सर्वश्रेष्ठ प्रेरक कथा कहानियाँ पढ़ें और PDF में डाउनलोड करें

हमारी नयी कार
द्वारा Kalyan Singh
  • 511

हेलो ऑटो ! खाली नहीं है lदूसरा ऑटो ! इतनी रात को वहां नहीं जाऊंगा lयह कहकर न जाने कितने ऑटो वाले अपने - अपने रास्ते चले गए l" ...

ज़िन्दगी की ताकतवर और महत्वपूर्ण चीज
द्वारा Karan Somani
  • 403

    "ज़िन्दगी की ताकतवर or महत्वपूर्ण चीज "क्या हमने कभी सोचा है की हमारे जीवन की सबसे महत्वपूर्ण और ताकतवर चीज कौन सी है?  ऐसी चीज जो सबसे ज्यादा ...

मस्ताने बुजुर्ग दंपति क्वॉरेंटाइन में
द्वारा r k lal
  • (19)
  • 415

मस्ताने बुजुर्ग दंपति क्वॉरेंटाइन में आर० के० लाल                     मिसेज सरला और शर्माजी ने बुढ़ापे में अपने जीने का नजरिया ही बदल डाला था।  वह दोनों एक अलग ...

कवीपर्ण की समझदारी
द्वारा Ptm
  • 351

एक गांव में जब एक परिवार खुशी से रह रहा था। उस परिवार में छह सदस्य थे। एक दिन इस परिवार द्वारा सभी प्रियजनों और रिश्तेदारों के लिए हवन और भगवान ...

जींदगी
द्वारा Vipul Borisa
  • 381

बात थोड़ी सी लंबी है,लेकिन पढ़ना जरूर अभी तो वैसे भी सब के पास वक़्त है ही।अभी पिछले दो दिनों में दो दिग्गज अभिनेताओ का निधन हो गया।सारे social ...

मैं गणेश बोल रहा हूँ ...
द्वारा राज कुमार कांदु
  • 335

सड़क किनारे बैंड बाजे और डी जे के शोरगुल के बीच गणपति विसर्जन के बाद थके हारे लोग अपने अपने घर पर सुहाने सपनों की दुनिया में खोये हुए ...

वो बूढ़ी औरत
द्वारा इंदर भोले नाथ
  • (14)
  • 577

वो बुढी़ औरतरोज सुबह ड्यूटी पे जाना रोज शाम लौट के रूम पे आना, ये रूटीन सा बन गया था, मोहन के लिये।हालाँकि रूम से फैक्ट्री ज़्यादा दूर नहीं ...

माँ और मिट्टी
द्वारा Ajay Kumar Awasthi
  • 306

मातृ दिवस पर..... माँ और मिट्टी एक बरगद का पेड़ पिछले दस सालों से मेरी छत में एक गमले में फल फूल रहा है । पहले वह एक छोटे ...

बाबा - पार्ट 2
द्वारा Junaid Chaudhary
  • 293

अम्मी इद्दत में बैठी थी।।बड़ी मान मनोव्वल ओर इलतेजाओ के बाद वो कुछ दिन की मोहलत देकर चले गए। इद्दत पूरी होते ही अम्मी ने कुछ जमा पेसो से ...

जीवन की कहानी
द्वारा Karan Somani
  • 496

  ग्रीष्म काल की बात है एक राहुल नाम का लड़का जो कि एक सवेरा गांव में रहता था | राहुल मानसिक रूप से काफी नकारात्मक था, राहुल का एक ...

M C S
द्वारा इंदर भोले नाथ
  • (16)
  • 1.1k

                     M C S                            Middle Class Student ...

बाबा - पार्ट 1
द्वारा Junaid Chaudhary
  • 366

दिन जुमेरात शहादत का महीना मोहर्रम से दो दिन पहले मेरी ज़िंदगी का सबसे अहम हिस्साजिस से शुरू हुआ मेरी ज़िंदगी का किस्सा     मेरे बाबामुझे वो दिन कभी याद ...

यशोदा माँ
द्वारा Sushma Tiwari
  • 373

उसका आना मेरे लिए जिंदगी की एक नई शुरुआत थी। "खुशी".. खुशी नाम दिया था मैंने उसे, पता नहीं उसका असली नाम क्या था.. पर जब वो मुझे मिली ...

आज से वो स्वतंत्र हैं
द्वारा Aromatic Saurabh
  • 400

       "आज से वो स्वतंत्र हैं" अभिनव बचपन से ही प्रकृति की सुन्दरता से प्रेम करता है।उसे पशु- पक्षियों और पेड़-पौधों से बहुत अधिक लगाव है।उसके लगाव ...

आउटसाइडर्स
द्वारा Amita Joshi
  • 435

"आउटसाइडर्स आर नाॅट अलाउड " मैडम ये पट्टिकाएं कितनी बनानी है ?", वर्मा जी के इस प्रश्न से सरिता कुछ दुविधा में पड़ गई ।कल ही उसने इस महाविद्यालय ...

