इंतजार प्यार का - भाग - 22 Unknown Writer द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इंतजार प्यार का - भाग - 22

तो यह सुनने के बाद सनाया के फेस में एक स्माइल आ जाती है और वो रावी को thank you bolti हे। लेकिन कुछ ही पल बाद उसकी स्माइल भी उसके फेस चली जाती है और उसकी जगह एक दर्द ने ले लिया था। यह देखकर रावी भी पूरी तरह से शौक और जाति और उस पूछती है कि क्या हुआ तो इतनी दुखी क्यों हो गई तो सनाया उसको विक्रम की बातों के बारे में बता दिए तो रावी भी यह सुनकर शौक हो जाती है। अभी बोल दिया तूने सच का विक्रम भाई ने बोला है तो उसके पास्ट में कुछ गलत जरूर हुआ होगा लेकिन तू कोशिश कर लेना मुझे तेरे ऊपर पूरा भरोसा है कि तू जरूर उसको जरूर अपने प्यार में बांध लेगी। ये सुनने के बाद सनाया के फेस में भी एक स्माइल आ जाती है। फिर वह उन सब बातों को इग्नोर करके अपने शॉपिंग पर ध्यान देने लगती है। अगले 1 घंटे तक सर्फिंग करने के बाद दोनों की शॉपिंग कंप्लीट हो जाती है। फिर सनाया रावी को डिनर करने के लिए बुलाती है। तो रावी भी खुशी-खुशी उसकी बात मान जाती है। फिर दोनों पास के हीं रेस्टुरेंट में डिनर करती है। फिर सनाया रवि को उसके घर छोड़कर वहां से अपने घर चली जाती है।
अगले दिन सुबह
सब लोग कॉलेज जाते हैं। कॉलेज जाने के बाद वहां पर सब लोग अपने प्रेशर के पार्टी की तैयारियों की बारे में और अपनी शॉपिंग में बारे में और कौन किसका पार्टनर बन के जाएगा यह सब के बारे में सोच कर एक-दूसरे से बातचीत कर रहे थे। वही आज सनाया बेसब्री से क्लास रूम में अरब का वेट कर रही थी। क्योंकि उसको पता था कि आरव जरूर आज आएगा और वह भी फ्रेशर्स पार्टी में आएगा। तो सनाया आज थोड़ा ज्यादा एक्साइटेड हो गई थी। क्योंकि वह आरव से पूछना चाहती थी कि क्या वह और दोनों पार्टनर बन सकते हैं। यह सब सोचकर वह एकदम एक्साइटिड और उसका फेस एकदम टमाटर की तरह लाल हो रहा रहा। तभी सनाया को आरव के बिहेवियर के बारे में याद आता हे। जिस वजह से उसके फेस से स्माइल चली गई और उसकी जगह एक निराशा ने ले लिया। लेकिन फिर उसको बिक्रम की बात याद अति हे और उसको एक उम्मीद की किरण दिखाई देती हे जिस वजह से उसके फेस में फिर से एक स्माइल अजाती हे।तकरीबन 10 मिनट बाद आरव वहां पर आ जाता है। और फिर जाकर अपने डेस्क पर बैठ जाता है।
आज सारे के सारे लड़कियां उसको बस देखती रह जाती है। क्योंकि आरव ने आज ब्लॉक पेंट के साथ एक वाइट कलर की टी-शर्ट कैरी किया था। जिसमें वह आज काफी ज्यादा अट्रैक्टिव और हैंडसम लग रहा था। वही सनाया भी अपना नजर आरव के ऊपर से हटा नहीं पा रही थी। वही काफी सारी लड़कियां अरब के पास आने लगी और उस को फ्रेशर पार्टी के लिए अपना पार्टनर बनाने के लिए पूछने लगी। लेकिन आरव ने सब को इग्नोर करके उनको रिजेक्ट कर दिया तो सब लड़कियों का चेहरा एकदम से लटक गया। वहीं सनाया ने जब देखा कि सारे लड़कियां आरव के ऊपर डोरे डालने की कोशिश कर रही थी। और