कहानी संग्रह - 10 - भूतों का गांव Shakti Singh Negi द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

कहानी संग्रह - 10 - भूतों का गांव

मुझे याद आती है उस समय की जब मेरे पास एक पैसा भी न था. शरीर पर भी फटे पुराने कपड़े थे. लेकिन मन में एप्पल का मोबाइल लेने की इच्छा थी और एक महंगा लैपटॉप पाने की इच्छा थी. उस समय मैं दसवीं क्लास में पढ़ता था. घर में कोई कमाने वाला भी न था. इसलिए मैंने रात को कुली गिरी करने की सोची. मैं घर से काफी दूर पैदल जाता और भेष बदलकर कुली गिरी करता. दिन में मैं पढ़ाई करता.


कुछ ही समय में मेरे पास काफी रुपए हो गए. अब मैंने घर में ही एक अच्छी सी दुकान खोली और बाकी बचे पैसों से एप्पल का मोबाइल और लैपटॉप खरीद लिया. दुकान अच्छी चलने बैठ गई. धीरे धीरे मेरा नया मकान भी बन गया और नई कार भी आ गई. आपकी क्या राय है.मैंने गलत किया या सही.कृपया कमेंट में अपने विचार जरूर रखें .








हमारी अभी -2 नई शादी हुई थी. हमारे बच्चे नहीं हुए थे. सपने में मैंने देखा आप एक नन्ही सी परी मेरे बंगले का गेट खटखटा रही है. मैं खुशी-खुशी गेट खोल रहा हूं. वह छोटी सी बच्ची गेट खुलते ही मेरे गले लग गई. सपने में ही मेरे मुंह से निकला है मेरी जिंदगी मेरे घर आ जाना.


सुबह उठते ही बीवी ने बताया कि उसे लग रहा है कि उसे उल्टी जैसे हो रही है. मैंने डॉक्टर को दिखाया तो पता चला की मेरी बीवी पेट से है. कुछ महीने बाद मेरी बीवी ने एक सुंदर सी बच्ची को जन्म दिया. इस बच्ची की शक्ल उस सपने वाली परी से मिल रही थी.


मेरे मन में मुंह से निकला है मेरी जिंदगी तो आप मेरे घर आ ही गई.









एक बार मैं बहुत दिनों बाद अपने गांव वापस आया. मैं दिल्ली में रहता था और कई सालों बाद अपने गांव वापस आया था. मैं बचपन से ही एक बहुत सुंदर लड़की से प्यार करता था. आज मुझे उस लड़की की याद आ गई.


मैं अकेले ही उस लड़की के गांव की तरफ चल पड़ा. वहां मुझे सब कुछ पहले जैसा ही दिखाई दिया. मैंने उस लड़की से हाथों-हाथ शादी कर ली. शादी करने के बाद लड़की के घरवालों ने कहा कि उसे वह कुछ दिन बाद विदा करेंगे. मैं अकेले ही अपने घर वापस आ गया. जब मैंने अपने शादी की बात अपने गांव में की. तो सब लोग हैरत से मेरा मुंह देखने लगे.


एक बुजुर्ग व्यक्ति ने मुझसे कहा बेटा वह गांव तो कई सालों पहले भूस्खलन में दबकर खत्म हो गया था और वहां के सभी लोग मारे गए थे. तो यह कैसी अनहोनी बात कह रहे हो. मैं तुरंत अपने गांव के कुछ लोगों को साथ लेकर अपनी प्रेमिका के गांव गया तो वहां मुझे कोई भी न दिखाई दिया.


चारों तरफ मिट्टी पत्थर के बीच दबे टूटे-फूटे मकान दिखाई दिये. मैं समझ गया कि जिससे मेरी शादी हुई वह मेरी प्रेमिका नहीं बल्कि उसका भूत था. आपकी क्या राय है? मैं अब क्या करूं?









मैं नासा में एक वैज्ञानिक हूं. नासा ने एक अंतरिक्ष यान नए ग्रहों की खोज के लिए भेजा. उस यान में 20-25 आदमी थे. 20 - 25 आदमियों के ग्रुप का मैं लीडर था. कई प्रकाश वर्ष बीतने पर हम एक पीले ग्रह में पहुंचे.


मैंने यान के कैप्टन को उस ग्रह पर अपना अंतरिक्ष यान लैंड करने की इजाजत दी. उस ग्रह में सब कुछ पीला ही पीला था. वहां के लोग भी पीले ही थे. सब कुछ बड़ा सुंदर था. मुझे वहां की एक लड़की से प्यार हो गया. मैंने वही शादी कर ली.


आपकी क्या राय है? मैंने गलत किया या सही?








मैं एयरोप्लेन में जा रहा था. अचानक एयरोप्लेन क्रैश हो गया. मैं एक आदिवासी एरिया में गिर गया. आदिवासी गांव में लड़कियां बहुत थी. वह बहुत सुंदर थी. लेकिन उस आदिवासी गांव में पुरुष बहुत कम थे. जनसंख्या लगभग स्थिर थी. मैं बड़ी मुश्किल पर ठीक हुआ.


मेरी स्मार्टनेस देखकर उस आदिवासी गांव की लड़कियां मुझ पर फिदा हो गई. वहां के कानून के अनुसार मुझे 20-25 लड़कियों से शादी करनी पड़ी. लेकिन मैं बहुत खुश था.


आपकी क्या राय है? उन मासूम आदिवासी लड़कियों से शादी करके मैंने बुरा किया या भला? अपनी राय दीजिए.

रेट व् टिपण्णी करें

Shakti Singh Negi

Shakti Singh Negi मातृभारती सत्यापित 5 महीना पहले