प्रसिद्ध हिंदी उपन्यास मुफ्त में PDF डाउनलोड करें

You are at the place of हिंदी Novels and stories where life is celebrated in words of wisdom. The best authors of the world are writing their fiction and non fiction Novels and stories on Matrubharti, get early access to the best stories free today. हिंदी novels are the best in category and free to read online.


श्रेणी
Featured Books

नक़ल या अक्ल By Swati

शाम का समय है, सूरज डूबने के लिए तैयार प्रतीत हो रहा है, उत्तरप्रदेश के मालपुरा गॉंव में खेतों की मुँडेर पर किशन और सोमेश बैठे हैं । किशन तो आराम से ढलते सूरज की तरफ देख रहा है तो...

Read Free

इश्कियां (पहला प्यार) By Anchal Gupta

मुंबई का एक जाना माना क्लब... illusion में लोगो की भीड़ जमी हुई थी और वो लोग लगातार हूटिंग कर रहे थे। इस वक्त वहा पर सिर्फ कलरफुल लाइट जल रही थी जो माहोल को अलग ही बना रही थी।
तभी...

Read Free

द सिक्स्थ सेंस.. By रितेश एम. भटनागर... शब्दकार

नोट- ये कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है, इसका किसी भी तरह से जीवित या म्रत व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है, इस कहानी को लिखने का उद्देश्य मात्र मनोरंजन है|

=====&...

Read Free

डेविल सीईओ की मोहब्बत By सलोनी अग्रवाल

एक तरफ है आराध्या श्रीवास्तव जो है बहुत मासूम और चुलबुली सी लड़की जो अपने परिवार से बहुत प्यार करती है और साथ में अपनी छोटी सी दुनिया में बहुत खुश रहती हैं और वही दूसरी तरफ है अर्ज...

Read Free

ताश का आशियाना By Rajshree

सिद्धार्थ शुक्ला 26 साल का नौजवान सरल भाषा में बताया जाए तो बेकार नौजवान। इंजीनियरिंग के बाद एमबीए करके बिजनेस खोलना चाहते हैं जनाब! बिजनेस के तो इतने आइडिया इनके पास है जितने की प...

Read Free

पागल By Kamini Trivedi

पागल,, हां सही नाम से पुकारा करता था वो मुझे। (हंसते हुए) पागल ही तो हूं मैं उसके लिए , उसके पीछे , उसके प्यार में।"

रात के 1 बज चुके थे । आंखों से नींद कोसों दूर । आज उसे प...

Read Free

द्वारावती By Vrajesh Shashikant Dave

उस क्षण जो उद्विग्न मन से भरे थे उस में एक था अरबी समुद्र, दूसरा था पिछली रात्रि का चन्द्र और तीसरा था एक युवक।

समुद्र इतना अशांत था कि वह अपने अस्तित्व को समाप्त कर देना चाहता...

Read Free

वंश. By Prabodh Kumar Govil

यह कहानी जो हम आपको सुनाने जा रहे हैं यह हमारी लिखी हुई नहीं है। ऐसी कहानियाँ कोई लिख भी नहीं सकता। ऐसी कहानियाँ तो 'जी’ जाती हैं और उन्हें रचते हैं उनके पात्र, उन्हें गढ़ता है...

Read Free

हमसफर.. By Seema Tanwar

कुँवरजी ,,,

प्लीज हमे दूर मत किजीये । वो आखों मे बेशुमार आसूँ लिये , उसके हाथ को थामे हुये कह रही थी|

आपको जाना होंगा , और ये हमारा लास्ट डिसीजन हे ।

नही जाना हे हमे , कही...

Read Free

उन्हीं रास्तों से गुज़रते हुए By Neerja Hemendra

मुझे अपना यह नया उपन्यास " उन्हीं रास्तों से गुज़रते हुए " पाठकों को समर्पित करते हुए अत्यन्त प्रसन्नता हो रही है। मेरे इस उपन्यास का कथ्य यद्यपि समकालीन न होते हुए अब से लग...

