Ziro oil recipe books and stories free download online pdf in Hindi

जीरो ऑयल रेसिपी

जीरो ऑयल रेसिपी

  • थोपा
  • भरवीं रवा इडली
  • भाप में पके दही बडे
  • मक्की दी इडली
  • माईक्रोवेव में बेसन का ढोकला
  • लौकी की मुठिया
  • सिवई की इडली
  • मैथी की गट्टे
  • सवां (व्रत) के चावल
  • बेसन का ढोकला
  • दाल चावल की इडली
  • हांडवो
  • रावा ढोकला
  • रवा उपमा
  • उत्तपम
  • झटपट ढोकला
  • 01 - थोपा

    बेसन - 100 ग्राम (1 कप)

    नमक - 1 छोटी चम्मच से कम (स्वादानुसार)

    तेल - 2 टेबल स्पून

    हींग 1-2 पिंच

    जीरा - एक छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 1-2

    अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा बारीक कटा हुआ

    हरा धनियां - एक टेबल स्पून कटा हुआ

    बेसन को किसी बर्तन में छान लें. हरी मिर्च और अदरक को धो लें. मिर्च को बीज हटाकर बारीक काट लें और अदरक को भी बारीक काट लें. अब एक थाली में घी लगाकर उसे चिकना कर के रख लें.

    कढा़ई में 1 चम्मच तेल को हल्का गर्म करके इसमें बेसन डाल दें. बेसन को हल्का भूरा होने तक चलाते हुए भूनें. जब बेसन भुन कर तैयार हो जाए तो गैस बंद कर दें.

    भुने बेसन में 600 ग्राम (तीन गुना) पानी डाल कर घोलें. पाने को धीरे-धीरे डालें और अच्छे से घोलें ताकि बेसन की गुठलियां ना बनें. इसमें नमक भी डाल लें.

    अब किसी कढाई या भगोने को धीमी आँच पर गर्म करें. इसी में हम थोपा बनाएंगे. कढा़ई में बचा हुआ तेल डालकर गर्म कर लें. इसमें हींग और जीरा डाल कर भूनें. अब हरी मिर्च और अदरक डाल कर बिलकुल हल्का सा भून लें. इस मसाले में बेसन वाला घोल डाल कर उसे चलाते रहें और मीडियम व तेज़ आँच पर गाढा़ होने तक पकाएं. जब 10-12 मिनट में ये गाढा़ हो जाए तो गैस बंद कर दें.

    मिश्रण को चिकनी की हुई थाली में डाल दें. ध्यान रहे कि मिश्रण आधा सें. मी. की उँचाई या मोटाई में हो. फिर इसे ठंडा होना रख दें. ये लगभग आधे घंटे में ठंडा हो जाएगा और जम जाएगा.

    अब आप जमे हुए थोपे को कतलियों की तरह काट लें. थोपा तैयार है हरा धनिया डाल कर इसे दही या चटनी के साथ खाएं. उपर बताई सामग्री से 50 मिनट में 4 लोगों के लिए थोपा तैयार हो जाएगा.

    02 - भरवीं रवा इडली

    इडली के लिए:

    रवा (सूजी) - 300 ग्राम (1 1/2 कप)

    दही - 300 ग्राम (1 1/2 कप)

    नमक - स्वादानुसार या 1 छोटी चम्मच

    ईनो साल्ट - 3/4 छोटी चम्मच

    तेल - 2 बड़ी चम्मच

    राई - एक छोटी चम्मच

    करी पत्ता - 10 - 12

    उरद दाल - 1 छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 1 (बारीक कतरी हूई)

    पिठ्ठी के लिए:

    उबले आलू - 2 मीडियम आकार के

    पालक - एक कप बारीक कटी हुई

    हरी मिर्च - 1 (बारीक कटी हुई)

    अदरक पेस्ट - 1 छोटी चम्मच

    नमक - आधा छोटी चम्मच

    तेल - 2 छोटी चम्मच

    सबसे पहले दही को फ़ैंट लें. अब एक बर्तन में सूजी को छान कर उसमें फ़ैंटी हुई दही को मिला लें. घोल ज़्यादा गाढा लगे तो थोडा़ पानी डाल लें. इन्हें अच्छे से मिला लें ताकि गुठलियां ना बनें. नमक डाल कर घोल को फ़ैंटें और 15 मिनट के लिए ढक कर रख दें ताकि सूजी फूल कर सैट हो जाए.

    किसी पैन या छोटी कढाई में तेल गर्म करके राई डालकर उसे तड़का लें. फिर करी पत्ता और उरद दाल डाल कर थोडा़ हल्का ब्राउन होने तक भून लें. अब हरी मिर्च डालकर थोडा़ भून लें और सारे मिश्रण को अच्छे से मिला लें.

    पिठ्ठी बनाएं:

    उबले आलू को छील कर बारीक तोड़ लें. एक कढा़ई में तेल गर्म करके उसमें राई डाल कर तड़का लें. फिर अदरक और हरी मिर्च डाल कर थोडा़ भूनने के बाद पालक डाल कर नरम होने तक पका लें. अब आलू और नमक डाल कर अच्छे से मिला लें, पिठ्ठी तैयार है.

    इडली बनाएं:

    कूकर में 1-2 कप पानी डाल कर उबलने के लिए रख दें.

    इडली के मिश्रण में ईनो फ़्रूट साल्ट डाल कर अच्छे से मिला लें. जैसे ही मिश्रण फूलने लगे तो चम्मच चलाना बंद कर दें. इडली स्टैंड को तेल लगाकर चिकना कर लें और चम्मच की मदद से स्टैंड के खांचों में मिश्रण भरें. लेकिन खांचों को आधे से कम भरें. अब थोडी़-थोडी़ पिठ्ठी मिश्रण के उपर रखें और फिर पिठ्ठी के उपर चम्मच से और मिश्रण डाल कर पिठ्ठी को ढक दें. इसी तरह बाकी खांचों को भी भर लें.

    खांचों को इडली स्टैंड में लगाकर कूकर में पानी में भाप बन जाने पर उसमें स्टैंड को रख लें. और बिना सीटी लगाए कूकर का ढक्कन बंद कर दें. तेज़ आंच पर इडली को इसी तरह 10 मिनट पकने दें.

