सर्वश्रेष्ठ उपन्यास प्रकरण कहानियाँ पढ़ें और PDF में डाउनलोड करें

चेक मेट - 7
द्वारा Saumil Kikani
  • 151

                               Episode 7राठोड ओर सोलंकी दोनों सोच विचार करते हुए प्रदीप के फ्लैट में यहां ...

मिखाइल: एक रहस्य - 13 - बदला
द्वारा Hussain Chauhan
  • 118

मुग़ल क्वीन से तकरीबन १५ मिनट की कैब राइड के बाद जय और माहेरा उनके अपार्टमेंट अपर्णा प्रेम पर पहुंच चुके थे जो शास्त्रीपुरम में स्थित था।"क्या यह तुम्हारा ...

सुलोचना - 2
द्वारा Dev Sharma
  • 134

अगले दिन राकेश सुबह सुबह गांव घूमने निकल पड़ा कोशिश थी कोई तो ऐसा होगा जो सुलोचना के बारे में कुछ जानता होगा इसी उधेड़बुन में घूमते घूमते राकेश ...

ये कैसा संन्यास- भाग ६
द्वारा Neerja Pandey
  • (11)
  • 325

अनुष्ठान की तैयारियां जोर-शोर से चल रही थी। सारे रिश्तेदारों नातेदारों को निमंत्रण दिया गया था।सभी की प्रतिक्षा हो रही थी। सभी की आवश्यकता के हिसाब से व्यवस्था की ...

भदूकड़ा - 56
द्वारा vandana A dubey
  • 356

कुंती की समझ मे भी सुमित्रा जी की सलाह आ गयी थी शायद। गाँव पहुंचते ही उसने सबसे पहले ज़मीन के कागज़ात निकलवाये, दोनों लड़कों को बुलाया और अपने ...

कर्म पथ पर - 61
द्वारा Ashish Kumar Trivedi
  • 259

                          कर्म पथ पर                        Chapter 61 जय को ...

LOVE AT FIRST SIGHT - 1
द्वारा Lucky
  • 261

LOVE AT FIRST SIGHT ....Lucky ?कहते है कि          दुआ करता हूँ की तेरी फतैह हो                 जिस का नाम है ...

शोर... एक प्रेमकहानी - 3
द्वारा Archana Yaduvanshi
  • 147

पुलिस ने बचाव किया तेज़ का लेकिन उनकी बातों से लग रहा था की कितनी फ़िक्र है. कोई सवाल ना उठे और तेज बच भी जाय. नरेन्द्र कम नहीं ...

सपना - 1
द्वारा Shivani Verma
  • 227

ट्रेनों की गड़गड़ाहट के बीच, स्टेशन के पिछले हिस्से की तरफ रेलवे ट्रैक पर बैठी सपना की आंखों से झर-झर आंसू बह रहे थे. उधर से निकलने वाले लोग ...

आइलैंड ऑफ द् वैम्पायर्स - भाग- 3
द्वारा pratibha singh
  • 173

इसाबेल के आँख खोलते ही उसकी नजर उस लड़के पर पड़ती है जो उसे गुफा में लेकर आया था "तुम कौन हो और मै कहा हूँ" इसाबेल  हैरानी से ...

मानसिक रोग - 10
द्वारा Priya Saini
  • 145

आनन्द की देह को सामने देखकर श्लोका निरंक खड़ी रहती है। दूसरी ओर आनन्द के पिता अपने कलेजे पर पत्थर रखकर उसके अंतिम संस्कार की तैयारी करते हैं। थोड़ी ...

हारा हुआ आदमी(भाग 6)
द्वारा किशनलाल शर्मा
  • 147

और कुछ देर बाद,इंजन की सिटी के साथ ट्रेन प्लेटफार्म से सरकने लगी थी।धीरे धीरे स्टेशन पीछे छूट गया।ट्रेन की रफ्तार बढ़ने लगी थी। देवेन खिड़की के पास बैठा था।वह ...

कर्म पथ पर - 60
द्वारा Ashish Kumar Trivedi
  • 264

                        कर्म पथ पर                      Chapter 60 गांव की दस लड़कियां ...

अरमान दुल्हन के - 2
द्वारा एमके कागदाना
  • 451

अरमान दुल्हन के भाग -2हम सब बहन भाई भी नई नवेली भाभी को कितनी देर तक घेरकर बैठे उटपटांग सवाल किये जा रहे थे ।भाभी भी चार-पांच घंटे का ...

भदूकड़ा - 55
द्वारा vandana A dubey
  • 566

साल भर तक तो कुंती छोटू के घर गयी ही नहीं। बाद में जब छोटू की बेटी की शादी तय हुई तब छोटू और उसकी पत्नी आ के उसे ...

