दी एडवेंचर्स ऑफ़ शेरलोक होम्स Sir Arthur Conan Doyle द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

Featured Books
शेयर करे

दी एडवेंचर्स ऑफ़ शेरलोक होम्स

दी एडवेंचर्स ऑफ़ शेरलोक होम्स

बोहेमिया के स्कैंडल

खंड १

शेरलॉक होम्स के लिए वह हमेशा 'वो औरत' ही थी | मैंने होम्स को किसी और नाम से उसका ज़िक्र करते शायद ही सुना हो| उसकी आँखों में वो इस प्रकार छा गयी थी कि फिर वह किसी और महिला को देख ही नहीं पाया | वह उसके लिए अन्य सभी महिलाओं से श्रेष्ठ थी| हालांकि होम्स के दिल में एरीना एडलर के लिए कोई प्यार जैसी अनुभूति नहीं थी | उसके ठन्डे,सटीक लेकिन प्रशंसनीय रूप से संतुलित दिमाग के लिए ऐसी भावनाएं, खासकर उस प्रकार की भावना, तो गर्हित या त्याज्य ही थीं | होम्स यक़ीनन दुनिया की सबसे बेहतरीन तर्क एवं निरीक्षण मशीन की तरह था लेकिन एक प्रेमी के रूप में वह कभी उपयुक्त नहीं था | ऐसी कोमल भावनाओं के लिए उसके पास अगर कुछ था तो मात्र उपहास या तिरस्कार | एक निरीक्षक के लिए ये सब चीज़ें बहुत सराहनीय हो सकती है बल्कि किसी व्यक्ति के इरादों और चाल-चलन को बेपर्दा करना हो तो इन भावनाओं से बढ़िया कुछ नहीं हो सकता लेकिन एक प्रशिक्षित विचारक के लिए अपने अच्छी तरह से समायोजित और नाजुक स्वभाव में इस तरह के अतिक्रमण को स्वीकार करना एक ध्यान भंग करने वाले तत्व को स्वीकार करने जैसा था जो उसकी बुद्धि-कौशल से प्राप्त परिणामों को भी संदेह के घेरे में ला सकता था |किसी संवेदनशील उपकरण में कोई कंकरी फंस जाना या उसके अपने हाई पॉवर लेंस में दरार पड़ना भी इतना चिंताजनक नहीं हो सकता था जितना कि उसके जैसे स्वभाव में ऐसे प्रबल संवेग का आना | फिर भी, एक केवल एक महिला तो आ ही गयी थी उसके ख्यालों में और वह महिला थी एरीना एडलर जिसकी यादें भी संदिग्ध और संदेहास्पद थीं |

इधर कुछ दिनों से मेरा होम्स से मिलना काफी कम हो गया था | मेरे विवाह ने हम दोनों को दूर कर दिया था |मेरा अपना सम्पूर्ण आनंद, मेरी घर गृहस्थी में दिलचस्पी और इस गृहस्थी का मुखिया होने के अहसास ने मेरा सारा ध्यान अपनी और आकर्षित कर रखा था जबकि होम्स जो अपनी विशुद्ध बोहेमियन आत्मा से समाज के हर रूप को नापसंद करता था, अपनी पुरानी किताबों में डूबा, सप्ताह दर सप्ताह कभी कोकेन तो कभी अपनी महत्त्वाकांक्षा, कभी नशा तो कभी अपनी खुद की उत्सुक प्रकृति की प्रचंड ऊर्जा में बारियाँ बदलता, हमारे बेकर स्ट्रीट वाले आवास में ही रहता रहा | वह अब भी हमेशा की तरह अपराध के अध्ययन द्वारा प्रगाढ़ रूप से आकर्षित हुआ, अपनी विशाल फेकल्टी एवं निरीक्षण की असाधारण शक्तियों का उपयोग उन सुरागों का अनुसरण करने और उन रहस्यों को सुलझाने के लिए करने में लगा रहा जिनको आधिकारिक पुलिस भी निराश होकर छोड़ चुकी थी| समय समय पर उसके कार्यों का अस्पष्ट सा लेखा-जोखा मेरे कानों में पड़ता रहा था | जैसे ट्रेपॉफ हत्याकांड में ओडेसा(उक्रेइन) से सम्मन, त्रिंकोमाली (श्रीलंका) में एटकिंसन भाइयों की अनोखी त्रासदी का उसके द्वारा सुलझाना और अंततः हॉलैंड के शासक परिवार के एक महत्वपूर्ण मिशन को उसने जिस कुशलता और सफलता पूर्वक पूरा किया | तथापि उसकी गतिविधियों के इन संकेतों,जो मैंने केवल डेली प्रेस के सभी पाठकों से साझा किये थे, के अतिरिक्त मैं अपने पुराने मित्र और साथी के बारे में कम ही जानता था |

