहां पर शॉक हो जाते हे। क्यूं की ये कोई और नहीं सनाया राजावत हे। राजावती खानदान के बेटी। और मशहूर मॉडल।
राजावत खानदान राजस्थान के एक राज परिवार हे जो की पहले राजस्थान के राजा हुआ करते थे। और अब उनकी एक कंपनी हे जिस नाम हे राजावत कॉर्पोरेशन जो की इंडिया की सबसे बड़ी कंपनी में से एक हे और उनकी बिजनेस सरफ इंडिया में हिन नहीं काफी सारे देश में हे। और उनका अंडरवर्ल्ड में भी काफ़ी अच्छा कनेक्शन हे।
सनाया आज डेनिम जींस के साथ एक ब्लू कलर के क्रॉक-टॉप पेहनी हुई थी जिसमे वो एक काफ़ी सुंदर लग रही थी वो कार से उतरने के बाद अपना बुक लेकर अपने अपने दोस्तों के पास चली जाती हे फिर वहन से कॉलेज के प्रशासनिक कार्यालय के और जाने लगते हे अपने आई कार्ड को जारी करने के लिए।
तो आगे क्या होता हे, क्या आरव और सनाया मिलेंगे मिलेंगे तो कैसे मिलेंगे और क्या होगा जाने के लिए पढ़ते रहिये मेरा ये कहानी इंतजार प्यार का
To be continued.......
Written by

unknown writer

रेट व् टिपण्णी करें

Usha Dattani

Usha Dattani 5 महीना पहले

Priya Maurya

Priya Maurya मातृभारती सत्यापित 7 महीना पहले

anagha pm

anagha pm 8 महीना पहले