Read Free

नक़ल या अक्ल By Swati

शाम का समय है, सूरज डूबने के लिए तैयार प्रतीत हो रहा है, उत्तरप्रदेश के मालपुरा गॉंव में खेतों की मुँडेर पर किशन और सोमेश बैठे हैं । किशन तो आराम से ढलते सूरज की तरफ देख रहा है तो...

Read Free

इश्कियां (पहला प्यार) By Anchal Gupta

मुंबई का एक जाना माना क्लब... illusion में लोगो की भीड़ जमी हुई थी और वो लोग लगातार हूटिंग कर रहे थे। इस वक्त वहा पर सिर्फ कलरफुल लाइट जल रही थी जो माहोल को अलग ही बना रही थी।
तभी...

Read Free

द सिक्स्थ सेंस.. By रितेश एम. भटनागर... शब्दकार

नोट- ये कहानी पूरी तरह से काल्पनिक है, इसका किसी भी तरह से जीवित या म्रत व्यक्ति से कोई संबंध नहीं है, इस कहानी को लिखने का उद्देश्य मात्र मनोरंजन है|

=====&...

Read Free

डेविल सीईओ की मोहब्बत By सलोनी अग्रवाल

एक तरफ है आराध्या श्रीवास्तव जो है बहुत मासूम और चुलबुली सी लड़की जो अपने परिवार से बहुत प्यार करती है और साथ में अपनी छोटी सी दुनिया में बहुत खुश रहती हैं और वही दूसरी तरफ है अर्ज...

Read Free

ताश का आशियाना By Rajshree

सिद्धार्थ शुक्ला 26 साल का नौजवान सरल भाषा में बताया जाए तो बेकार नौजवान। इंजीनियरिंग के बाद एमबीए करके बिजनेस खोलना चाहते हैं जनाब! बिजनेस के तो इतने आइडिया इनके पास है जितने की प...

Read Free

पागल By Kamini Trivedi

पागल,, हां सही नाम से पुकारा करता था वो मुझे। (हंसते हुए) पागल ही तो हूं मैं उसके लिए , उसके पीछे , उसके प्यार में।"

रात के 1 बज चुके थे । आंखों से नींद कोसों दूर । आज उसे प...

Read Free

द्वारावती By Vrajesh Shashikant Dave

उस क्षण जो उद्विग्न मन से भरे थे उस में एक था अरबी समुद्र, दूसरा था पिछली रात्रि का चन्द्र और तीसरा था एक युवक।

समुद्र इतना अशांत था कि वह अपने अस्तित्व को समाप्त कर देना चाहता...

Read Free

वंश. By Prabodh Kumar Govil

यह कहानी जो हम आपको सुनाने जा रहे हैं यह हमारी लिखी हुई नहीं है। ऐसी कहानियाँ कोई लिख भी नहीं सकता। ऐसी कहानियाँ तो 'जी’ जाती हैं और उन्हें रचते हैं उनके पात्र, उन्हें गढ़ता है...

Read Free

हमसफर.. By Seema Tanwar

कुँवरजी ,,,

प्लीज हमे दूर मत किजीये । वो आखों मे बेशुमार आसूँ लिये , उसके हाथ को थामे हुये कह रही थी|

आपको जाना होंगा , और ये हमारा लास्ट डिसीजन हे ।

नही जाना हे हमे , कही...

Read Free

उन्हीं रास्तों से गुज़रते हुए By Neerja Hemendra

मुझे अपना यह नया उपन्यास " उन्हीं रास्तों से गुज़रते हुए " पाठकों को समर्पित करते हुए अत्यन्त प्रसन्नता हो रही है। मेरे इस उपन्यास का कथ्य यद्यपि समकालीन न होते हुए अब से लग...

Read Free