आगाज़-ए-सच्ची मोहब्बत। रामानुज दरिया द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

आगाज़-ए-सच्ची मोहब्बत।

आज हम अपने और अपने प्यार पर कुछ लाइनें लिखना चाहते हैं जो बातें बहुत दिनों से इस दिल में कैद करके रखी थी उसे आज हम शेयर करना चाहते हैं.. ..... ❤❤
ईश्वर से मेरी यही प्रार्थना है कि मेरे जैसा प्यार भगवान दुनिया की हर लड़की को दें, जैसे मुझे मेरा सच्चा प्यार मिला वैसे दुनिया की हर लड़की को सच्चा प्यार मिले,
मुझे नहीं लगता था कि मुझे भी जिंदगी में कभी सच्चा प्यार मिलेगा क्योंकि मुझे अपनी किस्मत से कोई उम्मीद नहीं थी लेकिन जब से उनसे मिले हैं,मुझे अपनी किस्मत पर भरोसा हो गया कि इतनी भी बुरी किस्मत लेकर हम नहीं आए हैं, इस दुनिया में कोई है जो हमारे लिए जी रहा है, कोई है जो सिर्फ मेरे लिए हंसता है मेरे लिए मुस्कुराता है।
उनके आने से पहले जिंदगी एकदम वीरान सी लगती थी ऐसा लगता था कि कोई इस दुनिया में मेरा है ही नहीं। लेकिन उन्होंने मेरी जिंदगी में कदम रखकर मेरी जिंदगी में रंग भर दिए इन आंखों ने सपने सजाना फिर से सीख लिए,,,, उन्होंने हमें यह एहसास दिलाया हमें बताया कि तुम बहुत खास हो, तुम एक आम इंसान नहीं हो दुनिया में तुमसे अच्छा कोई नहीं है खुद के लिए जीना सीखो,,
वो बहुत अच्छे इंसान हैं हमें नहीं लगता कि इस दुनिया में उनके जैसा कोई भी होगा। जब हम उनकी आंखों में देखते हैं ना तो हम सब कुछ भूल जाते हैं। हमें कुछ याद नहीं रहता कि मैं कौन हूं, क्या हूँ और कैसी हूं, कुछ याद नहीं रहता बस सिर्फ हमें वो याद रहते हैं और सिर्फ वही दिखाई देते हैं उनकी बातें हमेशा मेरे कानों में गूंजती रहती हैं।
जब हम उनकी आंखों में देखते हैं ना तो हमें अपनी किस्मत पर यकीन ही नहीं होता किस सच में ये मोहब्बत है, सच में इन आंखों में सिर्फ मेरे लिए इतनी मोहब्बत भरी है जो मेरे लिए कुछ भी कर गुजरने के को तैयार है। एक बार भी नहीं सोचते हैं, कुछ भी नहीं, किसी के बारे में भी नहीं। एक बार हम बस कुछ बोल दे तो वो उसे कर गुजरने के लिए हमेशा रेडी रहते है,,,
हम हमेशा सोचते थे कि अब इस जमाने में लोग चेहरा देखकर पसंद करते हैं और प्यार करते हैं इसका मतलब हमें पूरी जिंदगी में कभी प्यार नहीं मिलेगा लेकिन ऐसा नहीं हुआ। उन्होंने हमें हमारे चेहरे से नहीं हमें दिल से पसंद किया चेहरा तो उन्होंने बाद में देखा है...
उन्हें हमसे इतनी मोहब्बत हो गई कि हमारा चेहरा कोई मायने ही नहीं रखता है कि हम कौन हैं कैसे हैं क्या हैं। कुछ मायने नहीं रखता बस हम उनके लिए बहुत स्पेशल हैं, जान हैं हम उनकी। हर बार वो यही कहते हैं तुम तो मेरी जान हो और सच में इतना सुनते ही हम सब कुछ भूल जाते हैं। हमें तो कुछ याद ही नहीं रहता कि क्या हुआ है क्या नहीं कुछ फर्क ही नहीं पड़ता दुनिया क्या कहती है क्या सोचती है क्या बोलती है कोई मायने नहीं रखता, अगर कुछ मायने रखता है तो बस ये कि हम दोनों एक दूसरे के लिए जी रहे हैं। हां यह बात अलग है कि हम एक साथ नहीं रह सकते जब चाहे तब मिल नहीं सकते, जब चाहे तब देख नहीं सकते लेकिन हम दिल से जुड़े हैं। वो जब भी हमें याद करते हैं तो हमें एहसास होता है कि कोई हमें याद कर रहा है,,,, कहीं भी हों कुछ भी कर रहे हो हमें कैसे भी करके फोन तक पहुंचना है...और फोन ओपन करते ही उनका मैसेज मिलेगा,,,
