अन देखी दुनिया - 5 Vaibhav Surolia द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

अन देखी दुनिया - 5

अन देखी दुनिया - 5

कहानी अब तक

अजय और याशिका निकल पड़े थे किसी एक सल्तनत के राजा का ताज चुराने । उन्हें एक गुफा में जिन भी मिला जिससे उनका काम आसान हो चुका था । उसके जिन ने बताया कि पासी में हुमायु नाम का राजा रहता है जिसकी सल्तनत का नाम हुमात है। जैसे तैसे कर कर वह हुमात पहुंचे और वहां के राजा से तालीम घर में रहने की इजाजत ले ली । तालीम घर कि खालिब आई / और उन्होंने भी उन तीनों को कालीन घर में रहने की इजाजत दे दी । खालिब उस तालीम घर की रखवाली और वहां के बच्चों का ध्यान रखने वाली थी या यूं कहे तालीम घर की महारानी थी ।

अब आगे

खालिब ने बताया कि यहां पर एक यहां पर एक मुकाबला हो रहा है वह मुकाबला यह है कि जो भी मेरे द्वारा दिए जाने वाले कार्य सहज रूप से पूरा करेगा उसे यहां के राजा अपने खास काम के लिए चुनेंगे |

तीनों मन में विचार आया कि इस मुकाबले में अगर हम ने भाग लिया तो वह सकता है कि यहां के राजा हमें ताज दे दे ।

वहां पर दो लोग और थे जोकि इस हिस्सा में भाग लेने के लिए तैयार थे उनका नाम केशव और सुप्रिया था ।

यह सुनकर अजय याशिका और जीन मैं जल्दी से अपना नाम प्रतियोगिता में लिखवा दिया प्रतियोगिता में भाग लेने वाले 5 लोग थे अजय, याशिका, जैन ,केशव और सुप्रिया । जब सुप्रिया ने अजय को देखा तो वह उसको देखती ही रह गई उसने सोचा कि शहजादे इतने खूबसूरत होते हैं अजय को वह देखती ही नहीं । उसकी नजर उस पर से हट ही नहीं रही थी तभी केशव खासा ताकि उसका ध्यान उस पर से हट जाए ।

केशव ने अजय से कहा दिखने में तो बहुत अच्छे लगते हो लेकिन यह काम तुम जैसे लोगों का नहीं है ।

अजय ने कहा तुम कौन होते हो हमें काम बताने वाले हम शहजादे हैं हमारा काम खुद चुनते हैं । क्योंकि शहजादे ऐसे ही होते हैं ।

याशिका ने खालिब से कहा कि यह प्रतियोगिता कब शुरू होगी ।

खालिब ने कहा कि यह प्रतियोगिता कल शुरू होगी । कल टाइम पर तालीम घर के हॉल में आ जाना ।

तीनों इस प्रतियोगिता में जाने के लिए बेसब्री से इंतजार था लेकिन सुप्रिया तो बस अजय को ही देखी जा रही थी ऐसा लग रहा था कि कमरे में सिर्फ अजय और सुप्रिया ही है । यह देख याशिका को जलन मच रही थी वह सोच रही थी कि उसे इस शहजादे में ऐसा क्या दिख गया जो हमेशा उसे ही घूमती रहती है ।

अगले दिन

आज खालीब ने तालीम घर के हाल में बुलाया है चलना नहीं है क्या अजय क्या हर समय सोते रहते हो । यशिका ने कहा ।

अजय ने नींद में कहा कि शहजादे लेट तक सोते हैं अगर उनको कोई जगह का है तो उनको जेल हो जाती है सैनिक इस लड़की को उठाकर ले जाओ ।

यशिका ने उससे कहा और शहजादे अभी तुम अपने महल में नहीं हो अभी तुम हुमात मैं हो ।

अजय अभी नहीं उठता तो याशिका उसके ऊपर ठंडा ठंडा पानी गिर देती है पानी गिरते ही अजय उठ जाता है और चिल्लाता है बारिश बारिश बाढ़ आ गई ।

याशिका कहती है बार तो तब आएगी जब हम वहां पर टाइम पर नहीं पहुंचे अब जल्दी चलो ।

दोनों तैयार होकर वहां पर पहुंचते हैं वहां पर दोनों लोग आ चुके थे बस जीनु और अजय याशिका देर से आए थे ।

खालिब ने उनसे कहा कि तुम देर से क्यों आए तब याशिका ने कहा

खालीब यही देर तक सो रहा था मैंने उसको पर पानी डाला तब जाकर उठा ।

खालिब कुछ कहती इससे पहले अजय ने कहा मुझे माफ कर दो अब से जल्दी वक्त पर उठूंगा ।

खालिब सभी लोग से कहती है कि हमारी पहली चुनौती यह है कि तुम्हें तालीम घर के पीछे जंगल में रहने वाली डायन का बेशकीमती सोने का लालटेन चुराकर लाना है और उस लालटेन को जो लाएगा वहीं पहली चुनौती को पार करेगा ।

अजय बहुत डर जाता है यह चुनौती सुनकर लेकिन वह सोचता है अगर मैंने एक चुनौती के लिए मना कर दिया तो मेरी इज्जत क्या रह जाएगी । तो उसने उस चुनौती को स्वीकार कर लिया ।

अजय ने केशव से पूछा कि यह जंगल की डायन का क्या मतलब ।

केशव ने कहा कि तालीम घर के पीछे एक जंगल है और वहां कोई नहीं जाता क्योंकि वहां पर जो भी जाता है कभी लौटकर नहीं आता क्योंकि वहां एक डायन रहती है उसके पास एक बहुत बेशकीमती लालटेन है उसकी कीमत 500 करोड़ है । और जो भी उस लालटेन को लेने की कोशिश करता है वह उसको वही...

इतना बोलते ही अजय बीच में बोलता है समझ गया समझ गया और बातें मत बताओ ।

सबके मन में डर बस गया अगर हम उस जंगल में गए तो वापस लौट पाएंगे कि नहीं जंगल में कल क्या होने वाला है कल का दिन उन लोगों के लिए बहुत डरावना और मुश्किल भरा होने वाला है अगर आप लोगों को भी जानना है कि उनके साथ उस जंगल में क्या होने वाला है तो...... पढ़ते रहिए
"अन देखी दुनिया"

To be continued.....







रेट व् टिपण्णी करें

Krisha

Krisha मातृभारती सत्यापित 2 साल पहले

Vaibhav Surolia

Vaibhav Surolia मातृभारती सत्यापित 2 साल पहले

please give your valuable review Thanks😊🙏

Devyani

Devyani 2 साल पहले

navita

navita मातृभारती सत्यापित 2 साल पहले

Anshika

Anshika 2 साल पहले

great