प्रसिद्ध हिंदी उपन्यास मुफ्त में PDF डाउनलोड करें

You are at the place of हिंदी Novels and stories where life is celebrated in words of wisdom. The best authors of the world are writing their fiction and non fiction Novels and stories on Matrubharti, get early access to the best stories free today. हिंदी novels are the best in category and free to read online.


श्रेणी
Featured Books

शशशशश...... धुंध में कोई राज है?? By Mini

मुंबई शहर.....

ये शहर बिजनेस और लाइम लाइट की नगरी है यहां देश के जाने माने बिजनेस टायकून ने अपने बिजनेस शिखर तक ले गया ऐसे ही रियल स्टेट बिजनेस टायकून"राजवीर राठौड़"महज...

Read Free

मैन एटर्स (मानव भक्षक ) By Jaydeep Jhomte

मेरी एकमात्र देखी गई कहानी मुझे वर्तनी परिवर्तन के बारे में कुछ भी पता नहीं था! मेरी एकमात्र देखी गई कोशिश....इसमें कुछ गलतियाँ हैं..इस कहानी में...लेकिन आप समज लिजियेगा

1:45 प...

Read Free

स्वयंवधू By Sayant

मैंने सुना था कि ज़िंदगी सभी को मौका देती है, यहाँ तक कि उसे भी जो इसके लायक नहीं होते। मैंने सोचा कि मेरे पास भी एक मौका है, लेकिन यह मेरा भ्रम था, वो आज मिटने वाला था...

"...

Read Free

सुसाइड पार्टनर्स By Nirali Patel

हा भई हा.......

सही पढ़ा आपने सुसाइड पार्टनर।

आप सोच रहे होंगे की यार लाइफ पार्टनर होता है, डांस पार्टनर भी होता है, और तो और अगर कोई दो व्यक्ति साथ में एक ही बिजनेस कर रहे ह...

Read Free

नजायज रिश्ते By Gurwinder sidhu

पोह की कड़कड़ाती ठंड में पसीना बहाती प्रीत प्यासी निगाहों से कमल की ओर ताक रही थी। कमरे में जलती मोमबत्ती भी शर्मा कर अपने आप बुझने लगी थी। कमल का हाथ पकड़ कर प्रीत अभी भी कमल से ब...

Read Free

मैं तो ओढ चुनरिया By Sneh Goswami

कोई भूखा मंदिर इस उम्मीद में जाय कि उसे एक दो लड्डू या बूंदी मिल जाय तो रात आराम से निकल जाएगी और वहाँ से मिले मक्खन मलाई का दोना तो जो हालत उस भूख के मारे बंदे की होगी , बिल्कुल व...

Read Free

तेरा मेरा ये रिश्ता By Saloni Agarwal

यह कहानी है अंश और सौम्या की। एक तरफ है हमारे कहानी के हीरो अंश सिंघानिया जो है सिंघानिया ग्रुप ऑफ कंपनी के सीईओ और साथ में माफिया वर्ल्ड के बादशाह जिन्हे सब डेविल के नाम से जानते...

Read Free

फागुन के मौसम By शिखा श्रीवास्तव

राघव और तारा, बचपन के पक्के दोस्त जिनकी दोस्ती का आधार बनी गेम पार्लर में खेली जाने वाली वीडियो गेम्स जिसके वो दोनों ही दीवाने थे। बचपन बीता और खेल की जगह ली कैरियर के प्रति उनकी च...

Read Free

यादों की अशर्फियाँ By Urvi Vaghela

में अकसर सोचती थी की अगर हम कोई अच्छा काम करे तो हमारे माता पिता एवम् परिवार वालो की कीर्ति तो बढ़ेंगी ही पर उन शिक्षको और दोस्तो का क्या जिसने भी हमारी सफलता में अमूल्य योगदान दिय...

