My Soul Lady - 6 Iffat fatma द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

Featured Books
शेयर करे

My Soul Lady - 6

तभी अंश अखिल के कमरे में गया उसे बुलाने के लिए तब अखिल अंश की बर्थडे पार्टी के लिए तैयार हो रहा था तभी अंश ने उससे प्यार से कहा मामू आप तो बहुत ही ज्यादा हैंडसम लग रहे हो मुझे लगता है आपको आज आपको मामी मिल ही जाएगी तो अखिल उसके बात पर हंसते हुए कहता है , , अंश तुम दिन-ब-दिन और बदमाश होते जा रहे हो तुम्हें यह सब चीजें सिखाता कौन है तो अंश प्यार से कहता है , , मामू और कौन सीखा सकता है पापा तू अखिल उसे प्यार से कहता है तुम्हारे पापा सच में नहीं सुधरेंगे

लेकिन तुम यह बताओ तुम मेरे कमरे में अभी क्या करने आए हो जब तुम्हारे सारे दोस्त नीचे हैं तो अंश कहता है , , मामू आप से बात करने के चक्कर में मैं तो भूल ही गया नीचे एंजेल दीदी आई है मेरा बर्थडे का केक लेकर आई है और किसी को ढूंढ रही है तो मैंने उन्हें कहा कि आप यही रुके मैं अपने मामू को बुला कर लाता हूं ।

तो अखिल उससे कहता है , , कौन एंजेल दीदी मेरा इंतजार कर रही है तो अंश कहता है , वह बहुत खूबसूरत है और मेरा केक लेकर आइए तो अगर आप तैयार हो गए हैं

तो आप जल्दी चलिए हमें केक भी काटना है इतना बोल कर अंश वहां से भाग जाता है और अखिल अपने मन में सोचते हैं आखिर कौन है यह लड़की एक ही दिन में अंश की चहेती बन गई चलो देखा जाए इतना बोल कर अखिल पार्टी में चला जाता है वहीं दूसरी तरफ सना वह केक टेबल पर रखने जाती है

तभी उसका ध्यान घर के बीच में लगे फैमिली फोटो पर जाता है जहां अखिल के साथ-साथ उसकी पूरी फैमिली मेंबर्स की फोटो लगी हुई थी और सना केक को अपने हाथ में लिए उस फोटो को देखने लगती है । तभी उसका ध्यान अखिल की फोटो पर जाता है जिसे देखकर वह चौक जाती है और खुद से कहती है पूरी दुनिया में तुझे इसी का घर मिला था आने के लिए अगर उसने तुझे यहां देख लिया ना सना तो पता नहीं तेरे साथ क्या होगा इसलिए जल्दी भाग यहां से और पताानहीं यह लडका बार बार मेेेेरे मकसद के बीच क्यों आ रहा है मेरा बस चलेेे तो मैं इसेेे यही मार दूं लेकिन फिलहाल तो मुझेेे यहां सेेे जाना होगा ।

सना इतना बोल कर वहां से भागने ही वाली होती है कि तभी अंश उसके पास आता है और उसको प्यार से कहता है एंजल दी आप यहां हो मैंने आपको कहां कहां नहीं ढूंढा और आप अभी तक मेरा केक हाथ में लेकर खड़ी है तो सना उसे प्यार से कहती है Ansh यह फोटो वाला इंसान आपके कौन है तो अंश प्यार से कहता है वह मेरे प्यारे और हैंडसम मामू है और मैंने उन्हें बता दिया कि आप आई हैं वह भी थोड़ी देर में आते होगे तभी सना का ध्यान सीढ़ियों से नीचे उतर रहे अखिल पर जाता है और वह घबराते हुए वहीं खड़ी रह जाती है और सोचने लगती है कि अब कैसे बचा जाए इससे । ।

और वह अंश को कहती है अंश देखो तुम्हारे मामू आ रहे हैं अब तुम भी जाकर खेलो तभी अंश सना से कहता है Angel Di आप यहीं रहना मामू आ रहे हैं मैं चलता हूं मेरे दोस्त मेरा इंतजार कर रहे होंगे इतना बोल कर अंश वहां से चला जाता है aur Sana परेशान वहीं खड़ी रहती है ।

