इंतजार प्यार का - भाग - 20 Unknown Writer द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इंतजार प्यार का - भाग - 20

तभी विक्रम और सूरज जा कर उसको वहां से उठाकर लाते हैं। फिर उसको साइड में शांति से बैठाते हे। तभी आदित्य वहां से खड़ा होता है। वो खड़े होते समय थोड़ा लड़खड़ा भी रहा था। वो खड़ा होते हुए गुस्से से बोलता हैं की तुमने मुझे पिटवा के बिल्कुल भी अच्छा नहीं किया सनाया अब देखो मैं क्या करता हूं। और कौन है वह क्या तुम्हारा बॉयफ्रेंड है जो तुम्हे प्रपोज करने पर इतना गुस्सा हो गया। वो अब इतना ही बोला था कि आरव उसकी बात सुनने के बाद और भी ज्यादा गुस्सा हो जाता हे और गुस्से से उसकी ओर बढ़ने लगता है। लेकिन सूरज और बिक्रम उसको पकड़ कर वहां रोकने की कोशिश करते हे। लेकिन तभी सनाया का जवाब सुनकर एकदम से दंग रह जाता है। और एक दम स्टेच्यू की तरह खड़ा हो जाता हे। क्योंकि सिर्फ वह नहीं पूरे का पूरे कैंटीन में खड़े हुए हर इंसान यहां तक की आरव के दोस्त और खुद आदित्य भी शॉक हो जाता हे। क्यूं की वो सनाया से कभी भी ऐसे जवाब की उम्मीद बिल्कुल भी नही किया था।
जब आदित्य ने सनाया से पूछा कि क्या आरव उसका बॉयफ्रेंड है। कैंटीन में खड़े सब लोग आरव और सनाया की और घूर घूर कर देखने लगे क्योंकि वह भी जानना चाहते थे कि क्या आरव सनाया का बॉयफ्रेंड है। क्योंकि सनाया पूरी कॉलेज की सबसे सुंदर और रिच लड़की है। जिस वजह से काफी सारे लड़के उसको अपने गर्लफ्रेंड बनाने के लिए लगे थे लेकिन कोई भी उसका बॉय फ्रेंड बन ने में सक्सेसफुल नहीं हो पाया। सनाया ने एक टेड़ी स्माइल देखकर आरव की ओर देखने लगी और फिर आदित्य की ओर देखते हुए बोली कि हां वह मेरा बॉयफ्रेंड है इससे तुम्हें क्या प्रॉब्लम है। यह सुनने के बाद सबके आंखें बड़ी बड़ी हो गई और अपना मुंह खोले बस आरव और सनाया की ओर देखने लगे यहां तक कि खुद आरव शॉक हो कर सनाया की ओर देखने लगा। क्योंकि उसने बिल्कुल भी उम्मीद नहीं थी की सनाया ये जवाब देगी । और वह ये बात अच्छे से जान रहा था इस समय सनाया बस उसका नाम लेकर इस पंगे से निकलना चाहती है। वहीं यह सुनकर तो आदित्य का गुस्से के पारा और ज्यादा हाई हो गया और और भी ज्यादा गुस्से से सनाया की ओर देखने लगा वह आगे कुछ बोलता तभी उससे सनाया बोलती है की जल्दी से निकल जा यहां से तुझे कितनी बार में रिजेक्ट करो यह सुनने के बाद तो आदित्य को इतना ज्यादा इंसल्ट फील हुआ कि उसका फेस पूरी तरह से लाल हो गया और शर्म के मारे वहां से चला गया। लेकिन वह अपने दिल ही दिल में इन दोनों को बहुत कोश रहा था। और उनको सबक सिखाने के लिए प्लान बनाने लगा। वही यह जाने के बाद की आरव और सनाया कपल हे। आरव के दोस्त आरव और सनाया को घूर घूर कर देखने लगे। क्योंकि उनको यह चीज की कतई उम्मीद नहीं थी कि वो एक कपल हो सकते हैं क्योंकि उनको पता था की आरव कभी भी लड़कियों को अपने as pas tak भटकने नहीं देता था। जब सनाया की प्लान आरव को समझ आया तो एक दम गुस्से से उबलने लगा। वो अभी गुस्से से सनाया को कुछ बोलने के लिए आगे ही बढ़ रहा था कि तभी सनाया उसके पास आती है। और उसके हाथ पकड़ कर उसको खींचकर कैंटीन की बाहर की तरफ ले जाती है। यह देखकर तो वहां पर खड़े हर एक यहां तक कि खुद आरव पूरी तरह से शॉक हो गया और उसका माइंड पूरी तरह से ब्लैक हो गया था। क्योंकि आज तो कोई भी लड़की उसको ऐसे बिहेव नहीं किया था।