    10 मिनट बाद कूकर को खोल कर इडली में चाकू डाल कर चैक करें, अगर मिश्रण चाकू पर नहीं चिपकता तो इडली तैयार है. इडली स्टैंड को कूकर से बाहर निकालें. ठंडा होने पर चाकू की मदद से इडली को प्लेट में निकाल लें.

    भरवां रवा इडली तैयार है. इसका मज़ा सांबर नारियल की चटनी या अपनी मनपसंद चटनी के साथ लें.

    03 - भाप में पके दही बडे

    उरद की दाल - 150 ग्राम (1 कप )

    मूंग की दाल - 150 ग्राम ( 1 कप )

    अदरक - 1 इंच लम्बे टुकडे़ का पेस्ट

    नमक - स्वादानुसार (आधा छोटी चम्मच)

    हींग - 1 पिंच

    ईनो साल्ट - आधा छोटी चम्मच

    दही बडों की चाट के लिए:

    दही - 500 ग्राम ( 2 1/2 कप)

    नमक - आधा छोटी चम्मच(स्वादानुसार)

    काला नमक - आधा छोटी चम्मच

    भुना जीरा पाउडर - 2 छोटी चम्मच

    लाल मिर्च पाउडर - आधा छोटी चम्मच

    हरा धनियां - 2 टेबल स्पून बारीक कटा हुआ

    मीठी चटनी - आधा कप

    हरे धनिये की चटनी - आधा कप

    दोनो दालों को अच्छे से धो लें. फिर इन्हें साफ़ पानी में 4 घंटों के लिए भिगो दें. भीगने के बाद इनसे फालतू पानी निकाल कर दालों को दरदरा पीस लें और एक बर्तन में निकाल लें.

    इडली स्टैंड को तेल लगकर चिकना कर लें और कूकर में 2 गिलास पानी डाल कर गर्म होना रख दें लेकिन ध्यान रहे कि पानी इतना हो जिसमें इडली स्टैंड ना डूबे.

    पीस कर तैयार की दालों में नमक, हींग और अदरक का पेस्ट डाल कर मिला दें और् अच्छे से फ़ैंट लें. अगर बैटर आपको ज़्यादा पतला लग रहा हो तो इसमें थोडी़ सी सूजी मिला कर अच्छे से घोल लें. ईनो फ़्रूट साल्ट मिला कर चम्मच की मदद से इडली स्टैंड के खांचों में इस मिश्रण को डालें और गीले हाथ से दबाकर बडे़ का आकार दें. सारे खांचों को इसी तरह भर लें.

    अब इस स्टैंड को कूकर में रख दें और बिना सीटी लगाए ढ़क्कन बंद करके 10 मिनट के लिए भाप में पका लें. गैस बंद करके कूकर से स्टैंड़ को निकाल लें और ठंडा करके दही बडे़ निकाल लें. भाप में पके दही बडे़ तैयार हैं.

    परोसने के लिए एक प्लेट में 2 दही बडे़ रखें और उसपर 4 चम्मच दही डाल दें. अब इसपर थोडा़ सा सादा नमक, लाल मिर्च पाउडर, भुना जीरा पाउडर, काला नमक, मीठी चटनी, धनिया चटनी और हरा धनिया डाल कर सर्व करें. भाप में पके दही बडे़ मज़े से खाएं.

    04 - मक्की दी इडली

    मक्के का आटा - 1 कप

    दही - 1 कप ( फैंट लें)

    तेल - 2 टेबल स्पून

    हरा धनियां - 2-3 टेबल स्पून

    करी पत्ता - 10-12

    राई - आधा छोटी चम्मच

    चना दाल - 1 छोटी चम्मच

    उरद दाल - 1 छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 1-2 बारीक काट लीजिये

    अदरक - 1/2 - 1 इंच टुकड़ा कद्दूकस कर लें

    नमक - 1 छोटी चम्मच नमक (स्वादानुसार नमक)

    ईनो फ्रूट साल्ट - 3/4 छोटी चम्मच

    किसी पैन में 2 चम्मच तेल डालकर गर्म करें फिर उसमें राई डालकर तडका लें. अब चने और उरद की दाल डाल कर रंग बदलने तक भूनें. इसके बाद अदरक, हरी मिर्च और करी पत्ता डाल दें और हल्का सा भूनें. अब मक्के का आटा डाल कर 2-3 मिनट तक चलाते हुए भूनें.

    भुने मिश्रण को अलग बर्तन में निकाल लें. इसमें नमक, दही और हरी धनिया डाल कर मिलाएं और पानी डालकर चावल की इडली जितना पतला घोल बना लें. इसे अच्छे से घोल कर 10 मिनट के लिए रख दें. 10 मिनट में मिश्रण सैट हो जाएगा.

    एक कूकर में 2-3 कप पानी डाल कर उबलने के लिए रख दें और इडली स्टैंड में तेल लगा कर उसे चिकना करें. अब फूले हुए इडली मैटर में ईनो फ्रूट साल्ट डालें और मिला कर तैयार मैटर को इडली स्टैंड में डालें.स्टैंड को कूकर में उबाल आये पानी में रखें और बिना सीटी लगाये ढ़्क्कन बंद करके 12-14 मिनट के लिए पकने दें. आंच इतनी रखें कि कूकर में लगातार भाप बनती रहे.

    निश्चित समय के बाद कूकर खोल कर इडली में चाकू डालकर देखें.अगर मिश्रण चिपक कर नहीं आता तो आपकी इडली तैयार है. स्टैंड को कूकर से निकालें और ठंडा होने के बाद चाकू की मदद से इदली को खांचों से निकालकर प्लेट में रख लें. अपनी मनपसद चटनी के साथ परोसें और मक्के दी इडली का मज़ा

    05 - माईक्रोवेव में बेसन का ढोकला

    ढोकला मिश्रण के लिए:

    बेसन - 1 कप

    सूजी - 1/4 कप

    नीबू - 1 मीडियम आकार का

    अदरक - आधा इंच टुकड़ा, कद्दूकस किया हुआ

    चीनी - 2 छोटे चम्मच

    नमक - 3/4 छोटी चम्मच

    ईनो फ्रूट साल्ट - 1 छोटी चम्मच

    ढोकला को तड़कने के लिए:

    हरी मिर्च - 2 लम्बी कटी हुई

    हरा धनियां - 2 टेबल स्पून बारीक कटा हुआ

    तेल - एक टेबल स्पून

    कच्चा नारियल - 1 टेबल स्पून (यदि आप चाहें)

    राई - आधा छोटी चम्मच

    करी पत्ता - 5-6

    तिल - 1 छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)

    एक बर्तन में बेसन और सूजी लेकर पानी डाल कर घोल बनाएं. घोल को ना तो ज़्यादा पतला बनाएं और ना ही ज़्यादा गाढा. ध्यान रखें कि घोल में गांठें बाकी ना रहें. अब इस घोल में अदरक, नमक,1 चम्मच चीनी और 1 नींबू का रस मिलाकर अच्छे से घोल दें और इसे 20 मिनट के लिए रख दें ताकि घोल फूल कर अच्छे से तैयार हो जाए.