२० मार्च १८८८ की रात को मैं एक मरीज़ को देख कर लौट रहा था (मैंने अब तक अपनी चिकित्सक के रूप में सिविल प्रेक्टिस फिर से प्रारम्भ कर दी थी), तो मेरा रास्ता मुझे बेकर स्ट्रीट में ले आया | जैसे ही मैं उस अच्छी तरह से याद दरवाजे के सामने से गुजरा जो कि मेरे तमाम प्रेम प्रदर्शनों और 'स्कारलेट' में अध्ययन की गुप्त घटनाओं के साथ मेरे मन-मस्तिष्क से जुड़ा था, मुझे होम्स को फिर से देखने और उसके अपनी असाधारण शक्तियों को इस्तेमाल करने के तरीकों को जानने की एक तीव्र उत्कंठा ने जकड़ लिया | उसके कमरे तेज रौशनी से जगमगा रहे थे | जैसे ही मैंने ऊपर देखा तो उसकी लम्बी और कृशकाय आकृति एक छाया की तरह खिड़की की ब्लाइंड्स के सामने से दो बार गुजरती हुई दिखाई दी | वह अपने सिर को अपने वक्ष में धंसाए, हाथों को अपने पीछे बाँधे हुए बड़ी व्यग्रता और तेज़ी से कमरे में चहलक़दमी कर रहा था | मैं चूँकि उसकी सारी आदतों और मनः स्थितियों से वाक़िफ़ था, उसके हाव-भाव और रवैये से सब कुछ समझ गया| वह फिर से किसी काम पर था | वह अपने नशेबाजी के सपनों से निकल कर किसी नए मिशन के रहस्य में डूबा हुआ था | मैंने दरवाजे की घंटी बजाई और उस चेम्बर में ले जाया गया जो पहले मेरे हिस्से में भी था |

मुझे देखकर उसने किसी आतुरता का प्रदर्शन नहीं किया जो वह वैसे भी कम ही करता था,लेकिन मेरे ख्याल से वह खुश जरूर था | उसने बिना एक भी शब्द बोले लेकिन एक सौम्य दृष्टि से मुझे देखते हुए कुर्सी पर बैठने का इशारा किया, अपने सिगार का केस मेरी ओर फेंका और कोने में रखे स्पिरिट केस और गेसोजीन को दिखाया | इसके बाद वह कमरे में जल रही आग के सम्मुख खड़ा हो गया और अपने विशिष्ट विश्लेषक अंदाज में मुझे देखा |

"तुम्हे विवाह करना सूट किया है," उसने टिप्पणी की | "मेरे विचार से जब से मैंने तुम्हे देखा है, तुम्हारा साढ़े सात पौंड वजन तो बढ़ गया है |"

“सात !" मैंने जवाब दिया |

"असल में मुझे थोड़ा सा और सोचना चाहिए था, बहुत ही थोड़ा सा | वाटसन ! मैं कल्पनाएं करता हूँ | और मैं देख रहा हूँ कि तुमने प्रैक्टिस भी शुरू कर दी है | तुमने मुझे बताया नहीं था कि तुम्हारा अपना काम वापस शुरू करने का इरादा है |"

"फिर तुम्हें कैसे पता लगा |"

“मैं देखता हूँ और तर्कों से निष्कर्ष निकलता हूँ | नहीं तो मुझे कैसे पता चला कि तुम हाल ही में काफी भीगे हो और तुम्हारी नौकरानी बहुत ही फूहड़ और लापरवाह है |"

"मेरे प्यारे होम्स ! यह तो बहुत ज्यादा हो गया| अगर तुम कुछ शताब्दी पहले हुए होते तो निश्चित रूप से जला कर मार डाले गए होते | यह सच है कि मैं बृहस्पतिवार को कंट्री वॉक पर था और बुरी तरह मिटटी से लथपथ होकर घर लौटा था | लेकिन क्योंकि मैंने अपने कपड़े बदल लिए थे, मैं ये कल्पना भी नहीं कर सकता कि तुमने ये सब कैसे जान लिया | जहाँ तक मेरी नौकरानी- मैरी जेन का सवाल है,तो वह तो सुधारे जाने लायक है ही नहीं | मेरी पत्नी ने तो उसे नोटिस भी दे दिया है, लेकिन फिर भी,यह मेरी समझ से बाहर है कि तुम ये सब कैसे हल कर लेते हो ?"

