An suna ishq - 4 books and stories free download online pdf in Hindi

अन सुना इश्क़ - 4

कॉन्फरेंस कॉल 🗣👥👤

कल जो भी काम सब ने ठान लिया था की एक हो कर काम करना है तो सब लोग उसी मे लगे हुए थे. रजनी ने कुनाल को फ़ोन लगाया और कहा की...

" अरे कुनाल जी कल जो हमारा प्लान आपको बताया था क्या आपको सब याद है ना " कुनाल ने कहा...

" हा बाबा हमे सब याद है " और क्या कहा कैसे सब मेनेज करना है सब हमे याद है. बस एक बार ट्रांसपोर्ट का प्लान कामयाब हो जाये फिर देखो हम इस धनुष की क्या हालत करते है. लोगो की हालते खराब की है लेकिन अब इसकी बारि है. रजनी ने कहा...

" हा तो चलो फिर सर से बात करते है " और क्या वैसे भी हम चार लोग तो है ही. और 3 लोग को अटेंड कर लेंगे. राजीव ने कहा...

" हा चलो जाते है वैसे भी हमारे इस एरिये मे केसेस बहुत कम आते है " काव्या ने कहा...

" हा चलो लेकिन सर से बात राजीव जी करेगा ठीक है " क्यू की राजीव सिर बेहतर करेगा. कुनाल ने कहा...

" हा ये बात तो है क्यू की राजीव ना सर के बहुत ही क्लोज़ है " सुनो राजीव तुम बात करोगे ना क्यू की हम तो बात करेंगे ही पर सर ज्यादा गंभीरता से नही लेंगे इस लिये बता रहे है. राजीव ने कहा...

" ठीक है मे सर से बात करने की पूरी कोशिश करूंगा " और अपनी तरफ से पूरा जी जान लगा दूंगा बस आप सब निचिन्त रहिये. रजनी ने कहा...

" अरे चलो गे भी या बस ऐसे ही बाते करते रहोगे " आज बहुत सारा काम है हमे. पुलिस स्टेशन जाना है. वहा सबको ऑर्डर देना है. और एक केस के बारे मे जो इन्फॉर्मेशन मिली है. सबको मेरे स्टाफ को बताना है. ताकी आगे बढ सेक केस. काव्या ने कहा...

" हा मुझे भी काम है जैसे ही मे फ़्री होती है हम " मे आप सब को बता दूंगी ठीक है. लेकिन अभी हमे जाना होगा. राजीव ने कहा

" ठीक है फिर हम भी आते है अपना काम खतम करके " जैसे ही फ़्री होन्गे आपको बता देंगे सुनो सब लो सब्के फ़ोन मे वॉट्सएप्प है ना. तो उस मे हमारा एक परसनॉल ग्रुप बनाओ. और हमारि सारी जो इन्फॉर्मेशन है. वो उसी ग्रुप मे शेयर करेंगे ठीक है. कुनाल ने कहा...

" हा ये ठीक रहेगा चलो अब हम चलते है कुनाल वो ग्रुप आप बना देना ठीक है. अब रखते है फ़ोन. कुनाल ने कहा...

" हा ठीक है हम बना देंगे चलो हम भी अब जा रहे है "

अब सब लोग जा चुके थे और वहा पे उन चारों का वेट कर रहे थे उन्के सर मिस्टर कमल सिंह. और ये महासेय टाईम के बहुत पक्के है एक सैकेण्ड भी इधर उधर नही होनी चाहिये ऐसे मे ये लोग लेट होने वाले है तो देखते है. इन लोगो का क्या हश्र होता है

《 कुच देर बाद... 》

सब लोग अब तक फ़्री हो चुके थे अब सिर्फ जाने की देर और घड़ी मे बजे थे 11 : 00 AM और वहा कमल सर के उपर बजे थे 12 क्यू की इन चारों लोगो ने कमल सिंग से 9 बजे मिलने का वादा किया था. कमल सिंह ने कहा...

" ये लोग कभी नही सुधरेंगे हर दिन लेट करते है परेशान हो गई है इस रोज की मुसीबत से " अब ये नही चलेगा. कमल सिंह के इतना बोलते ही उतने वो चारों लोग एक साथ आ गई और फड़ फडाते हुए कमल सिंह को सेल्यूट किया. और कहा...

" जय हिन्द सर... "

आगे जान्ने के लिए जुडे रहिये मेरे साथ और पढते रहिये अन सुना इश्क़

अन्य रसप्रद विकल्प