    अब 7-8 इंच का माईक्रोवेव सेफ प्याला लेकर उसमें थोडा तेल लगकर उसे चिकना कर लें. अब फूले हुए घोल में ईनो फ्रूट साल्ट डाल कर अच्छे से मिला कर तैयार किए प्याले में डाल दें और खटखटा कर सैट कर लें. अब इसे ढक कर 3 मिनट के लिए माईक्रोवेव में अधिकतम तापमान पर रखें.

    निश्चित समय के बाद ढोकला में चाकू डालकर चैक करें. अगर चाकू पर बैटर नहीं चिपकता तो इसका मतलब आपका ढोकला तैयार है. और अगर बैटर चाकू पर चिपक जाए तो ढोकले को 1 मिनट के लिए और पका लें. इस तरह ढोकला अच्छे से तैयार कर लें.

    तड़का लगाएं:

    पैन में तेल गर्म करके राई डालकर तड़काएं और फिर करी पत्ता डाल कर तिल डालें और हल्का भूनकर हरी मिर्च डाल कर पकाएं. हल्का पका कर तड़के में आधा कप पानी डालकर बची हुई 1 चम्मच चीनी डाल कर उबाल आने दें. जब चीनी पानी में घूल कर पक जाए तो ढोकले का तड़का तैयार है.

    ढो कले के चारों तरफ़ चाकू घूमा कर इसे प्याले से अलग कर लें और फिर प्याले को किसी प्लेट पर उलटा करके ढो कले को प्याले से निकाल लें. अब इसे अपने मनचाहे आकार में काटें और इसके उपर चम्मच से तड़के वाला पानी सब तरफ डालें. ढोकला इसे सोख लेगा और नरम हो जाएगा.

    06 - लौकी की मुठिया

    मुठिया का आटा बनाने के लिए:

    लौकी - 2 कप (कद्दूकस की हुई)

    गेहूं का आटा - 125 ग्राम (1 कप )

    सूजी - 100 ग्राम (3/4 कप)

    बेसन - 100 ग्राम (3/4 कप)

    हरी मिर्च - 2 पतली कटी हुई

    अदरक - 2 इंच लम्बा टुकडे़ का पेस्ट

    हल्दी पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच

    तेल - 1 टेबल स्पून

    नमक - स्वादानुसार (3/4 छोटी चम्मच)

    चीनी - 2 छोटी चम्मच

    खाने का सोडा - आधा छोटी चम्मच

    हरा धनियां - 2 टेबल स्पून (बारीक कतरा हुआ)

    तड़के के लिए:

    तेल - 2 टेबल स्पून

    जीरा - 1 छोटी चम्मच

    राई - 1 छोटी चम्मच

    तिल - 1 टेबल स्पून

    करी पत्ता - 10-12

    हींग - 2-3 पिंच

    नमक - एक चौथाई छोटी चम्मच

    नीबू - 1

    हरा धनियां - 1 टेबल स्पून(बारीक कतरा हुआ)

    कद्दूकस की हुई लौकी से सारा पानी निचौड़ कर अलग बर्तन में निकाल लें. आटा बनाते समय ज़रूरत पड़ने पर इसी पानी का इस्तेमाल करें.

    किसी बर्तन में आटा,बेसन और सूजी छान लें. अब इसमें कद्दूकस की लौकी, अदरक का पेस्ट, कटी हरी मिर्च और बाकी सारी दी हुई सामग्री डाल कर मिला लें और आटे को अच्छे से गूंथ लें. पानी की ज़रूरत लगे तो लौकी वाले पानी को डाल लें. अब आटे को 15-20 मिनट के लिए ढक कर रख दें.

    हाथों पर थोडा-थोडा तेल लगाकर आटे से छोटी-छोटी बेलनाकार मुठिया बना लें. इन्हें पकाने के लिए मोमोज़ के बर्तन या इडली स्टैंड का इस्तेमाल करें और किसी पानी वाले बर्तन में रखकर भाप में 25-30 मिनट तक पका लें.

    चाकू डालकर देखें, अगर बैटर चिपक कर नहीं आता तो मुठिया तैयार हैं. गैस बंद करके मुठिया ठंडी कर लें और फिर तड़का लगाने के लिए आधा इंच मोटे टुकडों में काट लें.

    कढाई में तेल गर्म करके जीरा, राई, करी पत्ता, हींग और तिल डालकर तड़का लें. फिर इसमें कटे हुए मुठिया, नींबू का रस, नमक और हरा धनिया डाल कर मिला दें और 5-6 मिनट तक चलाते हुए भूनें.

    तैयार है लौकी की गर्म-गर्म मुठिया. हरे धनिया या पुदीने की चटनी के साथ परोसें.

    07 - सिवई की इडली

    सिवई (वरमीसैली) - 1 कप

    सूजी (रवा) - 1/2 कप

    दही - 1 कप

    नमक - स्वादानुसार (3/4 छोटी चम्मच)

    तेल - 2 टेबल स्पून

    राई - 1/4 छोटी चम्मच

    उरद की दाल - 1 छोटी चम्मच

    करी पत्ता - 10-12 (बारीक कतरे हुए)

    हरी मिर्च - 1 छोटी ( बारीक कतरी हुई)

    अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा बारीक कटा हुआ

    ईनो फ़्रूट साल्ट - 3/4 छोटी चम्मच

    सिवई और सूजी को एक साथ एक कढाई में डाल कर हल्का भूरा होने और सुगन्ध आने तक भूनें. फिर इन्हें एक अलग प्याले में निकाल लें.