उसको अपना पार्टनर बना करने के लिए हर मुमकिन कोशिश कर रही थी। तो उसको बहुत जलन होती है और उसको उन लड़कियों पर बहुत तेज गुस्सा भी आता है। गुस्से से उसने अपने है का मुठ्ठी बना दिया और उसका फेस पूरी तरह से लाल हो गया। फिर भी वह जैसे तैसे करके अपने गुस्से को कंट्रोल कर करती है। वह जानती थी अगर वह अब उसको पूछेगी तो आरव उसको मना कर देगा। जिस वजह से पूरे क्लास के सामने उसको शर्मिंदगी उठानी पड़ेगी यह सोचकर और सोचती है कि बाद में आराम से आरव से पूछ लूंगी और अकेले में पूछूंगी तो सायद मान भी जाए इतना सोच कर वो अपना ध्यान पढ़ाई में लगाने लगी। और वहीं लड़कियों को रिजेक्ट करने के बाद आरव अपना बुक निकल कर पढ़ने लगा था। उसको उम्मीद थी कि सनाया उसको पूछे कि क्या वो उसका पार्टनर बन सकता है या फिर नहीं। लेकिन जब उसने देखा की सनाया तो अपने बुक पढ़ने में बिजी हे। तो आरव को निराशा हुई और उसके दिल में यह उम्मीद थी जरूर बाद में वो उसको जरूर पूछेगी। लेकिन जब उसके दिमाग में आया की जरूर उसका कोई पार्टनर बन गया होगा जिस वजह से वो मुझे पूछ नहीं रही ये तो आरव को अब सनाया के ऊपर गुस्सा आने लगा था। लेकिन फिर भी उसने अपने गुस्से पर कंट्रोल किया और अपने पढ़ाई पर ध्यान देने लगा। क्लास खत्म होने की बेल बजने के बाद सब स्टूडेंट एक-एक करके क्लास से बाहर निकल गए। और आरव भी रूम से बाहर निकलने लगा और सनाया भी उसके पीछे पीछे बाहर निकले लगी। थोड़ी देर बाद तक उसके पीछे पीछे जाने के बाद जब उसने देखा की आस पास कोई भी स्टूडेंट्स नहीं है। तो उसने जल्दी से आरव के हाथ को पकड़ा और पास में हीं एक खाली कमरे में खींच कर ले लिया।
उसका इस तरह का व्यवहार देखकर आरव अब फिर से शॉक हो जाता है। और वह सनाया की और घूर घूर कर देखने लगता है। वह जितना शौक था अब उसको उतना ही गुस्सा आ रहा था। क्योंकि यह पहली बार नहीं था जब सनाया ने उसके साथ इस तरह का भी बिहेव किया था। तो उसने गुस्से से सनाया को देखने लगा। उसके गुस्से से घूरने से सनाया पहले तो थोड़ी देर के लिए अनकंफर्टेबल हुई। लेकिन फिर उसने अपने सर नीचे झुका लिया और उसको धीरे से और हिचकिचाते हुए बोली की आरव आई एम सॉरी वह मैं तुमसे कुछ बात करना चाहती थी। इस वजह से लाने पड़ा क्योंकि तुम मुझसे बात नहीं करते। और फिर वो इतना बोल कर चुप हो गई और आरव का जवाब सुनने के लिए उसकी और देखने लगी। लेकिन जब आरव ने उसको कोई भी जवाब नहीं दिया। और उल्टा उसको ही घूर घूर कर देखने लगा। तो सनाया ने आगे बोलना शुरू किया,“ वह बात ये है की मैं चाहती हूं कि तुम इस फ्रेशर्स पार्टी में मेरा पार्टनर बनो” यह सुनने के बाद भी आरव कुछ रिएक्ट नही करता वो बस उसकी और गुस्से से घूर घूर कर सनाया की ओर देखने लगा लेकिन उसके दिल में एक खुशी होती है। क्यूं की उसको अब तक लगा था की सनाया को कोई पार्टनर मिल गया होगा लेकिन अब उसको पता चला की सनाया ये सब के सामने कहने में झिजकती हे। लेकिन इस खुशी की बारे में उसको