वह थोड़े गर्व से हँसा और अपने लम्बे और बैचेन हाथों को आपस में रगड़ा |

"ये तो अपने आप में बहुत सरल है | मेरी ऑंखें मुझे बता रही है कि तुम्हारे बाएं जूते के अंदर, ठीक जहाँ पर अंगीठी की रौशनी टकराती है, वहां चमड़े पर छह लगभग समानांतर कटावों के निशान हैं | ज़ाहिर है, यह उसके द्वारा किया गया है जिसने पपड़ीदार मिट्टी हटाने के लिए उसके तल्ले के किनारों को लापरवाही से रगड़ा है। तुमने मेरा दोहरा निष्कर्ष देखा कि एक तो तुम बहुत खराब मौसम में बाहर थे | दूसरे तुम्हारी नौकरानी विशेष रूप से घातक, जूते काटने वाली लंदन मजदूरनी का नमूना है | अब जहाँ तक तुम्हारे प्रैक्टिस शुरू करने का पता लगने की बात है, अगर कोई सज्जन मेरे कमरे में आयोडोफोर्म की गंध, सीधे हाथ की तर्जनी पर चाँदी की नाइट्रेट के काले निशान और अपने टॉप हैट के दायीं ओर स्टेथोस्कोप छिपाने के कारण बने उभार के साथ प्रवेश करता है और मैं उसके डॉक्टरी पेशे का सक्रिय सदस्य होने के बारे में न बता पाऊँ तो फिर मुझे वास्तव में मूर्ख होना चाहिए |”

जिस सरलता से उसने अपनी निष्कर्ष निकलने की प्रक्रिया को समझाया, मैं अपनी हंसी नहीं रोक पाया | “मैं तुम्हें जब भी तर्क देते सुनता हूँ तो मुझे ये चीजें बड़ी हास्यास्पद तरीके से आसान लगती हैं कि ये तो मैं भी कर सकता था, जबकि जब तक तुम अपनी पूरी प्रक्रिया नहीं समझा देते, मैं तुम्हारी तार्किकता के हर उदाहरण पर चकरा जाता हूँ | अभी भी मुझे विश्वास है कि मेरी ऑंखें तुम्हारी आँखों जितनी ही अच्छी हैं |"

"निस्संदेह," उसने एक सिगरेट जलाते हुए और खुद को एक आराम कुर्सी पर फेंकते हुए उत्तर दिया," तुम देखते हो लेकिन गौर से नहीं देखते, अंतर् एकदम स्पष्ट है | उदाहरण के लिए तुमने हॉल से इस कमरे तक आने वाली सीढ़ियों को अक्सर देखा है |"

"हाँ,बहुत बार..."

"कितनी बार ?"

"हज़ारों बार |"

"तो कितनी पैड़ियाँ है वहाँ ?"

”कितनी है ? मुझे नहीं पता |"

"यही तो ! तुमने निरीक्षण नहीं किया कभी | जबकि तुमने देखा है | बस यही मेरा पॉइंट है | अब सुनो, मुझे पता है कि वहाँ सत्रह पैड़ियाँ हैं, क्योंकि मैंने देखा भी है और निरीक्षण भी किया है | वैसे, क्योंकि तुम इन छोटी समस्याओं में रुचि भी रखते हो और चूंकि तुम मेरे छोटे-छोटे अनुभवों में से कुछ को तारीखवार लिखने में भी समर्थ हो तो तुम्हें इसमें दिलचस्पी हो सकती है |" उसने मोटी, गुलाबी रंग के नोट-पैड का एक पन्ना फेंका जो मेज पर खुला पड़ा था | उसने कहा,"यह अभी आखिरी डाक से आया है, इसे जोर से पढ़ो |"