    दही को फैंट कर सिवई और सूजी में मिला दें. ज़्यादा गाढा लगने पर इसमें 1-2 चम्मच पानी डाल कर अच्छे से मिला लें. और घोल को अच्छे से तैयार कर लें.

    अब एक पैन या छोटी कढाई में तेल डाल कर गर्म करें.फिर इसमें सरसों डाल कर तड़का लें. उरद दाल डाल कर हल्का ब्राउन होने तक भून लें और करी पत्ता, अदरक व हरी मिर्च भी डाल लें.

    तैयार मसाले में नमक और दही सेवई वाला मिश्रण डाल दें और अच्छे से मिला कर 20 मिनट के लिए ढककर रख दें.

    कूकर में 1-2 गिलास पानी डालकर गर्म होना रख दें. इडली स्टैंड में तेल लगाकर उसे चिकना करें. अब फूल कर तैयार हो चुके मिश्रण में ईनो फ्रूट साल्ट डाल कर चम्मच से मिलाएं. जैसे ही मिश्रण फूलने लगे तो चम्मच चलाना बंद कर दें.

    अब चम्मच से इडली स्टैंड के खांचों में इस मिश्रण को भरें. खांचों को स्टैंड में सैट करके कूकर के पानी में भाप बनने पर रख दें. बिना सीटी लगाए कूकर का ढ़क्कन बंद कर दें. 10-12 मिनट में इडली तैयार हो जाएगी. चाकू डाल कर चैक करें. अगर बैटर चाकू पर नहीं चिपकता तो इडली तैयार है.

    स्टैंड को कूकर से बाहर निकाल लें. ठंडा होने पर चाकू की मदद से इडली को खांचों से निकाल लें. सिवई की इडली का मज़ा अपनी मनपसंद चटनी के साथ लें.

    08 - मैथी की गट्टे

    गट्टे के आटे के लिए:

    बेसन - 200 ग्राम (एक कप )

    मैथी - 200 ग्राम ( 1 कप्

    हींग - 1-2 पिंच

    नमक - आधा छोटी चम्मच

    लाल मिर्च - एक चौथाई छोटी चम्मच

    धनियां पाउडर - एक छोटी चम्मच

    तेल - 1 टेबल स्पून

    गट्टे फ़्राई करने के लिए:

    तेल - 1 1/2 टेबल स्पून

    हींग - 1 पिंच

    जीरा - आधा छोटी चम्मच

    राई - आधा छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 1-2 (बारीक कतर लीजिये)

    अदरक - एक इंच लम्बा टुकड़ा (बारीक कतर लीजिये)

    धनियां पाउडर - 1 छोटी चम्मच

    लाल मिर्च पाउडर - एक चौथाई छोटी चम्मच (यदि आप चाहैं)

    नमक - आधा छोटी चम्मच (स्वादानुसार)

    अमचूर पाउडर - आधा छोटी चम्मच

    गरम मसाला - एक चौथाई छोटी चम्मच

    गट्टे बनाने के लिए आटा गूंथें:

    मेथी के पत्तों को डंठल से अलग कर लें. फिर इन्हें 2-3 बार पानी से अच्छे से धो लें. इन्हें किसी प्लेट में तिरछा करके रख लें या छलनी में डाल कर पानी निकाल लें. फिर इसे बारीक कतर लें.

    अब एक बर्तन में बेसन को निकाल लें. इसमें कतरी हुई मेथी, नमक, हींग, लाल मिर्च, धनिया पाउडर और तेल डाल कर मिलाएं और इसे गूंथ लें. इसमे पानी बहुत कम लगता है इसलिए ज़रूरत के अनुसार 1-2 चम्मच पानी डाल लें. आटे को नरम गूंथ कर 10-15 मिनट कर लिए रख दें.

    तैयार आटे से बडे नींबू के बराबर की लोई लेकर हाथों से ¾ इंच मोटे व्यास के बेलनाकार रोल बना लें. बाकी आटे से भी इसी प्रकार रोल बना लें.

    एक भगोने में इतना पानी लें जिसमें सारे रोल डूब जाएं. (750 ग्राम या 4 कप). पानी को उबलने के लिए रख दें. जब पानी में उबाल आ जाए तो उबलते पानी में ही तैयार किए रोल को 1-1 करके डालें ताकि पानी हर समय उबलता नज़र आए. इन्हें तेज़ आँच पर 10-15 मिनट उबलने दें. फिर गैस बंद करके इसे ठंडा करें. और रोल्स को पानी से निकाल कर इन्हें छलनी में रखकर फालतू पानी निकाल दें. जब ये रोल्स ठंडे हो जाएं तो इन्हें आधा इंच मोटे टुकडों में काट कर गट्टे बना लें.

    गट्टों को फ्राई करें:

    एक कढाई में तेल गरम करें. अब गरम तेल में हींग, जीरा और राई डाल कर तड़का लें. फिर इसमें हरी मिर्च, अदरक और धनिया पाउडर डाल कर चलाते हुए थोडा सा भूनें. अब इस मसाले में गट्टे डालकर उपर से नमक, लाल मिर्च, गरम मसाला और अमचूर पाउडर बुरक दें. इन सबको चलाते हुए 2-3 मिनट तक भूनें. फ़्राई मेथी के गट्टे तैयार हैं.

    इन्हें किसी प्लेट या बर्तन में निकालें. दही चटनी, चावल या चपाती के साथ इसका मज़ा लें.

    09 - सवां (व्रत) के चावल

    संवा के चावल - 100 ग्राम(आधा कप)

    पानी - 300 ग्राम ( 1 1/2 कप )

    घी - 1 टेबल स्पून

    जीरा - एक चौथाई छोटी चम्मच

    काली मिर्च -3-4

    लौंग -1-2

    बड़ी इलाइची - 2

    काजू - 10-12

    बादाम - 8

    किशमिश - 20

    सेधा नमक - स्वादानुसार(आधा छोटी चम्मच)

    चावल को साफ़ करके धो लें और 20 मिनट के लिए पानी में भीगा रहने दें.

    अब किशमिश के डंठल अलग कर लें और काजू-बादाम को 2-2 टुकडों में काट लें. काली मिर्च, लौंग और बडी इलायची को दरदरा पीस कर रख लें.