Read Free

द सिक्स्थ सेंस.. By रितेश एम. भटनागर... शब्दकार

नोट- ये कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है, इसका किसी भी तरह से जीवित या म्रत व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है, इस कहानी को लिखने का उद्देश्य मात्र मनोरंजन है|

=====&...

Read Free

शशशशश...... धुंध में कोई राज है?? By Mini

मुंबई शहर.....

ये शहर बिजनेस और लाइम लाइट की नगरी है यहां देश के जाने माने बिजनेस टायकून ने अपने बिजनेस शिखर तक ले गया ऐसे ही रियल स्टेट बिजनेस टायकून"राजवीर राठौड़"महज...

Read Free

मैन एटर्स (मानव भक्षक ) By Jaydeep Jhomte

मेरी एकमात्र देखी गई कहानी मुझे वर्तनी परिवर्तन के बारे में कुछ भी पता नहीं था! मेरी एकमात्र देखी गई कोशिश....इसमें कुछ गलतियाँ हैं..इस कहानी में...लेकिन आप समज लिजियेगा

1:45 प...

Read Free

स्वयंवधू By Sayant

मैंने सुना था कि ज़िंदगी सभी को मौका देती है, यहाँ तक कि उसे भी जो इसके लायक नहीं होते। मैंने सोचा कि मेरे पास भी एक मौका है, लेकिन यह मेरा भ्रम था, वो आज मिटने वाला था...

"...

Read Free

सुसाइड पार्टनर्स By Nirali Patel

हा भई हा.......

सही पढ़ा आपने सुसाइड पार्टनर।

आप सोच रहे होंगे की यार लाइफ पार्टनर होता है, डांस पार्टनर भी होता है, और तो और अगर कोई दो व्यक्ति साथ में एक ही बिजनेस कर रहे ह...

Read Free

नजायज रिश्ते By Gurwinder sidhu

पोह की कड़कड़ाती ठंड में पसीना बहाती प्रीत प्यासी निगाहों से कमल की ओर ताक रही थी। कमरे में जलती मोमबत्ती भी शर्मा कर अपने आप बुझने लगी थी। कमल का हाथ पकड़ कर प्रीत अभी भी कमल से ब...

Read Free

मैं तो ओढ चुनरिया By Sneh Goswami

कोई भूखा मंदिर इस उम्मीद में जाय कि उसे एक दो लड्डू या बूंदी मिल जाय तो रात आराम से निकल जाएगी और वहाँ से मिले मक्खन मलाई का दोना तो जो हालत उस भूख के मारे बंदे की होगी , बिल्कुल व...

Read Free

तेरा मेरा ये रिश्ता By Saloni Agarwal

यह कहानी है अंश और सौम्या की। एक तरफ है हमारे कहानी के हीरो अंश सिंघानिया जो है सिंघानिया ग्रुप ऑफ कंपनी के सीईओ और साथ में माफिया वर्ल्ड के बादशाह जिन्हे सब डेविल के नाम से जानते...

Read Free

फागुन के मौसम By शिखा श्रीवास्तव

राघव और तारा, बचपन के पक्के दोस्त जिनकी दोस्ती का आधार बनी गेम पार्लर में खेली जाने वाली वीडियो गेम्स जिसके वो दोनों ही दीवाने थे। बचपन बीता और खेल की जगह ली कैरियर के प्रति उनकी च...

Read Free

यादों की अशर्फियाँ By Urvi Vaghela

में अकसर सोचती थी की अगर हम कोई अच्छा काम करे तो हमारे माता पिता एवम् परिवार वालो की कीर्ति तो बढ़ेंगी ही पर उन शिक्षको और दोस्तो का क्या जिसने भी हमारी सफलता में अमूल्य योगदान दिय...

Read Free

द सिक्स्थ सेंस.. By रितेश एम. भटनागर... शब्दकार

नोट- ये कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है, इसका किसी भी तरह से जीवित या म्रत व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है, इस कहानी को लिखने का उद्देश्य मात्र मनोरंजन है|

=====&...

Read Free