इस फुटनोट पर न तारिख दर्ज़ थी और न ही कोई हस्ताक्षर या पता था |

"आज रात को पौने आठ बजे एक सज्जन आपसे मिलने आएंगे जो एक बहुत ही गंभीर महत्त्वपूर्ण मामले पर आपसे सलाह लेना चाहते है | यूरोप के एक शाही परिवार को दी गयी आपकी सेवाओं से यह पता चला है कि आप पर अति महत्त्वपूर्ण मामलों में सुरक्षित रूप से विश्वास किया जा सकता है | हमें हर जगह से आपके बारे में यही पता चला है | उस समय आप अपने कक्ष में ही रहिएगा और अगर आगंतुक ने मुखौटा पहना हो तो बुरा मत मानिएगा | "

"यह तो वास्तव में एक रहस्य लगता है | तुम्हारे अनुसार इसका क्या मतलब हो सकता है ?" मैंने टिप्पणी की |

"अभी तो मेरे पास कोई विवरण नहीं है और बिना विवरण के किसी निष्कर्ष पर पहुंचना बहुत बड़ी गलती होती है क्योंकि ऐसे में व्यक्ति तथ्यों के आधार पर सिद्धांत बनाने के बजाय सिद्धांतों से मेल बैठाने के लिए असंवेदनशील होकर तथ्यों को तोडना मरोड़ना प्रारम्भ कर देता है | लेकिन हमारे पास जो नोट है इससे तुम क्या निष्कर्ष निकालते हो ?"

मैंने हस्तलेख और जिस पर यह लिखा हुआ था उस कागज की सावधानी से जाँच की |

"मेरा अनुमान है कि इसे लिखने वाला व्यक्ति काफी सम्पन्न है," मैंने अपने साथी की प्रक्रिया की नकल करने का प्रयास करते हुए कहा, "ऐसा कागज़ आधा क्राउन प्रति पैकेट से कम नहीं खरीदा जा सकता| यह अनोखे रूप से मज़बूत और सख्त है |"

"हम्म !अनोखा ! ये बिलकुल सही शब्द कहा तुमने |" होम्स ने कहा, "यह इंग्लिश कागज़ तो किसी हाल में नहीं है, ज़रा इसे रौशनी की तरफ करो |"

मैंने वैसा ही किया और देखा कि अंग्रेजी का एक बड़ा ‘E’ एक छोटे ‘g’ के साथ, एक ‘P’ और एक बड़ा ‘G’ एक छोटे t’ के साथ कागज़ की बनावट में ही बुना हुआ था |

'तुम्हें इससे क्या पता चला ?" होम्स ने पूछा

"निस्संदेह,बनाने वाले का नाम बल्कि उसका मोनोग्राम |"

“बिलकुल नहीं,छोटे ‘t’ के साथ बड़ा 'G' 'जैसेलशाफ्ट' के लिए प्रयुक्त होता है जो कम्पनी शब्द का जर्मन अनुवाद है | यह हमारे Co. की तरह पारम्परिक संक्षिप्त नाम है | ‘P’ बेशक पेपिएर के लिए प्रयुक्त होता है . अब ‘Eg’ के लिए हम अपने महाद्वीपीय गैज़ेटियर पर निग़ाह डालते हैं |"

उसने अपनी अलमारियों से एक भारी सा भूरे रंग का खंड निकाला |

“ एग्लो ..एग्लोनित्ज़... लो ये मिल गया,एग्रीआ | ये बोहेमिया में एक जर्मन भाषी देश है, कार्ल्सबैड से दूर नहीं है | ‘वालेंस्टाइन’ की मृत्यु के दृश्य के रूप में उल्लेखनीय और इसके ढेर सारे कांच के कारखानों और कागज़ की मिलों के लिए भी |"

उसकी ऑंखें चमकने लगीं और उसने अपने सिगरेट से एक बड़ा नीला विजयी बादल छोड़ा |

"कागज़ बोहेमिया में बनाया गया है |" मैंने कहा

“निश्चित रूप से, और जिस आदमी ने नोट लिखा है,वह जर्मन है | क्या तुमने इस अजीब से वाक्य-विन्यास पर ध्यान दिया ? हमारे पास तुम्हारा जो लेखा-जोखा है वह हर जगह से मिला है | एक फ़्रांसिसी या रशियन इस प्रकार नहीं लिख सकता | यह केवल जर्मन ही हो सकता है जो अपनी क्रियाओं के लिए इतना अशिष्ट है |

अब बस ये पता लगाना है कि ये जर्मन चाहता क्या है जो बोहेमियन कागज़ पर लिखता है और अपना चेहरा दिखाने की बजाय मुखौटा पहनना पसंद करता है | और अगर मैं गलत नहीं हूँ तो लो हमारे सारे संदेह हल करने के लिए वह आ गया है |"