    एक बर्तन में 1 चम्मच घी गरम करके उसमें काजू, बादाम व किशमिश डाल कर हल्का गुलाबी होने तक भून लें और फिर किसी अलग बर्तन में निकाल लें.

    बचे हुए घी में जीरा डालकर थोडा सा भूनें. इसमें पिसी हुई काली मिर्च, लौंग और इलायची डाल कर थोडा और भूनें, फिर सेंधा नमक और पानी डाल कर उबाल आने दें. जब उबाल आ जाए तो इसमें चावल डाल दें. एक और उबाल आने के बाद गैस को धीमी कर दें. 6-7 काजू बादाम के टुकडे अलग बचा कर बाकी सारे काजू, बादाम और किशमिश को चावल में डाल दें. अब चावल के नरम होने तक इन्हें पका लें.

    आपके सवां चावल के पुलाव तैयार हैं. इन्हें प्याले में निकाल कर काजू बादाम से सजाएं और परोसें. उपर बताई सामग्री से लगभग 20 मिनट में ये पुलाव तैयार हो जाएंगे.

    10 - बेसन का ढोकला

    ढोकल मिश्रण के लिए:

    बेसन - 200 ग्राम (2 कप)

    हल्दी - 1/6 छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)

    नमक - स्वादानुसार ( 1 छोटी चम्मच से कम)

    हरी मिर्च का पेस्ट - 1 छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)

    अदरक का पेस्ट - 1 छोटी चम्मच

    नीबू का रस - 1 टेबल स्पून (2 नीबू)

    ईनो साल्ट - 3/4 छोटी चम्मच से थोड़ा कम

    ढोकला तड़कने के लिए:

    तेल - 1 टेबल स्पून

    राई - आधा छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 2 - 3 (2 टुकड़े करके लम्बाई में काट लीजिये)

    नमक - 1/4 छोटी चम्मच(स्वादानुसार)

    चीनी - 1 छोटी चम्मच

    नीबू का रस - 1 छोटी चम्मच (यदि आप चाहें)

    हरा धनियां - 1 टेबल स्पून (बारीक कतरा हुआ)

    एक बर्तन में बेसन को छान लें और फिर उसमें धीरे-धीरे पानी डालते हुए घोल बनाएं. ध्यान रहे कि इसमें गुठलियां ना रहें. साथ ही इसमें हल्दी भी डाल कर मिला दें और इस घोल को 20 मिनट के लिए ढक कर रख दें ताकि ये फूल कर सैट हो जाए.

    जिस बर्तन में ढोकला बनाना हो उसमें 2 छोटे गिलास पानी डाल कर गरम होने के लिए रख दें और उसमें एक स्टैंड भी रख दें जिसपर ढोकले वाली थाली रखेंगे. जिस थाली में मिश्रण डालना है उसे तेल लगा कर चिकना कर लें.

    अब ढोकला मिश्रण में नींबू का रस, मिर्ची पेस्ट, अदरक पेस्ट और नमक डाल कर अच्छे से मिला लें. इसमें ईनो फ्रूट साल्ट डाल कर मिलाएं और जैसे ही मिश्रण फूलने लगे इसे तुरंत तेल लगी थाली में डाल कर गरम हो रहे पानी वाले बर्तन में रखे स्टैंड पर रख दें. अब पानी वाले बर्तन को उपर से ढक दें. लगभग 20 मिनट में मीडियम आंच पर ढोकला बन कर तैयार हो जाएगा.

    ढोकला बन गया है या नहीं ये देखने के लिए इसमें चाकू डाल कर देखें, अगर बैटर चाकू पर नहीं चिपकता तो ढोकला तैयार है. इसे पानी वाले बर्तन से निकाल लें. थाली ठंडी होने पर ढोकला के चारों तरफ चाकू घुमा कर इसे थाली से अलग करें और किसी दूसरी प्लेट में निकाल लें. अब इसे अपनी पसंद के टुकडों में काट लें.

    तड़का लगाएं:

    कढाई में तेल गरम करके उसमें राई को डाल कर तड़का लें. फिर हरी मिर्च डाल कर थोडा सा तल लें. अब इसमें आधा कप (100 ग्राम) पानी डाल कर चीनी और नमक मिला लें और उबाल आने पर गैस बंद कर दें. इसमें नींबू का रस मिला कर ढोकले पर सारी तरफ डाल दें. गर्मा-गर्म ढोकला को हरी धनिया या कद्दूकस किया नारियल डाल कर सजाएं और परोसें.

    बाज़ार में मिलने वाले ढोकला में टार्टरिक एसिड का इस्तेमाल किया जाता है. आप भी चाहें तो इसका इस्तेमाल कर सकते हैं. इतना ढोकला बनाने के लिए 2 काबुली चने जितना टुकडा लेकर पानी में मिलाकर ढोकला मिश्रण में मिलाएं और उपर बताई विधि के अनुसार ही बना लें.

    11 - दाल चावल की इडली

    चावल - 3 कप

    उरद की धुली दाल - 1 कप

    बेकिंग सोडा - 1/2 छोटी चम्मच

    नमक - स्वादानुसार

    तेल - इडली स्टैन्ड चिकना करने के लिये

    उरद की दाल और चावल को साफ़ करके धो लें. दोनो को अलग-अलग बर्तन में डाल कर 4 घंटे या पूरी रात के लिए भिगो दें.

    भीगने के बाद दाल से फ़ालतू पानी निकाल दें और ज़रूरत के अनुसार पानी का इस्तेमाल करते हुए इसे एकदम बारीक पीस लें. अब चावल को भी फ़ालतू पानी निकाल कर थोडा मोटा पीस लें. अब पिसी दाल और चावल को मिला कर इनका इतना गाढा घोल बना लें कि चम्मच से गिराने पर ये धार की तरह ना गिरे.

    अब बारी है मिश्रण को फ़रमेन्ट करने की. इसके लिए घोल में स्वाद के अनुसार नमक और बेकिंग सोडा डालकर मिलाएं और इसे 12-14 घंटों के लिए ढक कर किसी गरम जगह पर रख दें. निश्चित समय के बाद मिश्रण दोगुना हो जाता है.

    इडली बनाएं:

    मिश्रण को चम्मच से चलाएं, ये ज़्यादा गाढा लगे तो ज़रूरत के अनुसार और पानी मिला लें. चाहें तो इडली बनाने के पारंपरिक बर्तन में इडली बनाएं और ये बर्तन ना हो तो इडली मेकर और कूकर में इसे बना लें.