सनाया आरव को खींच कर ले गई और उसको लेकर एक सुनसान गलियारे में खड़ी हो जाती है। वहां खड़ी होने के बाद वहां आरव की ओर देखने लगती है। जो कि उसको अभी भी गुस्से और शौक के मिले-जुले एक्सप्रेशन के साथ देख रहा था। यह देखने के बाद वह अपना सर झुका लेती है। और आरव उसको गुस्से देखते हुए बोलता है यह क्या है तुमने अंदर क्या बोला और क्यों बोला और मुझे इसका एक प्रॉपर एक्सप्लेनेशन चाहिए। यह बोलने के बाद उसने सनाया की ओर थोड़े गुस्से से देखने लगा। वही सनाया उसके ऐसे बोलने से थोड़ी देर के लिए डर गए लेकिन फिर भी खुद को संभालते हुए बोलती है कि आरव प्लीज मुझे माफ कर दो मुझे बोलना ही पड़ा वो मेरे पापा के दोस्त का बेटा है जिस वजह से मैं उसको कुछ ज्यादा बोल नहीं पति। पर तुमने तो खुद ही देखा है मैं उस आदमी को कभी नहीं छोड़ती जो की लड़कियों के साथ बदतमीजी करें। मैं खुद उसको मारता हूं। मैं आज उसको मेरे हाथ पकड़ने पर कुछ भी नहीं बोल शकी। मैं उसको आज मार नहीं सकता था वह मेरे पापा का दोस्त का बेटा था। और उसकी बाते मेरे पापा भी काफी मानते हैं जिस वजह से मैं उसके ऊपर हाथ नहीं उठा सकती थी। जिस वजह से मुझे ऐसे रहना पड़ा प्लीज मुझे माफ कर दो मेरे पास इसके अलावा कोई भी रास्ता नहीं था। यह सुनने के बाद अरब को थोड़ी शांति मिलती है। और उसकी एक्सप्रेशन काफी हद तक नॉर्मल हो गया था। लेकिन फिर जब उसको याद आया की सनाया ने उसको उसे किया है। ये याद आने के बाद उसको गुस्सा आ जाता हे। और वो उतने हीं गुस्से से बोलता है तो तुमने किसी और को भी अपना बॉयफ्रेंड बना लेता मुझे क्यों अपना बॉयफ्रेंड बना कर इस मैटर में घसीटा मैंने क्या किया था। तो उसने थोड़ा देर हिचकिचाते हुए आरव से बोलती है कि तुमने उसको मारा था जिस वजह से वह तुम्हारे साथ कुछ गलत कर सकता था। जिस वजह से मैंने यही बोल दिया कि तुम ही मेरे बॉयफ्रेंड हो। यह सुनने के बाद आरव गुस्से से उसकी और देखने लगता है। और बोलता है कि अगर तुम्हारी किसी ने हेल्प किया तो तुम उसको अपना बॉयफ्रेंड बना लोगी यह कौन सी बात है। उसकी ऐसी बात सुन ने के बाद सनाया को एहसास होता है की वो कुछ गलत बोल दिया हे। वो तो बस जानना चाहती थी की आरव उसको पसंद करता है या फिर नहीं लेकिन अब दाव उसकी ऊपर हीं उल्टा पड़ गया। तो उसने उसको रिक्वेस्ट करते हुए बोलती है प्लीज मुझे माफ करदो मुझे पता था की तुम जरूर मेरी मदद करोगे इसी लिए मेने बोल दिया। ये सुन ने के बाद अरब उसकी और अपनी एक भाऊ उठा कर देखता हे और उससे पूछता है की ये तुम्हे कैसे पता। तो सनाया उससे बोलती हे की मुझे बिक्रम भैया ने बोला था।तो आरव अपना आंखों को सिकोड़ कर उसकी और देखने लगता है। फिर सनाया उसको रिक्वेस्ट करते हुए बोलती हे की प्लीज इस बारे में किसी को मत बताना वरना फिर से वो मेरे पीछे पड़ जाएगा और मुझे परेशान करता रहेगा। प्लीज मुझे माफ कर दो प्लीज इतना सॉरी बोल दिया अब तो मान जाओ प्लीज मुझे माफ कर दो यह सुनने के बाद आप कभी दिल थोड़ा-थोड़ा पिघलने लगा और उसने सनाया की और देखा और बोला की ठीक है। और फिर दोनों वहां से कैंटीन के अंदर फिर से चले जाते हैं और कैंटीन का माहौल अब काफी खुशनुमा हो गया था। ये देख कर कोई भी कह नही सकता था की अभी थोड़ी देर पहले यहां पर एक तगड़ा लड़ाई हुई थी।