जैसे ही उसने यह कहा उधर से सड़क के किनारे से घोड़ों के खुरों और पहियों के घिसटने की एक तीखी सी आवाज आयी | जिसके तुरंत बाद तेजी से घंटी बजाई गयी |

"आवाज से लगता है घोड़ों की जोड़ी है," उसने कहा, "हाँ सचमुच " खिड़की से बाहर झांकते हुए बोला "एक बढ़िया सी छोटी सी बग्घी और घोड़ियों की एक सुंदर जोड़ी, प्रत्येक की कीमत एक सौ पचास गिन्नियां हैं| वाटसन ! अगर और कुछ भी नहीं तो इस केस में पैसा तो हैं |"

“मेरे ख्याल में मेरा जाना ठीक रहेगा,होम्स !"

"जरा भी नहीं,डॉक्टर !, तुम जहाँ हो वहीं रहो |अपने जीवनी लेखक के बिना मैं बेकार हूँ और ये मामला बहुत दिलचस्प होने वाला हैं | इसे खोकर पछताना पड़ेगा |"

"तुम्हारा क्लाइंट- ?"

"उसकी चिंता मत करो, मैं तुम्हारी सहायता चाहूंगा और शायद वह भी | लो वह आ गया | डॉक्टर ! उस आराम कुर्सी पर बैठ जाओ और हमें अपना पूरा ध्यान दो |"

एक धीमी और भारी पदचाप जो सीढ़ियों पर और गलियारे में सुनाई दे रही थी, दरवाजे के बाहर अचानक रुक गयी और एक तेज और साधिकार थपथपाहट सुनाई दी |

"आ जाइये!" होम्स ने कहा

एक आदमी ने प्रवेश किया जिसका कद छह फ़ीट छह इंच से शायद ही कम होगा और जिसका सीना और अंग-प्रत्यंग हरकुलिस जैसा था | उसकी पोशाक उस समृद्धता से बहुमूल्य थी जिसे इंग्लैंड में सुरुचि की दृष्टि से खराब माना जाता था |

उसके दोहरी छाती वाले कोट के सामने की ओर तथा पूरी आस्तीनों में अस्त्राखान के भारी फीते लगे हुए थे | जबकि कंधों पर डाले हुए चोगे में लौ के रंग का अस्तर लगा हुआ था जो गर्दन पर एक ब्रोच, जो एक बड़े चमकदार फ़िरोज़ा से बनाया गया था, से कस दिया गया था | पिंडलियों तक लम्बे बूट जिनके ऊपरी किनारों पर कीमती भूरा फर लगा हुआ था, उसके क्रूर ऐश्वर्य के उस प्रभाव को पूर्णता प्रदान कर रहे थे जो उसकी पूरी वेशभूषा द्वारा व्यक्त हो रहा था | उसने अपने हाथ में एक चौड़े किनारे वाला हैट पकड़ा हुआ था जबकि चेहरे के ऊपरी भाग पर नीचे की ओर गालों के उभरे हुए भाग को ढकता हुआ एक काले रंग का जादूगर वाला मुखौटा पहना हुआ था जो कि प्रत्यक्ष रूप से उसी समय ठीक किया गया था क्योंकि जब उसने प्रवेश किया तब भी उसका हाथ इसकी ओर उठा हुआ था | चेहरे के निचले भाग से, वह एक मोटे लटकते हुए होंठ और एक लम्बी सीधी ठोड़ी जो उसके जिद की हद तक जाने वाले संकल्प की प्रतीक थी, एक मजबूत चरित्र वाला व्यक्ति प्रतीत हो रहा था |

"तुम्हें हमारा नोट मिला ?" उसने गंभीर, रूखी आवाज़ और स्पष्ट जर्मन उच्चारण में पूछा, " हमने तुम्हें बताया था कि हम तुम्हें बुलाएँगे |" उसने बारी-बारी हम दोनों को देखा जैसे कि यह नहीं समझ पा रहा हो कि किसे सम्बोधित करूँ|

"कृपया आप बैठिये |" होम्स ने कहा,"ये मेरे मित्र और सहकर्मी डॉक्टर वाट्सन, जो कभी-कभी मेरे मामलों में मेरी मदद करने के लिए काफी अच्छे हैं। मुझे किसको सम्बोधित करने का सम्मान मिल रहा हैं? ".