    कूकर में 2 छोटे गिलास पानी डाल कर उबालने के लिए रखें. इडली स्टैंड के खांचों को तेल लगा कर चिकना करें. चम्मच से खांचों में मिश्रण भरें और खांचों को स्टैंड में सैट करें. अब इस स्टैंड को कूकर में रख कर बिना सीटी लगाए उसका ढक्कन बंद कर दें.

    तेज़ आंच पर इन्हें 9-10 मिनट के लिए पकने दें. समय पूरा होने पर कूकर का ढक्कन खोल कर चैक करें. इडलियां बन कर तैयार हैं. इडली स्टैंड को कूकर से निकाल कर खांचों को अलग करें. ठंडा होने पर चाकू की मदद से इडलियों को खंचों से निकाल लें.

    नरम-नरम इडलियां तैयार हैं. इन्हें सांबर, नारियल की चटनी और मूंगफ़ली की चटनी के साथ परोसें और इस ज़ायके का मज़ा लें.

    इडली को फ़्राई करें:

    कभी कभार् इडली थोडी ज़्यादा बन जाती हैं तो हम उन्हें फ्रिज़ में रख देते हैं. जिससे इडली में नमी कुछ कम हो जाती है और इसे चटनी के साथ खाने मेम मज़ा नहीं आता. ऎसे में आप इडली को फ़्राई करके इनका मज़ा ले सकते हैं.

    इसके लिए एक कढाई में1-2 चम्मच तेल गरम करके उसमें राई डाल कर तड़काएं. फिर इसमें 1-2 कटी हुई हरी मिर्च, थोडा सा कटा अदरक और 6-7 करी पत्ते डाल कर हल्का भून लें. इसमें नारियल या मूंगफ़ली की चटनी, नमक और इडली को काट कर मिला लें और 2-3 मिनट तक फ़्राई कर लें. पसंद हो तो थोडा सा कटा टमाटर भी डाल लें.

    गर्मा-गर्म फ़्राईड इडली तैयार है. इसे प्लेट में निकाल कर हरा धनिया डाल कर सजाएं और खाएं. ये बेशक सभी को पसंद आएगी.

    इडली चाट:

    भारत में जो चीज़ जिस जगह जाती है वो वहां के रंग में ही रंग जाती है. जैसे इडली दक्षिण भारत का व्यंजन है लेकिन उत्तरी भारत में बनाई जाने वाली इडली की चाट ने इसके ज़ायके को एक अलग ही स्वाद दे दिया है.

    इडली की चाट बनाने के लिए इडली को एक प्लेट में रखकर उसमें 6-7 कट लगा दें. अब इसके उपर हरी धनिया की चटनी, मीठी चटनी, चाट मसाला, नमक, दही, भुना जीरा, छोटी सेव और अगर हों तो अनार के दाने डाल कर परोसें. इडली की चाट तैयार है.

    12 - हांडवो

    चावल - 1/2 कप

    चना दाल - 1/4 कप

    मूंग दाल - 1/4 कप

    उरद दाल - 1/ 4 कप

    दही - 1/2 कप

    हरी मिर्च - 2-3

    अदरक - 1 1/2 इंच लम्बा टुकड़ा

    हल्दी पाउडर - 1/4 छोटी चम्मच

    लौकी (दूधी या घीया) - 1 कप (कद्दूकस किया हुआ)

    गाजर - 1/2 कप (कद्दूकस की हुई)

    पत्ता गोभी - 1/2 कप (कद्दूकस की हुई)

    खाने का सोडा या ईनो साल्ट - 1 छोटी चम्मच

    नमक - स्वादानुसार (1 1/4 छोटी चम्मच)

    लाल मिर्च - आधा छोटी चम्मच

    चीनी - स्वादानुसार ( 1 छोटी चम्मच) यदि आपको पसन्द हो

    नीबू का रस - 2 छोटी चम्मच

    हरा धनियां - 2 टेबल स्पून

    तड़के के लिए:

    तेल - 3 - 4 टेबल स्पून

    राई के दाने - 1 छोटी चम्मच

    जीरा - 1 छोटी चम्मच

    तिल - 2 छोटी चम्मच

    हींग - 2 पिंच

    करी पत्ता - 10- 12

    चावलों को धो कर 5-6 घंटे के लिए पानी में भिगो दें. बाकी सारी दालों को भी इतने ही समय के लिए अलग-अलग बर्तन में डाल कर पानी में भिगो दें.

    चावलों से फ़ालतू पानी निकाल कर, इनमें अदरक और हरी मिर्च डाल कर हल्का दरदरा पीस लें और एक अलग प्याले में निकल लें. अब दालों से भी फ़ालतू पानी निकाल कर इन्हें बारीक पीस लें. दही को मथ लें और इन सबको अच्छे से मिला लें.

    मिश्रण को फ़रमेन्ट करने के लिए उसे किसी बडे प्याले में डल लें. प्याला इतना बडा हो कि मिश्रण फ़ूलने के बाद उसमें आसानी से आ सके. इसे ढक दें और किसी गरम जगह पर 10-12 घंटे के लिए रख दें.

    जब मिश्रण फूल जाए तो उसमें कद्दूकस की हुई सब्ज़ियां, हल्दी और स्वादानुसार नमक-मिर्च मिला लें.

    कढाई में तेल गरम करके राई, जीरा और तिल डाल कर भून लें. करी पत्ता और हींग भी डाल लें. गैस बंद कर दें. आधा तड़का मिश्रण में मिला लें और आधा बचा लें.