मैनेजर साहब - 2
द्वारा The Real Ghost
  • 451

मैनेजर साहब नए ऑफिस मैं आये तो उनकी मुलाकात रीना नाम की कर्मचारी से हुई | समय के साथ दोनों के बीच घनिष्टता बढ़ती गयी | परन्तु किसी कारणवश ...

एलएस स्ट्रोन की भारत यात्रा
द्वारा Omprakash Kshatriya
  • 411

एलएस स्ट्रोन की भारत यात्रा ओमप्रकाश क्षत्रिय ‘प्रकाश’ वुहान से हवाईजहाज में सवार हुआ एस स्ट्रोन कोरोना वायरस ने कहा, '' एल स्ट्रोन ! क्यों न भारत की सैर ...

प्रेरणा
द्वारा जगदीप सिंह मान दीप
  • 1.7k

मैं जब बूढ़े बैल(भाई) को याद करता हूँ तो उसकी गाड़ी में बैठने का चाव,गाड़ी में बैठने के बाद मन में हवाई जहाज में बैठने जैसे भाव और वो ...

लॉक डाउन
द्वारा Deepti Khanna
  • 591

इस जमीन से इश्क था मुझे,यह चहल-पहल की दुनिया लुभाती थी मुझे । पुरवइया के साथ आंचल उड़ाती थी मैं कभी ,फिर अपने मुख से उसे ओढ़ मुस्कुराती थी ...

आत्मविश्वास
द्वारा Dinesh
  • (14)
  • 1.2k

"आत्मविश्वास से मिली जीत"जापान में कोई सो वर्ष पहले छोटे से राज्य पर पड़ोस के बड़े राजा ने हमला बोल दिया। हमलावर राजा बड़ा है। आक्रमक बहुत शक्तिशाली है। ...

कच्ची उम्र की समझदारी
द्वारा Monika kakodia
  • (14)
  • 847

जरूरी नहीं कि बड़प्पन एक उम्र के बाद ही आये ,समय और परिस्थिति व्यक्ति को समय से पहले ही परिपक्व कर देते हैं

कर्तव्य
द्वारा Rajesh Maheshwari
  • 632

कर्तव्य   एक गरीब महिला अपने बेटे के साथ नदी से लगी हुई रेल्वे लाइन के ब्रिज के पास झोपड़े में रहती थी। एक दिन रात में दो बजे ...

चापलूसी
द्वारा Rajesh Maheshwari
  • 678

                            चापलूसी     सेठ पुरूषोत्तमदास शहर के प्रसिद्ध उद्योगपति थे। जिन्होने कड़ी मेहनत एवं परिश्रम से अपने उद्योग का निर्माण किया था। उनका एकमात्र पुत्र राकेश अमेरिका से ...

मानवीयता श्रेष्ठ धर्म
द्वारा Rajesh Maheshwari
  • 589

मानवीयता श्रेष्ठ धर्म   जबलपुर विकास प्राधिकरण के पूर्व अध्यक्ष और भारत सरकार में अस्सिटेंट सालिसिटर जनरल के पद पर अपनी सेवाएँ दे चुके श्री राशिद सुहैल सिद्दीकी ने ...

सच्चा सैल्यूट
द्वारा Mohit Trendster
  • 487

सर्दी का एक शांत दिन। इस मौसम में तापमान और अपराध काफी कम हो गये थे। वार्सा जंगली देहात में नियुक्त हुए नये थानेदार बिमलेश शर्मा ने फाइलों में ...

धैर्य
द्वारा Seema Jain
  • (23)
  • 1k

मीनाक्षी अपनी तीसरी मंजिल के फ्लैट की बालकनी में कुर्सी पर बैठी नीचे पार्क को देख रही थी। एक भी बच्चा या बड़ा नजर नहीं आ रहा था। उसे ...

कर्मफल
द्वारा Rajesh Maheshwari
  • 591

कर्मफल   डा. श्याम शुक्ल 75 वर्ष, रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय जबलपुर में विभिन्न महत्वपूर्ण पदों पर कार्यरत रहे है। वे अभी भी भारतीय बाल कल्याण परिषद, नई दिल्ली एवं ...

आत्मा अमरधर्मा
द्वारा Rajesh Maheshwari
  • 460

आत्मा अमरधर्मा   श्री आर. आर सिंघई 85 वर्ष वन विभाग से सेवानिवृत्त है। उन्होंने जैन धर्म, सनातन धर्म, भक्ति साहित्य के साथ, अंग्रेजी साहित्य का भी गहन अध्ययन ...

शक्तिला
द्वारा Meenakshi Singh
  • (12)
  • 756

आज पूरी रात ठीक से सो नहीं पाई शक्तिला, नींद आती भी कैसे ! हंसती खिलखिलाती, जीवन के उमंगों से भरपूर, वह मासूम सी लड़की कब बचपन की दहलीज ...

कैंसर – निराशा से बचें
द्वारा Rajesh Maheshwari
  • 469

कैंसर – निराशा से बचें   डा. ईश्वरमुखी को मई 2018 में 85 वर्ष की अवस्था में कैंसर हो गया। जब रोग का पता लगा वह थर्ड स्टेज पर ...