“आप हमें काउंट वॉन क्रैम, एक बोहेमियन गणमान्य,कह कर सम्बोधित कर सकते हैं | हम समझ सकते हैं कि ये सज्जन--आपके मित्र--एक सम्मानित एवं विवेकशील व्यक्ति हैं जिन पर हम एक अति महत्त्वपूर्ण मामले में भरोसा कर सकते हैं | अगर नहीं तो हम आपसे अकेले में संवाद करना पसंद करेंगे |"

मैं जाने के लिए उठा, लेकिन होम्स ने मेरी कलाई पकड़ ली और मुझे वापस कुर्सी पर धकिया दिया |

वह बोला,-" या तो हम दोनों रहेंगे या कोई नहीं, आपको मुझसे जो भी कहना है, आप इन सज्जन के सामने कह सकते हैं|"

काउंट ने अपने चौड़े कंधे उचका दिए | "तब हमें आरम्भ करना चाहिए," उसने कहा, "आप दोनों को दो वर्ष के लिए पूर्ण गोपनीयता रखनी होगी इसके बाद यह मामला महत्त्वहीन हो जायेगा | इस समय यह कहना ज्यादा नहीं होगा कि फ़िलहाल यह इतना महत्त्वपूर्ण हैं कि इसका प्रभाव यूरोपीय इतिहास पर भी पड़ सकता हैं |"

"मैं वचन देता हूँ |"

"और मैं भी |"

"आप इस मुखौटे के लिए हमें क्षमा करेंगे," हमारे अजीब आगंतुक ने आगे कहा," जिस कुलीन व्यक्ति ने हमें इस कार्य के लिए नियुक्त किया हैं,वह चाहता हैं कि उसका प्रतिनिधि आपके लिए अज्ञात रहे और हम भी यह स्वीकार करते हैं कि हमने भी आपको अपनी जो पहचान बताई हैं,वह भी पूरी तरह हमारी नहीं हैं |"

"मैं ये जानता था |" होम्स ने रुखाई से कहा |

"दरअसल परिस्थितियाँ इतनी नाज़ुक हैं कि हमें हरेक सावधानी बरतनी पड़ेगी क्योंकि जरा सी भी चूक यूरोप के शासक परिवारों में से एक के लिए एक बड़ा कलंक बन सकती हैं और उनकी प्रतिष्ठा पर भी आंच आ सकती हैं | स्पष्ट रूप से कहूं तो इस मामले में बोहेमिया के वंशानुगत राजा, महान आर्म्सटीन घराना फंसा हुआ हैं |"

"मुझे यह भी पता हैं |" होम्स ने अपनी कुर्सी में ठीक से बैठते और अपनी ऑंखें बंद करते हुए बुदबुदा कर कहा |

हमारे आगंतुक ने उस सुस्त और आराम से बैठी पुरुष-आकृति को प्रत्यक्ष आश्चर्य से देखा,जिसको यूरोप का सबसे जबरदस्त तर्कसंगत और सबसे ऊर्जावान एजेंट बताया गया था |

होम्स ने धीरे से अपनी ऑंखें खोलीं और अधीरता से अपने उस लम्बे चौड़े मेहमान को देखा |

"अगर महामहिम अपना मामला बताना स्वीकार करें तो मैं आपको ज्यादा बेहतर सलाह दे पाऊंगा |"

वह व्यक्ति अपनी कुर्सी से उछल पड़ा और अदम्य व्यग्रता के साथ कमरे में चहलकदमी करने लगा फिर एक मायूसी की मुद्रा में उसने अपना मुखौटा उतार कर ज़मीन पर फेंक दिया |

"तुमने ठीक पहचाना," वह चिल्लाया,"हम ही राजा हैं | भला हम तुमसे ये क्यों छिपाएँ ?"