हैलो जान क्या कर रहे हो, कहा हो आज, कितना टाइम हो गया बात नहीं की हो। तुम्हें मालूम है ना कि तुमसे बात किए बिना मेरा दिल नहीं लगता, काम में बिल्कुल भी मन नहीं लगता। थोड़ी देर बात कर लो ना उसके बाद करना जो कर रही हो,, अभी छोड़ दो सब कुछ जान, 2 मिनट बात कर लो। दर्शन दे दो, कितना टाइम हो गया आपको देखे नहीं हैं। मेरी जान कैसी है, वो हम से इतनी मोहब्बत करते हैं कि 2 घंटे भी बात किए बगैर नहीं रह सकते लेकिन हमेशा वो यही कहते हैं की जान तुम कभी किसी खतरे में मत पड़ना अगर तुम बात नहीं कर पा रही हो तो बात मत करना हम कैसे भी करके मैनेज कर लेंगे लेकिन तुम पर कभी कोई आंच नहीं आनी चाहिए। जो तुम्हारा मान सम्मान, इज्जत और दबदबा बना है ना ओ लोगों की नजरों में हमेशा बरकरार रहना चाहिए भले ही उसके लिए हमें कितनी भी जिल्लत क्यों न झेलनी पड़े।
1 दिन 2 दिन 10 दिन हम बात नहीं करेंगे कैसे भी करके हम मैनेज करेंगे लेकिन मुझे मेरी जान को सेफ रखना है और भी उससे पहले मुझे उसकी इज्जत का ख्याल रखना है।
उस पर कभी आंच नहीं आनी चाहिए, कोई भी उंगली ना उठा सके, वो हमसे इतनी मोहब्बत करते हैं कि उनका बस चले तो दुनिया की सारी खुशियां मेरे कदमों में लाकर डाल दें।
वह हमेशा हमें हंसते मुस्कुराते हुए देखना चाहते हैं बात करने के बाद पूछेंगे,कितना टाइम हो गया जान बात करते हुए? अगर हम बता दें 2 घंटे तो बोलेंगे 2 घंटे हो गए और हंसी कितनी बार? एक भी बार नहीं पैसे लगते हैं क्या हँसने में तुम्हारे,और उनकी इसी बात पर हम खिलखिला कर हंस देते हैं। वो बोलते हैं, हां ये हुई ना बात ऐसे हमेशा हंसते रहा करो, जान तुम हंसते हुए हमेशा बहुत अच्छी लगती हो। कितनी बातें लिखें , क्या लिखे उनके बारे में, जितना लिखे जितना बोले सब कम है, वो हमसे कितनी मोहब्बत करते हैं इसका इजहार करने के लिए दुनिया के सारे शब्द कम पड़ जाएंगे, वो शब्द ही नहीं बना है दुनिया में जिससे हम उनकी मोहब्बत बयां कर सकें।
कहां से लाऊं वह शब्द जो बता सके कि वो हमसे कितनी मोहब्बत करते हैं । क्या मायने रखते हैं हम उनकी जिंदगी में, ये सब उन्हें बोलने की जरूरत नहीं होती हम उनकी आंखों में देख कर ही सब पढ़ लेते हैं ,,,,, वो एक बहुत अच्छे लेखक हैं। शायरी, कविताएं , कहानियां सब कुछ बहुत अच्छी लिखते हैं। लेकिन हम जान कोई लेखक नहीं हैं हमें कुछ बोलना नहीं आता बस जो हमारे दिल में थी कुछ बातें वो मैंने लिख दि हैं आपके लिए ,सही है या गलत ये हम नहीं जानते बट जो हमारे दिल में था हम बोल दिए हैं ।
❤Love you jaan ❤
अभी हमारी स्टोरी खत्म नहीं हुई है। बहुत सी बातें हैं अभी हमारे बारे में, जो हमें लिखना भी और उनसे कहना भी है। अगर पूरा लिखे ना, तो एक ग्रंथ बन जायेगा लेकिन कहानी खत्म नहीं होगी।
हम अपनी बाकी फीलिंग्स बताएंगे आपको अगली पोस्ट में तब तक के लिए बाय जान
Love you jaan. Good night.
आज आशी प्रेम के धागे से जिंदगी के फटे हुए कपड़े की तुरपायी करने में लगी है और उतार दी है कागज पर, दिल को निचोड़ कर।

रेट व् टिपण्णी करें

रामानुज दरिया

रामानुज दरिया मातृभारती सत्यापित 9 महीना पहले

कहां से लाऊं वह शब्द जो बता सके कि वो हमसे कितनी मोहब्बत करते हैं । क्या मायने रखते हैं हम उनकी जिंदगी में, ये सब उन्हें बोलने की जरूरत नहीं होती हम उनकी आंखों में देख कर ही सब पढ़ लेते हैं