    13 - रावा ढोकला

    रवा (सूजी) - 110 ग्राम (एक कप)

    दही - 200 ग्राम (एक कप) फैंटी हुई

    नमक - आधा छोटी चम्मच (स्वादानुसार)

    हरे मटर के दाने - आधा कप

    फूल गोभी - आधा छोटी कटोरी (छोटा छोटा कटी हुई)

    अदरक - 1 इंच लम्बा टुकड़ा (बारीक कटा, कद्दूकस किआ हुआ)

    हरी मिर्च - 1 बारीक काट लीजिये (यदि आप चाहें)

    हरा धनियां - 2 टेबल स्पून (बारीक कटा हुआ)

    नीबू - एक छोटा सा (रस निकाल लीजिये)

    हल्दी पाउडर - 2-3 पिंच(यदि आप चाहें)

    तेल - 1 टेबल स्पून

    इनो पाउडर या खाना सोडा - 1/2 छोटी चम्मच

    तड़्के के लिए:

    तेल - 1- 2 टेबल स्पून

    राई - 1/2 छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 2 (लम्बी कटी हुई)

    हरा धनियां - 1-2 टेबल स्पून

    फ़ैटी हुई दही लेकर उसे सूजी में मिलाकर घोल लें. इसे अच्छे से घोलें ताकि मिश्रण में गांठें ना पडे. सब्ज़ियां और नमक डाल कर इसे मिला लें. अगर मिश्रण ज़्यादा गाढा लगे तो 1-2 चम्मच पानी डाल कर मिला लें.

    ढोकले को आप कूकर के सेपरेटर, भगोने या कढाई में थाली रखकर बना सकते हैं. कूकर का सेपरेटर थाली से छोटा होने के कारण हम ढोकला थाली में बनाएंगे.

    जिस भी बर्तन या कढाई मे थाली रखने हो उसमें 2 छोटे गिलास पानी डाल कर गरम करें. इस पानी में इस जाली स्टैंड रख दें जिस पर थाली रखनी होगी.

    एक थाली को तेल लगा कर चिकना कर लें. मिश्रण में ईनो फ्रूट साल्ट डाल कर मिलाएं. जब मिश्रण फूलने लगे तो चम्मच चलाना बंद कर दें. अब तैयार मिश्रण को चिकनी की थाली में डाल लें और थाली को गरम पानी में रखे स्टैंड पर रख दें और पानी वाले बर्तन को उपर से ढक दें. मीडियम और धीमी आँच पर इसे 18-20 मिनट के लिए पका लें. ध्यान रहे कि पानी में लगातार उबाल आता रहे. निश्चित समय के बाद ढोकला में चाकू डाल कर देखें, अगर मिश्रण चाकू पर नहीं चिपकता तो आपका ढोकला तैयार है.

    गैस बंद करके थाली को पानी वाले बर्तन से निकाल लें. ठंडा होने पर इसे चाकू की मदद से थाली से निकाल लें. ढोकला को अपनी पसंद के टुकडों में काटें.

    छोटी कढाई या पैन में तेल गरम करके उसमें राई डालकर तड़काएं. फिर इसमें हरी मिर्च डालें. जब हरी मिर्च हल्की ब्राउन हो जाए तो गैस बंद कर दें. इस तड़के हो कटे ढोकले के सारे टुकडों पर डालें. उपर से हरा धनिया डाल कर परोसें और मनपसंद चटनी के साथ खाएं.

    14 - रवा उपमा

    सूजी - 150 ग्राम (1 कप)

    घी - दो टेबल स्पून

    मुगफली के दाने - 50 ग्राम (1/3 कप)

    राई के दाने - एक छोटी चम्मच

    उरद दाल - 2 छोटे चम्मच

    हरी मिर्च - 2 य 3 बारीक कटी हुई

    अदरक - 1 इंच टुकड़ा (छोटा छोटा काट लीजिये)

    हरी मटर के दाने - आधा कटोरी

    गाजर - एक छोटी कटोरी कतरी हुई

    घी - 1 टेबल स्पून (उपर से डालने के लिए)

    हरा धनियाँ - 50 ग्राम बारीक कटा हुआ

    हरा नरियल - 1टेबल स्पून कद्दूकस किया हुआ

    नमक - स्वादानुसार (1 छोटी चम्मच)

    सबसे पहले मूंगफ़ली के दानों को भून कर इनका छिलका उतार लें. आप चाहें तो बाज़ार से भुने हुए दाने लाकर भी इनका छिलका उतार कर इस्तेमाल कर सकते हैं. छीलने के बाद इन्हें किसी बाउल में रख लें.

    अब एक सूखी कढाई में सूजी को डाल कर लगातार चलाते हुए इसे हल्का भूरा होने तक भून लें. जब सूजी भुन जाए तो इसे किसी प्लेट में निकाल लें.

    कढाई में घी डालकर गरम कर लें. इसमें राई डालें और इसके तड़कने पर उरद की दाल डाल लें. जैसे ही दाल हल्की ब्राउन हो जाए तो इसमें मूंगफ़ली के दाने डाल कर हल्का सा भून लें. अब हरी मिर्च और अदरक डाल कर थोडा सा और भून लें. मटर के दाने और गाजर डाल कर 2-3 मिनट तक भून लें. सूजी का तीन गुना पानी यानि 3 कप पानी लेकर इसमें डालें. नमक और सूजी भी डाल कर चम्मच से अच्छे से मिला दें. उबाल आने पर इसे लगातार चलाते हुए गाढा होने दें. ये हलवे की तरह लगने लगेगा. इसे चम्मच से चलाते हुए 3-4 मिनट तक पका लें और फिर इसमें देशी घी मिला लें.

    स्वादिष्ट रवा उपमा तैयार है. इसे प्याले में निकालें. नारियल और हरी धनिया डाल कर सजाएं और गरमा-गरम उपमा को हरी धनिया की चटनी के साथ मज़े से खाएं.

    15 - उत्तपम

    मोटा चावल - 300 ग्राम ( 1.5 कप )

    उरद की दाल - 100 ग्राम ( 1/2 कप )

    नमक - स्वादानुसार ( एक छोटी चम्मच )

    खाने का सोडा - आधा छोटी चम्मच

    टमाटर -2-3 मध्यम आकार

    राई - 2 छोटी चम्मच

    तेल - 2-3 टेबल स्पून

    दाल चावल को साफ़ करके धो लें. इन्हें 4-5 घंटे के लिए अलग-अलग पानी में भिगो कर रख दें.

    भीगी हुई दाल को मिक्सी में बारीक पीस कर एक बाउल में निकाल लें. चावल को हल्का दरदरा पीसें और इसे

    भी दाल वाले बाउल में ही निकाल लें. इस मिश्रण में खाने का सोडा और नमक मिला कर इसे अच्छे से मिला

    लें. ध्यान रखें कि मिश्रण इतना गाढा हो कि चम्मच से गिराने पर वो धार की तरह ना गिरे. अब इसे ढक कर रख दें ताकि इसमें खमीर उठ जाए. गरम मौसम में 12 घंटों में खमीर उठ जाता है और ठंडे मौसम में 24 घंटों में खमीर उठ जाएगा.