"हाँ ! क्यों छिपाएँ ?" होम्स बुदबुदाया |

"महामहिम, आपके बोलने से पहले मुझे यह पता था कि मैं विल्हेल्म गोट्सट्राइक सीजिसमोंड वॉन ऑर्मस्टॉइन से बात कर रहा हूँ, जो कैसल फैलस्टाइन के ग्रैंड ड्यूकऔर बोहेमिया के वंशानुगत राजा हैं |”

“आप समझ सकते हैं," हमारे अजीब मेहमान ने फिर से बैठते हए और अपना हाथ अपने ऊँचे श्वेत माथे पर ले जाते हुए कहा "कि हम अपने खुद के व्यक्तित्व में ऐसा काम करने के आदी नहीं हैं । फिर भी मामला इतना नाजुक था कि हम स्वयं को खतरे में डाले बिना किसी एजेंट पर विश्वास नहीं कर सकते थे |

हम आपका परामर्श लेने के लिए प्राग से छद्म वेश में आये हैं |"

"फिर, सलाह लें," होम्स ने फिर से अपनी आंख बंद करते हुए कहा |

“बात कुछ इस प्रकार हैं,लगभग पांच वर्ष पहले, वारसॉ की लंबी यात्रा के दौरान, हमने एक सुविख्यात साहसिक महिला एरिना एडलर के साथ जान पहचान बना ली थी, बेशक आपने भी उसका नाम सुना होगा |”

“डॉक्टर! कृपया उनका नाम मेरे रजिस्टर में देखना ज़रा ! होम्स अपनी ऑंखें बंद किये हुए ही बुदबुदाया| कई वर्षों से होम्स ने यथासम्भव सभी व्यक्तियों, घटनाओं और वस्तुओं के ब्यौरा दर्ज़ करने की प्रणाली अपनाई हुई थी | इसलिए किसी व्यक्ति या विषय का नाम देना मुश्किल है जिस पर वह तुरंत जानकारी प्रस्तुत न कर सका हो | इस केस में एरीना एडलर का जीवन-वृत्तांत मुझे एक हिब्रू रब्बी और एक कर्मचारी कमांडर, जिन्होंने गहरे समुद्र की मछलियों पर एक मोनोग्राफ लिखा था, की जीवनियों के बीच में छिपा मिला |

“लाओ मुझे दिखाओ," होम्स ने कहा

हम्म, १८५८ में नई जर्सी में जन्मी, कॉन्ट्रालो ...हम्म,ला स्काला...हम्म, प्राइमा डोना, इम्पीरियल ओपेरा,वॉरसॉ --- यही ! ओपेरा के मंच से अवकाश-प्राप्त --हा ! लंदन में रहती हैं --बिलकुल ठीक ! महाराज, जहां तक मैं समझ रहा हूँ, आप इस युवती के चक्कर में पड़ गए, उसे कुछ प्रेम-पत्र लिख दिए और अब उन पत्रों को वापस प्राप्त करना चाहते हैं |"

“बिलकुल यही ! लेकिन कैसे?"

"क्या आप दोनों का गुप्त विवाह भी हुआ था ?"

"बिलकुल नहीं !"

"कोई क़ानूनी दस्तावेज़ या प्रमाणपत्र ?"

“नहीं !"

"तब मुझे आपकी बात समझ नहीं आ रही महाराज! अगर यह युवती उसके पत्रों को ब्लैकमेल या किसी दूसरे प्रयोजन से प्रयोग करती है तो वो उनकी प्रमाणिकता कैसे सिद्ध करेगी ?"

"हस्तलेख ?"

" बिलकुल नहीं, बनाया गया !!"

" हमारा व्यक्तिगत नोट -पैड?"

"चुराया गया !"

" हमारी अपनी मोहर ?"

"नकल!"

“हमारा फोटो ?"

"खरीदा गया !"

"फोटो में हम दोनों थे |"

“ओह ! यह तो बहुत बुरा हुआ, महामहिम से ये तो बहुत बड़ी गलती हो गयी |"

“हम पागल ----दीवाना हो गये थे |"

"आपने खुद को बड़ी गंभीर मुसीबत में डाल लिया है |"

”तब हम केवल युवराज थे, जवान थे, अब हम तीस साल के हैं |”

इन्हें तो फिर से प्राप्त किया जाना चाहिए |"

“ हमने कोशिश की लेकिन असफल रहे |”

“महामहिम! आपको भुगतान करना होगा | उन्हें खरीद लेना चाहिए |.”

”वो नहीं बेचेगी |”

“तो चुरा लीजिये |.”

“पांच बार कोशिश की जा चुकी है | दो बार हमारे आदमियों ने उसका सारा घर छान मारा |एक बार जब वो यात्रा कर रही रही थी तो उसका सामान छीन लिया | दो बार उसका सामान चोरी भी किया गया,लेकिन कोई परिणाम नहीं निकला |"

"कोई सुराग नहीं ?"

