वो अनकही बातें - 24 RACHNA ROY द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

वो अनकही बातें - 24

समीर ने दवा देते हुए कहा ये खा लो आराम मिलेगा। शालू ने कहा कि पता नहीं सर दर्द से फट रहा है।बैल्क काॅफी आॅडर कर दिया है?समीर ने कहा मुझे लगता है काफी एकजरस्न हो गया है। क्या वापस चलना है। शालू ने कहा नहीं ना मेरे लिए तुमने इतना कुछ किया पर मैं ये सब खराब नहीं करना चाहतीं हुं।
समीर ने थोड़ा सिरियस होकर कहा शालू तुम हो तो सब कुछ है तुम नहीं तो कुछ भी नहीं।। शालू ने कहा मैं ठीक हूं आज दवा खा ली हुं। फिर दोनों बैल्क काॅफी का मजा लेते हैं और फिर समीर धीरे-धीरे शालू को सुला देता है।

सपनों का शहर स्विट्ज़रलैंड में हमारा छः दिन पुरा हो गया यार।मानो कल की बात हो। वैसे तबीयत कैसी है? शालू ने बताया कुछ ठीक हुं शायद कुछ ज्यादा खाने की वजह से ये सब हुआ। समीर ने कहा ओके,हम आज यहां के मार्केट को घुमेगे। शालू ने कहा ओके हवी। समीर ने कहा अरे यार सोमू ही ठीक है हवी वाली फिलिंग नहीं चाहिए।यू नो कालेज गोईंग।। शालू अपनी हंसी रोक ही नहीं पाईं। समीर ने कहा हां ये कहां छुपा कर रखा था यार ।ये नहीं मिलता तो मर जाता।ये देखो हैरी का फोन आ गया। हेलो हैरी हम कल मिलते हैं ओके। समीर ने फोन रख दिया और फिर बोला यार वाॅक तो कर लोगी। शालू ने पीलो फेंकते हुए कहा क्या यार इतना तो कर सकती हुं मैं। समीर ने कहा ओके बाबा। चलो तैयार हो जाते हैं।
फिर दोनों तैयार हो कर नाश्ता करने नीचे पहुंच गए। शालू ने कहा मुझे एक अरेंज जूस। समीर ने कहा ओके। फिर समीर ने टोस्ट आमलेट व जूस लिया और शालू सिर्फ जूस पीने लगी और उसके बाद दोनों ही निकल गए। चलते चलते बहुत ही अच्छे अच्छे मनोरम दृश्य देखने को मिल गया। शालू ने कहा वाह क्या फुलों की दुनिया है। फिर थोड़ी दूर चलने के बाद ही एक बहुत ही खूबसूरत सा मार्केट जहां पर दोनों तरफ दुकानें और बीच में रास्ते।।
फिर शालू के लिए समीर स्कार्फ देखने लगा और बोला पता है पहले जहां भी जाता था तो सिर्फ तुम्हारे लिए ही शापिंग करता था हमेशा से सोचता कि शालू एक दिन जरूर मिलेगी और फिर हाऊ आई एम सो लकी आज तुम मेरे साथ हो और आज भी मैं तुम्हारे लिए ही शापिंग कर रहा हूं और देखो जबकि तुम साथ हो तुम्हारी पसंद ना पसंद बिना जाने। शालू ने कहा अब बस भी करो रुलाना है क्या। मुझे पता है तुम मेरी पसंद हो तो मुझे दिवाना कर देते हो मेरे सोमू।। और पता है अभी भी जब भी मेरी आंखों में देखते हो ना मुझे प्यार हो जाता है तुमसे। समीर की मुस्कुराहट में अभी तक वो कशीश है। समीर ने दो कलर का स्कार्फ ख़रीदा। फिर वहां से आगे निकल गए और एक बैग स्टाल पर रुक गए। समीर ने एक मल्टी कलर का क्लच बैग पसंद किया। और शालू ने कहा सोमू वहां चले। तरह-तरह के बैगेल्स थे। समीर ने कुछ नए बैगेल्स लेकर शालू के हाथों में पहनाने लगा। शालू ने देखते ही कहा वाह बहुत ही खूबसूरत।।सोमू और कितना शापिंग करोंगे । सोमू ने कहा यार मुझे डिस्टव मत करो।ये देखो वहां बहुत सारे कुर्ती है। समीर ने एक एक करके सारे शालू के ऊपर दिखा कर चार नई डिजाइन वाले ले लिया और फिर वहां से तरह-तरह के जुतिया, कपड़े वाले थे एक शालू को पसंद आ गए। वहां से आगे कुछ शो पीस, कुछ की रिंग, कुछ काॅफी मग, कुछ छोटे छोटे वाॅल हैंगिंग, कुछ गिफ्ट्स आईटम समीर ने अपने अस्पताल के स्टाफ के लिए भी लिया।
शालू ने कहा अरे बाबा सोमू अब थक गई हूं कहीं बैठ जाते हैं।सोमू ने कहा हां चलो यहां बैठते हैं। फिर दोनों वहीं कुछ देर बैठ गए। समीर ने कहा आज बहुत सारी शापिंग हो गई चलो फिर कभी आएंगे। शालू ने कहा थैंक गॉड। फिर दोनों शापिंग बैग लेकर होटल वापस आ गए और दोनों फे्श हो कर लंच आॅडर कर दिया। शालू ने सारे सामान को अच्छी तरह से एक बैग में रख दिया। फिर लंच करने बैठ गए। शालू ने कहा अरे वाह मेरे सोमू दाल, चावल और भाजी खाने का मन था पर मैंने तो बोला ही नहीं।सोमू ने कहा अरे मैडम तुमने बोला नहीं तो क्या मन में सोचा ना और वही अनकही बातें मेरे पास पहुंच गई।इसे कहते हैं दिल का रिश्ता। शालू ने ये सुनकर ही दौड़ कर सोमू को अपने गले से लगा लिया और उसके होंठों को चूमने लगी। फिर दोनों एक-दूसरे के बाहों मे को गए ।कुछ देर बाद ही दोनों बेड से उठ बैठें और फिर मुस्कुरा कर बोलें अरे खाना तो खाया ही नहीं। फिर शालू उठकर फे्श होने गई।। सोमू ने कहा अब आओ भी कितना शर्मा रही हो यार खाना तो ठंडा हो गया। शालू ने आते ही कहा हां मेरी वजह से खाना ठंडा हो गया ना।। तुमने तो जैसे कुछ किया ही नहीं।सोमू ने कहा अब बैठो भी,आओ मैं तुम्हें खिलाता हूं। और फिर एक निवाला समीर ने शालू को खिलाया और दूसरा निवाला शालू ने भी अपने सोमू को खिलाया। कुछ देर बाद ही दोनों एक-दूसरे के बाहों में बाहें डाल कर गुनगुनाने लगे और फिर सो गए।
दूसरे दिन सुबह जल्दी तैयार हो कर निकल गए। हैरी ने कहा आज हम लोग चलेंगे।।
ग्लेशियर ग्रोटो को निहारना मत भूलिएगा.
समीर ने कहा हां देर किस बात की चलें।