अभी तक पता नहीं चला था उसने उसकी ओर देखा और बोला,“ नहीं मैं फ्रेशर्स पार्टी में किसी का भी पार्टनर नहीं बनने वाला” यह सुनकर फिर से सनाया उसको रिक्वेस्ट करते हुए बोलती है प्लीज मेरे पार्टनर बन जाओ इस फ्रेशर्स पार्टी के लिए। लेकिन यह सुनने के बाद भी आरव उसको मना कर देता है। इस जिस वजह से सनाया का फेस उतरा हुआ लगने लगा था। और फिर उसने उसको और भी ज्यादा रिक्वेस्ट करने लगी। जिस वजह से आरव मान गया। एक और कारण ये भी था की उसको सनाया की वो उतरा हुआ फेस बिल्कुल भी अच्छा नहीं लग रहा था। और उसने सनाया से बोला कि ठीक है। मैं सिर्फ तुम्हारा पार्टनर बन के अंदर तक ही जाऊंगा। और वहां से तुम तुम्हारे रास्ते और मैं मेरे रास्ते इतना सुनने के बाद सनाया की आंखों में चमक से आ जाति हे और उसने उसको ओके बोला और फिर दोनों वहां से अपने अपने घर की ओर चले गए।
ऐसे ही एक दूसरे के साथ हंसी मजाक फ्रेशर पार्टी के लिए तैयारी यह सब करते हुए 1 हफ्ते गुजर गए। आज फ्रेशर्स पार्टी था जिस वजह से पूरे कॉलेज को अच्छी तरह से सजाया हुआ था। और चारों और बैनर लगा हुआ था कि फ्रेशर्स पार्टी। और आज सुबह से ही सीनियर स्टूडेंट्स ने अपने जूनियर्स के लिए यह पार्टी अरेंजमेंट में लग गए थे ऐसे ही पूरे के पूरे दिन में वह लोग काफी सारे टास्क रेडी किए थे और आपने आपने काम में ध्यान दे रहे थे।
शाम को 6:00 बजे
सारे के सारे स्टूडेंट्स अपने अपने पार्टनर के साथ कॉलेज के अंदर आने लगे। और फिर सब लोग एक एक कर के अंदर जाने लगे। जहां की उन लोगों के लिए पार्टी का इंतजाम किया गया था। तकरीबन 6:30 बजे वहां पर एक लग्जरी कार आकर रूकती है। और उसकी गेट खुलने के बाद वहां ऑलिव ग्रीन कलर की एक सुंदर सी गाउन पहनी हुई और अपने बालों को जुड़ा बनाकर हाई पोनीटेल किए हुए एक सुंदर सी लड़की उतरती है। जिसने अपने चेहरे में भी काफी कम मेकअप किया था। जिसको देखने के बाद हर कोई बस उसको देखता ही रहता है। यह कोई और नहीं सनाया थी वह वहां से बाहर आकर अरब की वेट करने लगी थी। तकरीबन 15 मिनट के बाद आरव वहां पर आता है। आरव ने आज एक ब्लैक कलर के थ्री पीस पहना हुआ था। और उसने अंदर एक लाइट येलो कलर की शर्ट पहनी हुई थी जिसमे वो किसी भी मॉडल से कम नहीं लग रहा था। जिसके साथ वो काफी हैंडसम लग रहा था। जिस वजह से सारे के सारे लड़कियां उसको देख रही थी और वही सनाया की तो नजर आरव से हट ही नहीं रही थी। वह बस आरव को ऐसे हीं देखे जा रही थी। उसको ऐसे देख कर आरव अपने मन हीं मन में मुस्कुराता है। और उसके पास आता है। और धीरे से उससे बोलता है अंदर नहीं चलोगी। तो सनाया अपने होश में वापस आती है। फिर दोनों मिलकर अंदर जाने लगते हैं। उन दोनों को अंदर जाते हुए देखने के बाद सारे के सारे बच्चे होटिंग करने लगे। क्योंकि वह लोग एक दूसरे के साथ काफी अच्छे लग रहे थे। जैसे कि मेड फॉर ईच अदर यह सब सुनकर जहां आरव को थोड़ा अजीब लग रहा था। वही सनाया की दिल में खुशी की फव्वारे फूट रही