pyaar ka zeher - 5 books and stories free download online pdf in Hindi

प्यार का ज़हर - 5

अरुन : यार मनीष भाई ये सर है या क्या है. कुछ और पता नहीं चल रहा है. अगर कोई काम रह गया होगा तो उसकी कोई वजह भी तो होगी ना ऐसे ही थोड़ी किसीने काम बाकी रखा होगा हद होती है. यार किसी भी बात की में तो कहता हूं. ऐसे लोगो का काम लेना ही नहीं चाहिए भाई हाथ धो के पीछे पड़ जाते है.

मनीष : नहीं नहीं यार चोटू सर ऐसे नहीं है पर वक़्त बहुत हो गया है. इस लिए गुस्सा हो गए है.

अरुन : ठीक है अब वो गया शांत हो जाओ.

《 कुछ देर बाद... 》

राज : हा अब हम घर आगाए तो देखो क्यूटी ये है. हमारा घर जिसमें हम रहेंगे ओके आपको पसंद आया क्या.

महेर : हा हमें ये घर पसंद है.

राज : ठीक है तो पहले चलो खाना खालेते है ठीक है. फिर आप मम्मी के साथ बैठना ठीक है.

महेर : जी भैया.

प्रणाली : अरे राज बेटा जाओ बहार जाकर देखो तो कोन आया है.

राज : हा मम्मी अरे आप आइए आइए अरे मम्मी पुलिस अयी है.

प्रणाली : पुलिस आयी है पर क्यू क्या हो गया भाई रुको में आती हूं.

राज : जी सर कहिए कैसे आना हुआ.

पुलिस : जी दरअसल हम इस लड़की के बारे में पूछताछ करने आए थे.

राज : अच्छा आप तब किधर गए थे जब ये लड़की अकेली रोड पर रो रही थी. अब आप अगाए और पूछताछ कर रहे है.

पुलिस : जी आप गलत मत समझिएगा हमें. और हमें सिर्फ यही बताए की इस लड़की ने कुछ बताया की नहीं कि इसके मम्मी पापा कोन है. और किधर से अयि है.

राज : जी नहीं सिर्फ ये बताया कि उसके मम्मी पापा अब नहीं रहे. वो एक हाद से में मारे गए और अब इसका इस दुनिया में कोई नहीं था तो हम अपने घर ले आए.

पुलिस : ठीक है. लेकिन आप इसकी सुरक्षित का पेपर का काम करवा लीजिएगा ठीक है.

राज : हा सर करवा लेंगे अगर इस लड़की को हम लाए है. तो बिल्कुल करवाएंगे इसकी सुरक्षा के लिये पेपर काम कारवा लेंगे. अपने नाम ताकि आगे जाके कोई सवाल न कर सके.

पुलिस : बहुत अच्छे अब हम चलते है. बस हम पूछताछ करने आए थे और ज्यादा कुछ नहीं.

राज : अरे इस्पेक्टर साहब चाई पी कर जाइए ना.

पुलिस : जी शुक्रिया फिलहाल ड्यूटी पे है. तो वहीं कर ने जाते है. फिर कभी आएंगे ती जरूर बैठेंगे चाई पीने अभी काम बहुत है. तो काम करना पड़ेगा ठीक है अब चलते है.

《 कुछ देर बाद... 》

स्वीटी : अरे हयाती कहा जा रही हो रुको तो मुझे पता है. तुम चुपके से कहा जा रही हो. राज से मिलने जा रही हो जाओ जाओ फिर देखो में तुम्हारे घर पे कैसे खबर पहुंचती हूं.

हयाती : अरे रुक ए ऐ रुको तो है. भगवान ये पागल लड़की क्या से क्या कर बैठेगी. मुझे रोकना ही होगा उसे वरना चली गए मेरे हाथ से तो बहुत बुरा हो जाएगा. रुको अरे अरे पकड़ लिया. अब बोलो कहा जा रही थी सवारी हा अब बोलो तो आगे से ऐसा करोगी हा.


आगे जान्ने के लिए पढते रहे प्यार का ज़हर और जुडे रहे मेरे साथ

अन्य रसप्रद विकल्प

शेयर करे

NEW REALESED