मे और मेरे अहसास - 26 Darshita Babubhai Shah द्वारा कविता में हिंदी पीडीएफ

मे और मेरे अहसास - 26

दिल की सजावत हो तुम l
आँखों की चमक हो तुम ll

हाल दिल का कौन समझेगा l
बातों की जान हो तुम ll

  *******************************************

एक रोज़ रंग लाएगी फ़ाक़ा मस्ती अपनी l
एक रोज़ गिनती होगी दिवानों मे अपनी ll

  *******************************************

टूटा हुआ जरूर हू, बिखरा नहीं हू l
जुदा हुआ जरूर हू, बिछड़ा नहीं हू ll

प्यार के मामले में नादाँ ही ठहराया l
लुटा हुआ जरूर हू, बिखरा नहीं हू l

बात अंजाम तक नामुमकिन हो गई है l
रूठा हुआ जरूर हू, बिखरा नहीं हू ll

  *******************************************

एक वो ग़ालिब थे,जीने से पहले मर  गये l
एक हम हैं मरने से पहले जी कर जाएंगे ll

  *******************************************

तुम्हें ही सोचते रहते हैं हम रात दिन क्यों l
बेरोजगारी का है ये असर या बेक़रार है ll

  *******************************************

सुंदरता देखने वाली नजर में होती है l
भव्यता बनाने वाले हाथों में होती है ll

  *******************************************

जाना चाहो तो चुपचाप चले जाना l
अपनी मजबूरियाँ हमे ना गिनाना ll

  *******************************************

खुदाया हमारे जनाजे को हाथ तक ना लगाना तुम l
कही तुम्हारे स्पर्श से जिंदा हो गये तो बदनाम होगे तुम ll

  *******************************************

टूटा है तो जोड़ लेगे l
रूठा है तो मना लेगे l
दूर है तो पास बुला लेगे l
गया वक्त नहीं है के वापस ना आ सके l
हम उन्हें दिल से लगा लेगे ll

  *******************************************

मुहब्बत मे तेरी बहोत कुछ पाया मेंने l

जब दिल पे हाथ रखो और वो ज़ोरों से धड़कने लगे l
तो समज लेना अभी भी तेरा प्यार जिंदा है दुनिया में ll

  *******************************************

ये प्यार नहीं तो क्या है l
हमारी एक छींक से l
ज़ुकाम तुम्हें हो गया ll

  *******************************************

अजनबी को हमसफ़र बनाया है l
आज दिल-ए-नादां को सजाया है ll
प्यारी याद को गले से लगाया है ll

  *******************************************

जिंदा रहने के लिए हसरतें पालना बहोत जरूरी है l
प्यार मे प्रेमियो को रोज मिलना बहोत जरूरी है ll

  *******************************************

जब से तुम्हें देखा है दिल तेरे नाम हो गया है l
कल तक मेरा था आज से तेरे नाम हो गया है l

  *******************************************

तुम्हारी अदा ने कर  दिया हम से इज़हार-ए - मोहब्बत  l
बोल कर नहीं बता सकते तो खतमे कर दो इश्क-ए - इज़हार ll

  *******************************************

टूटकर चाहने वालो का अकाल पड़ा है l
आशिकों के दिल का कंकाल पड़ा है ll

  *******************************************

नजरों के वार से मार डालो l
फूलो से वार करना बंध करो ll

  *******************************************

पल इस पल सभी साथ चलते हैं l
उम्रभर कोई साथ नहीं चलता है ll

  *******************************************

कहने को जहां मे सभी अपने है l
ताउम्र  कोई साथ नहीं रहता है ll

  *******************************************

इतना भी ना रूठना के मना ના सकू l
इतना भी दूर ના जाना के बुला ના सकू ll

  *******************************************

माना के सब से खूबसूरत दिल रखते हो l
पर मुझ जैसा चाहनेवाला ना मिलेगा तुम्हें ll

  *******************************************

मे जी रहा था एक यकीन के साथ l
वो है भुलाते चले गए प्यार को मेरे ll

  *******************************************

एक बार पुकारते तो सही l
अभी भी दिल में धड़क रहे हो तुम ll

  *******************************************

खोई कश्ती को किनारा मिल गया l
साथ जीने को सहारा मिल गया ll

  *******************************************

लहर तुम्हें छूकर टकराई l
आज भी दिल में महक रहे हो तुम ll

  *******************************************

 

रेट व् टिपण्णी करें

Neha Awasthi

Neha Awasthi 1 साल पहले

અધિવક્તા.જીતેન્દ્ર જોષી Adv. Jitendra Joshi
Asha Saraswat

Asha Saraswat मातृभारती सत्यापित 2 साल पहले

Parul

Parul मातृभारती सत्यापित 2 साल पहले