और हर कोई आराम से बैठकर एक दूसरे से बातचीत कर रहा था। और आपने अपना खाना खा रहे थे वही आरव के दोस्त टेबल के चारों ओर घेरा बनाकर एकदम शॉक्ड होकर अभी भी एक-दूसरे से को देख रहे थे। क्योंकि उनको अभी भी यह विश्वास नहीं हो रहा था कि आरव सनाया को अपना गर्लफ्रेंड बना सकता है। वो लोग ऐसे हीं बैठे थे कि कुछ ही मिनट बाद अब वहां पर आरव आजाता है। उसको देखकर सब उसको घूर कर देखने लगते हैं आरव भी समझ गया कि वह उन लोगों को क्यों घूर रहे हैं। उसने एक नजर अपने दोस्तों की तरफ देखा और फिर जाकर आराम से एक चेयर के ऊपर बैठ गया। बैठने के बाद वह अपने दोस्तों को सब कुछ सच-सच बताने लगा कि किस किस वजह से सनाया को उसको अपना बॉयफ्रेंड कहना पड़ा और क्यों यह सब नाटक हुआ। यह सुनने के बाद सब लोग और भी ज्यादा शौक हो जाते हैं क्योंकि वह लोग अच्छे तरीके से जानते थे उस दिन के बाद आराम किसी भी लड़की को इतनी आसानी से हेल्प नहीं करता या फिर माफ नहीं करता। और वो लोग ये भी जानते थे की सनाया ऐसे हीं किसी को भी अपना नही बताएगी। फिर भी कोई कुछ नहीं बोलता उसको और फिर सब लोग नॉर्मल हो जाते हैं और फिर कुछ खाकर आपने अपने क्लास रुम के लिए निकल कर चले जाते हैं।
वही ये खबर की आरव सनाया की boyfriend हे पूरे कॉलेज में आग की तरह फैल गई। और हर कोई यह सब जानने के बाद पूरी तरह से दंग खड़ा हुआ था। और वही जो लोग पहले आरव की और सिर्फ डर की भावना से देख रहे थे और वह लोग अब आरव को डर गुस्सा और जलन तीनों की भावना से देख रहे थे। क्योंकि वह लोग सनाया की बॉयफ्रेंड बनना चाहते थे। लेकिन यह आरब बन गया जिस वजह से सब लोग उसकी ओर घूर घूर कर देख रहे थे। वही जो बच्चे पहले और अब से डरकर कोई भी पंगा नहीं लेना चाहता था। अब काफी अमीर घर के बच्चे जो कि अपने पैसों के पर काफी उड़ते है फिर से आप आरव को नीचा दिखाने की और उसको सबक सिखाने प्लान बनाने लगे। क्योंकि वह लोग चाहते थे कि सनाया उनकी गर्लफ्रेंड बने लेकिन आरव ने उसको अपना गर्लफ्रेंड बन गया। और वो एक मिडिल क्लास फैमिली से बिलोंग करता है। लेकिन आरव इन सबको आज भी पूरी तरह से इग्नोर कर दिया और अपने टेबल में बैठ गया थोड़ी देर बाद ही सनाया को रूम आते हुए सब देखते हे। उसको आता हुआ देखकर सब उसकी और देखने लगे। लेकिन सनाया ने उन सबको इग्नोर किया और आने के बाद सीधा जाकर आरव के पास वाले बेंच पे बैठ गई। सब लोग और भी ज्यादा गुस्से से आरव की और देखने लेकिन उसको किसी से कुछ भी फर्क नहीं पड़ रहा था। उसने एक नजर भी सनाया की और देखा तक नहीं और बस अपने काम में ही लगा रहता है। यह देखकर हर कोई कंफ्यूज हो जाता क्योंकि वह लोग जानते थे कि आरव और सनाया एक कपल है। जिस वजह से उन दोनों का बैठना तो ठीक था। लेकिन उन लोगो को समझ नहीं आ रहा था। की आरव सनाया को क्यों इग्नोर कर रहा था। ये देख कर उनको लगा की इन दोनो के बीच कोई लड़ाई हो गई इस वजह से दोनों ने ब्रेकअप कर दिया यह सब सोचने के बाद सबकी आंखों में चमक आ जाती है और वह लोग फिर से सनाया को अपना गर्लफ्रेंड बनाने के लिए जुट जाते हैं।
तो आगे क्या होता है अब कॉलेज में क्या नया बवाल होने वाला है जानने के लिए पढ़ते थे ये मेरा एक कहानी इंतजार प्यार का........
To be continued.........


Written by
unknown writer

रेट व् टिपण्णी करें

Usha Dattani Dattani

Usha Dattani Dattani 6 महीना पहले