तभी उसका ध्यान उसकी हाथ में रखे केक पर जाता है और उसे एक आईडी आता है और वह अपने बैग से एक्स्ट्रा क्रीम के पैकेट निकालती है और वह सारे क्रीम अपने चेहरे पर लगा लेती हैं जब वह यह करती है तभी अचानक अखिल वहां आ जाता है और उस लड़की को इस हालत में देखकर उससे पूछता है यह क्या तुम केक डिलीवर करने आई थी कि खुद केक बन कर आई थी तो सना थोड़ा घबराते हुए कहती है व..ह व..ह सर मैं यहां केक ही डिलीवर करने आई थी

वह मैंने देखा कि आज बच्चे का जन्मदिन है तो मैंने सोचा कि मैं अपने ऊपर ही केक लगा लेती हूं तो अखिल मन में सोचता है कितनी पागल लड़की है कि केक खुद पर ही लगा कर आ गई पता नही अंश इस को देखकर इतना खुश क्यू हुआ । तभी अखिल उससे कहता है तुमने डिलीवरी कर ली केक की तो तुम जा सकती हो तुम्हारा पेमेंट तुम तक पहुंच जाएगा तभी सना वहां से जाने लगती है लेकिन अचानक एक बच्चा उसे गलती से धकेल देता है और जब अखिल यह देखता है तो वह उसे बचाने की कोशिश करता है और उसकी कमर को पकड़ लेता है जिससे सना गिरने से बच जाती है लेकिन तभी अखिल मिस बैलेंस हो जाता है और सना को लेते हुए जमीन पर गिर जाता है जिसकी वजह से अखिल के होठ सना के होठों को टच कर जाते हैं जिससे दोनों की आंखें फटी की फटी रह जाती है और तभी सना की आंखें लाल होने लगती हैं जिसकी वजह से सना गुस्से से अखिल को अपने से दूर धकेल देती है और और उससे कहती है तुम में शर्म नाम की चीज नहीं है क्या ?

मैं बिल्कुल सही ही सोचती हूं तुम जैसे लड़के कभी नहीं सुधर सकते लड़की देखी नहीं कि बस छूने का बहाना ढूंढते हो तुम अमीरों से तो अच्छी हम middle क्लास लोग हैं जो थोड़े में भी खुश रहने की कोशिश करते हैं तभी अखिल गुस्से से कहता है ओए मैडम तुम्हें कोई गलतफहमी हुई है मैंने यह सब जानबूझकर नहीं किया ऊपर से मैंने तुम्हें गिरने से बचाया और तुम मुझ पर ही इल्जाम लगा रही हूं अब तो भलाई का जमाना ही नहीं रहा भला कर के भी लोग चार बातें सुना देते हैं तभी सना गुस्से से कहती है मतलब अभी जो तुमने 2 सेकंड पहले किया वह भलाई थी तब तो कभी वाला मत करना तुम लोग किसी को उससे तो तुम्हारा ही फायदा हो रहा है इतना बोल कर सना वहां से चली जाती है ।

उसके जाते ही अखिल वहीं खड़े खड़े गुस्से से उसको देखता रहता है और वह भी परेशान हो जाता है तभी आयुष उसे हंसते हुए कहते हैं उसे इतना मत घूर वैसे भी मुझे बहुत गुस्से में लग रही हैं तो अखिल उसे गुस्से में कहता है , अपने बकवास बंद कर और वह जो कुछ भी हुआ " इट वास एन एक्सीडेंट " मैंने कुछ भी जानबूझकर नहीं किया तो आयुष हंसते हुए कहते हैं मुझे पता है भाई तू ने जानबूझकर नहीं किया लेकिन तू उसे इतना घूर कर क्यों देख रहा था आयुष और अखिल की बातें चली ही रही होती है तभी अंश वहां आता है आता है और प्यार से कहते हैं मामू और पापा जल्दी चलो ना अब केक काटने का वक्त हो रहा है और आपने अभी तक मुझे मेरा सरप्राइस भी नहीं दिया तो आखिल उसके पास जाता है और उससे प्यार से कहता है हां अंश मैं नहीं भूला तुम्हारा सर प्राइस चलो अब केक काटते हैं उसके बाद मैं तुम्हारा सरप्राइस तुम्हें दे दूंगा ।