थी। और उसके चेहरे में एक अलग तरह से ग्लो कर रही थी। और वह जरा शर्मा भी रही थी यह सब सुन सुनकर। जब दोनो गेट खोल कर अंदर जाने लगे तो उन दोनों को देखकर वहां के सारे के सारे लड़के और लड़कियां बस उनको देखते ही रह गई क्योंकि वह लोग आज किसी राजकुमार और राजकुमारी से कम नहीं लग रहे थे। उन दोनों को वहां पर देखकर काफी सारे लड़के और लड़कियां जेलस भी हो रही थी वही आदित्य तो आरव को सनाया के साथ देखकर गुस्से से उबल रहा था। वह अपने मन हीं मन में सनाया के लिए कुछ प्लान करता है। और पास में खड़ा हुआ एक वेटर को अपने पास बुला कर उसको कुछ पैसे देकर उसको कुछ इंस्ट्रक्शन देता है। जिस पर वेटर ने अपना सर हैं में हिला कर वहां से चला जाता है। यह सब देखकर आदित्य के फैस में एक डेविल स्माइल आ जाती है। और वह अपना ड्रिंक एंजॉय करने लगा। वही अंदर आने के बाद सनाया अपने दोस्तों के पास चली गई और आरव भी जाकर शिशिर के साथ बातचीत करने लगा। वही थोड़ी देर बाद उनके सीनियर्स रूम में एंटर करते हैं और सीनियर को देखने के बाद काफी बच्चे एक्साइटेड हो गए और काफी बच्चे डरने लगे क्योंकि वह लोग जानते थे कि आज उनको सीनियर्स कुछ टास्क देने वाले थे। यह सोच सोच कर उनको डर लग रहा था वहीं सीनियर आने के बाद पूरे जगह को स्कैन करते हैं और देखते हैं कि सारे के सारे स्टूडेंट्स आ गए हैं।
सीनियर्स में से काफी लड़के जब सनाया को देखे तो उनके आंखों में चमक अगायी। और उनमें से एक लड़का जो की दिखने में अच्छा था और इसके कपड़ो को देख कर कोई भी बता सकता था की वो कोई अमीर परिवार का बचा हे। उसने जाकर सनाया को प्रपोज कर दिया ये देखने के बाद सब शॉक हो जाते हे। लेकिन आरव गुस्से से आग बबूला हो जाता हे। वहीं सनाया ने उसको रिजेक्ट कर दिया जब ये बाकी सीनियर्स देखे तो अनकोन भी सनाया को प्राइस करने के लिए आगे बढ़े। लेकिन जब उनको पता चला कि वह आरव का पाटनर है उन्होंने अपना आइडिया वहीं पर drop कर दिया। और पार्टी को आगे बढ़ाने लगे। वही आरव के दोस्त भी उन सीनियर्स में से एक थे उन्होंने काफी बच्चों को बुलाकर उनको कुछ टास्क दिया जैसे किसी को डांस करने के लिए किसी को गाना गाने के लिए किसी को मिमिक्री करने के लिए किसी को कुछ और और किसी किसी कपल को एक साथ डांस करना है। यह सब देखकर सब काफी एंजॉय कर रहे थे। वहीं अब बारी थी सनाया और आरव की इन दोनों को देखकर आपके दोस्तों के फेस में एक evil स्माइल आ गई और उन्होंने आखिर में आकर अनाउंस करते हुए बोलते हे की,“ so guise get ready for today's last and block buster dance so mr. Arav and miss sanaya come to the stage and performe a dance ”
तो क्या होता है आगे क्या आरव सनाया के साथ डांस करेगा और क्या क्या होता है फ्रेशर्स पार्टी में जान ने के लिए पढ़ते रहिए मेरा ही कहानी इंतजार प्यार का........
To be continued........
Written by
Unknown writer

रेट व् टिपण्णी करें

Usha Dattani

Usha Dattani 6 महीना पहले