ये कैसा संन्यास- भाग ५
द्वारा Neerja Pandey
  • (16)
  • 803

अब केशव की पोस्टिंग गांव के पास वाले शहर में हो गई। वो बहुत खुश था अपने घर आकर। मां कान्ता भी बेहद खुश थी कि बेटा पास आ ...

मानसिक रोग - 9
द्वारा Priya Saini
  • 229

 पिछले भाग में आपने पढ़ा आनन्द का पप्रोमोशन हो जाता है। घर के सब लोग असमंजस में आ जाते हैं। अभी तो सगाई की तारीख़ तय हुई है, श्लोका ...

तानाबाना - 9
द्वारा Sneh Goswami
  • 244

         तानाबाना   -  9 एक तरफ तो सतघरे में गाँव की बारह से सोलह साल की सभी लङकियों की शादी की तैयारियाँ जोर -शोर से चल ...

कर्म पथ पर - 59
द्वारा Ashish Kumar Trivedi
  • 207

                   कर्म पथ पर                 Chapter 59माधुरी स्टेशन के बाहर निकल रही थी। पीछे से ...

चेक मेट - 6
द्वारा Saumil Kikani
  • 343

                                 Episode 6सोलंकी और राठोड मकान के पार्किंग एरिया में खड़े थे और अभी ...

2 MAD PART 7
द्वारा VARUN S. PATEL
  • 187

         हेल्लो दोस्तो तो केसे हो आप लोग। मे फिरसे हाजिर हु आप सब के बिच आपकी अपनी सबसे मजेदार नवलकथा को लेकर जीसमे प्यार, ड्रामा ...

भदूकड़ा - 54
द्वारा vandana A dubey
  • 658

भीषण गर्मी में भी सुमित्रा जी का घर, हरियाली की वजह से ठंडा रहता है। आम के पेड़ों ने चारों तरफ से घर को घेर रखा है। सुबह तिवारी ...

रिसते घाव (भाग १८)
द्वारा Ashish Dalal
  • 300

बिस्तर पर लेटते ही अमन नींद के आगोश में समा गया । श्वेता उसकी बगल में लेटे हुए करवटे बदलती रही । अपनी और अमन की भावी जिन्दगी के ...

कर्म पथ पर - 58
द्वारा Ashish Kumar Trivedi
  • 326

                       कर्म पथ पर                   Chapter 58हैमिल्टन दीवान पर मसनद लगाए हुए लेटा ...

ये कैसा संन्यास- भाग ४
द्वारा Neerja Pandey
  • (17)
  • 790

आज केशव का बारहवीं का रिजल्ट घोषित हुआ था और वो पास हो गया था। कान्ता बेहद खुश थी। माधव घर की जिम्मेदारियों को निभाने में पढ़ ना सका ...

बंधन जन्मोंका - 7 - अंतिम भाग
द्वारा Dr.Bhatt Damaynti H.
  • 241

( प्रिय वाचक मित्रों , आपका बहुत बहुत धन्यवाद, एवं मातृभारती का भी बहुत बहुत धन्यवाद । प्रकरण-6 में हमने देखा कि सोना और सूरज एवं उनके सभी दोस्तों ...

अन्जान रिश्ता -5 - आखरी रात
द्वारा suraj sharma
  • 490

दादी शरम से अपना चेहरा छुपानी लगी और रानी ने दादी की ओर देख कर कहना कहना शुरू किया " क्या गलती थी मेरी माँ?" रानी ने जैसे ही ...

आइलैंड ऑफ द् वैम्पायर्स - भाग-2
द्वारा pratibha singh
  • 363

जोर्गा पत्तो को तोड़ता और रास्ते में डालता हुआ आगे बढ़ रहा था वो बारबार आवाजे दिए जा रहा था शायद कोई उसकी आवाज सुन के आये पर सब ...

प्रेम - दर्द की खाई (भाग- 5,6,7,8,9)
द्वारा प्रवीण बसोतिया
  • 193

             5. दर्द की खाईमम्मी पापा ने रणवीर को  अमेरिका (USA)  भेज दिया। मगर रणवीर की जिंदगी  वहाँ जाकर ठीक होगी  या नहीं इस ...

मानसिक रोग - 8
द्वारा Priya Saini
  • 263

श्लोका के इज़हार से आनन्द बेहद खुश था। उसकी खुशी का कोई ठिकाना ही नहीं था। बेइंतहा मोहब्बत जो करता था श्लोका से। दोनों बहुत खुश थे। श्लोका ने ...