“बिलकुल नहीं |"

होम्स हंसने लगा |"यह तो बहुत छोटी सी समस्या है |" उसने कहा |

"लेकिन हमारे लिए बहुत गंभीर !" राजा ने तिरस्कार पूर्वक प्रत्युत्तर दिया |

"सच में बहुत बड़ी, और वो उस फोटो का प्रयोग कहाँ करेगी ?"

"हमें बर्बाद करने में |"

"पर कैसे ?"

“हमारी शादी होने वाली है |"

“हाँ मैंने सुना था |”

“ राजकुमारी क्लॉटिलडे लोथमेन वॉन सेक्स मेनिंगेन से,जो स्कैंडेनेविया के राजा की दूसरी बेटी है | उनके परिवार के नियम बहुत कड़े हैं | वह स्वयं बहुत नरम दिल है लेकिन हमारे चरित्र को लेकर जरा सी भी गलत बात उन तक पहुंची तो यह रिश्ता यहीं खत्म हो जायेगा |"

"और एरिना एडलर ?"

“उसने वो फोटोग्राफ उनको भेजने की धमकी दी है और वो ऐसा करेंगी भी |मुझे पता है वो ऐसा जरूर करेगी |आप उसे नहीं जानते, उनका दिल लोहे का है | वो दुनिया की सभी महिलाओं से खूबसूरत हैं और किसी भी आदमी से ज्यादा सख़्तदिल हैं| हमारी शादी किसी और से न हो सके इसके लिए वो कोई भी तरीक़ा आजमाने से नहीं हिचकेंगी |"

"आपको विश्वास है उन्होंने अभी तक वो फोटोग्राफ नहीं भेजा होगा ?"

"हाँ हमें विश्वास है |"

लेकिन क्यों ?"

"क्योंकि उन्होंने कहा है की वो उसे उस दिन भेजेंगी जिस दिन हमारी सगाई की सार्वजनिक घोषणा होगी और वह अगले सोमवार को है |"

“ओह,तब तो हमारे पास अभी तीन दिन हैं |"होम्स ने जम्हाई लेते हुए कहा| " यह तो बहुत अच्छा हुआ क्योंकि मेरे पास तहक़ीकत करने के लिए अभी एक दो मामले और भी हैं |"

"अभी तो महामहिम निश्चित रूप से लंदन में ही रहेंगे न |"

“निश्चित रूप से। आप मुझे काउंट वॉन क्रैम के नाम से लैंगहम में पाएंगे|"

“तब तो मैं आपको सूचित कर सकता हूँ कि हम काम में कहाँ तक पहुंचे |"

"कृपया ऐसा ही कीजियेगा, मुझे चिंता रहेगी |"

"फिर, इसकी कीमत क्या ?"

"कार्टे ब्लैंचे आपका ।"

"पूर्ण रूप से?"

"मैं आपको कह रहा हूँ न कि उन तस्वीरों के लिए तो मैं मेरे राज्य के प्रांतों में से एक आपको दे दूँगा। "

"और वर्तमान खर्च के लिए?"

राजा ने एक भारी सांभर के चमड़े का थैला उसके कपड़े के नीचे से उठाया और मेज पर रख दिया।

"इस में तीन सौ पौंड का सोना है और सात सौ के नोट हैं। "राजा ने कहा।

होम्स ने उसकी किताब के एक पैन पर रसीद लिखी और उसे सौंप दी।

"और मैडेमोइसेल का पता?" होम्स ने पूछा।

"ब्रायोनी लॉज, सर्पटाइन एवेन्यू, सेंट जॉनस वुड। "

होम्स ने अपनी डायरी में लिख लिया। "एक और सवाल,"

उन्होंने कहा। "क्या तस्वीर की कोई पैटी थी?"

" हाँ थी ।"

"ठीक है, फिर, शुभ रात्रि, महाराज, और मुझे भरोसा है की हम जल्द ही आपके पास किसी खुश कबरई के साथ लौटेंगे। और वाटसन तुम्हें भी शुभ रात्रि। उसने वाटसन की और देखते हुए कहा, जैसे ही रॉयल ब्रूम के पहियों की आवाज़ उसने सड़क पर सुनी। "अगर तुम्हें कल दोपहर में ३ बजे बाद कॉल करना ठीक रहे तो करना, मुझे इस मुद्दे पर तुमसे थोड़ी बातचीत करनी है।"

***