    खमीर उठने के बाद मिश्रण फूल कर दोगुना हो जाएगा. इसे चम्मच से अच्छे से चला दें. उत्तपम के लिए मिश्रण तैयार है. डोसा और इडली के लिए भी इसी प्रकार मिश्रण को तैयार किया जाता है.

    टमाटर को अच्छे से धो कर छोटा-छोटा काट लें.

    अब नान स्टिक तवे को गरम करके उसपर 1 छोटी चम्मच तेल डाल लें. तेल में 2 पिंच राई डालें. जैसे ही राई तड़कने लगे इसपर 2 चम्मच तैयार मिश्रण के डाल कर 5-6 इंच के व्यास में मोटा गोल फ़ैला लें. इसके उपर 2 चम्मच टमाटर डाल कर चम्मच से हल्का सा दबा दें ताकि वे चिपक जाएं. उत्तपम के उपर और चारों तरफ़ हल्का सा तेल डाल लें. गैस धीमी रखें और किसी प्लेट से इसे ढक कर निचली सतह के हल्का ब्राउन होने तक सेक लें. 2-3 मिनट में जब इसकी निचली सतह सिक जाए तो इसे कलछी की मदद से पलट दें. जब दूसरी सतह भी सिक जाए तो उत्तपम तैयार है. इसे प्लेट में निकाल लें.

    गरमा गरम उत्तपम को नारियल, मूंगफ़ली या पसंद की किसी भी चटनी के साथ परोसें. आप इसे सांबर के साथ भी परोस कर खा सकते हैं.

    16 - झटपट ढोकला

    ढोकला का घोल बनाने के लिए:

    बेसन - 100 ग्राम(एक कप)

    सूजी रवा - 100 ग्राम(एक कप)

    पानी - 100 ग्राम (आधा कप)

    दही - 200 ग्राम (1 कप, फैट लीजिये)

    हल्दी - चुटकी भर

    नमक - 1 छोटी चम्मच या स्वादानुसार

    ईनो पाउडर - 1 छोटी चम्मच

    ढोकला को तड़का लगाने के लिए:

    तेल - एक टेबल स्पून

    राई के दाने - एक छोटी चम्मच

    हरी मिर्च - 2 या 3 कटी हुई

    चीनी - एक छोटी चम्मच

    नमक - एक चौथौई छोटी चम्मच

    हरा धनियाँ - एक टेबिल स्पून कटा हुआ

    नारियल - एक टेबिल स्पून कद्दूकस किया हुआ (अगर पसंद हो)

    एक बर्तन में बेसन और सूजी डाल लें. इसमें फ़ैंटी हुई दही, हल्दी और पानी डाल कर सारी चीज़ों को अच्छे से मिला लें. नमक डाल कर घोल को अच्छे से मिलाएं ताकि इसमें गुठलियां ना रहें.

    अब एक कूकर में 2 छोटे गिलास पानी डाल कर गरम होने के लिए रख दें. इसमें कोई जाली वाला स्टैंड भी रख लें. जिस बर्तन या कूकर के सैपरेटर में आपको ढोकला बनाना है उसे थोडा सा तेल लगा कर चिकना कर लें.

    तैयार मिश्रण में ईनो फ़्रूट साल्ट डाल कर मिला लें. जैसे ही मिश्रण फूलने लगे चम्मच चलाना बंद कर दें और

    इसे चिकने किए बर्तन में डाल लें. अब इस बर्तन को कूकर में रखे स्टैंड पर रख लें. बिना सीटी लगाए कूकर का ढक्कन बंद कर दें. 20 मिनट के लिए ढोकला को पकने दें. निश्चित समय के बाद ढक्कन खोल कर ढोकला में चाकू डाल कर चैक करें. अगर मिश्रण चाकू पर चपक कर नहीं आता तो ढोकला पक कर तैयार है.

    कूकर से ढोकला वाले बर्तन को निकाल लें. ठंडा होने के बाद चाकू की मदद से इस बर्तन से ढोकला को प्लेट में निकालें और अपनी पसंद के टुकडों में काट लें.

    ढोकला के लिए तड़का बनाएं:

    एक छोटी कढाई में तेल डालकर गरम करें और उसमें राई डालकर तड़का लें. इसके बाद हरी मिर्च डाल कर हल्का भूनें और फिर 1 छोटी कटोरी पानी डाल लें. चीनी और नमक डाल कर मिलाएं. जब इस घोल में उबाल आ जाए तो गैस बंद कर दें. एक नींबू का रस निकाल कर तैयार घोल में मिला लें और फिर इसे चम्मच की मदद से सारे ढोलके पर डाल लें. स्वादिष्ट ढोकला तैयार है.

    किसी बर्तन में ढोकला को कैसे पकाएं ?

    जिस भी बर्तन जैसे कूकर आदि में आपको ढोकला पकाना है उसमें 2 छोटे गिलास पानी डाल कर गरम होने के लिए रख दें. इस पानी में स्टैंड भी रख लें. इसी स्टैंड पर ढोकला के मिश्रण वाला बर्तन रख कर उसे पकाना है.

    जिस बर्तन में मिश्रण डालना है उसे तेल लगा कर चिकना करें. मिश्रण में ईनो फ़्रूट साल्ट मिला कर इसे चिकने किए बर्तन में डाल लें. इसे जाली वाले स्टैंड पर रखें और बर्तन को ढक दें. 20 मिनट तक ढोकला को पकाएं और फिर इसमें चाकू डाल कर चैक करें. अगर मिश्रण चाकू पर नहीं चिपकता तो ढोकला तैयार है.

    ढोकला को पानी वाले बर्तन से निकाल लें. ठंडा करने के बाद इसके चारों तरफ़ चाकू घुमा कर इसे किसी प्लेट में निकाल लें और अपनी पसंद के टुकडों में काट कर तड़का डाल कर परोस लें.

    स्वादिष्ट ढोकला को हरी धनिया और नारियल डाल कर सजाएं. इसे हरी धनिया की चटनी के साथ परोस कर मज़े से खाएं.

    अन्य रसप्रद विकल्प

    शेयर करे

    NEW REALESED