फिर कुछ देर बाद ही पहुंच गए। शालू ने देखते ही कहा वाऊ सो बियुटीफुल !
यहाँ बर्फ में बनी सुंदर गुफाएँ हैं जहाँ की बर्फ की दीवारों पर 8,450 लेम्पस जगमगाते हैं. यहाँ “हॉल ऑफ फेम” भी है जिसमें स्विट्जरलैंड आए प्रमुख हस्तियो के फोटों लगे हैं.

हैरी ने और जानकारी दी।
प्राकृतिक सुंदरता के अलावा यदि आप रोमांचक खेलों के शौकीन हैं तो मैटरहान जाना मत भूलना क्योंकि यहीं स्थित है यूरोप का सबसे बड़ा आईस स्कीइंग जोन भी है. इसके अलावा घूमने के लिए ग्रोरनरग्रे और रिगी कुलम भी रमणीय स्थल में बहुत ही खूबसूरत है।

इस देश की तीन राजभाषाएँ हैं : जर्मन (उत्तरी और मध्य भाग की मुख्य भाषा), फ़्रांसिसी (पश्चिमी भाग) और इतालवी (दक्षिणी भाग) और एक सह-राजभाषा है : रोमांश (पूर्वी भाग)। इसके प्रान्त कैण्टन कहे जाते हैं। स्विट्स़रलैण्ड एक लोकतन्त्र है जहाँ आज भी प्रत्यक्ष लोकतन्त्र देखने को मिल सकता है। यहाँ कई बॉलीवुड फ़िल्म के गानों की शूटिंग होती है। लगभग 20 % स्विस लोग विदेशी मूल के हैं। इसके मुख्य शहर और पर्यटक स्थल हैं : ज़्यूरिख, जनीवा, बर्न (राजधानी), बासल, इंटरलाकेन, लोज़ान, लूत्सर्न, इत्यादि।
यहाँ एक तरफ बर्फ के सुंदर ग्लेशियर हैं। ये ग्लेशियर साल में आठ महीने बर्फ की सुंदर चादर से ठके रहते हैं। तो वहीँ दूसरी तरफ सुंदर वादियाँ हैं जो सुंदर फूलों और रंगीन पत्तियों वाले पेड़ों से ढकीं रहती हैं। भारतीय निर्देशक यश चोपड़ा की फिल्मों में इसका
खास आकर्षण है।

कल हमलोग इंटरलेकन ओस्ट चलेंगे सर। समीर ने कहा ओके।
फिर वापिस। शालू ने कहा समीर हमलोग अब कितने दिन रूकेंगे यार।सोमू ने कहा जी चाहता है यही बस जाएं। एक जूनून सा लग रहा है। पृथ्वी का स्वर्ग कहा जाता है इसको। शालू ने कहा हां पर घर की याद आ रही है। समीर ने कहा हां बाबा बस और सात,आठ दिन ही बचे हैं।

फिर दोनों ही बातें करने लगे और अपने आई पोट में सारा नज़ारा देखने लगें। शालू ने कहा इस का तुम एक सीडी बना लेना हां, अगर मैं चली गई तो सहारा मिलेगा। समीर ने गुस्से में कहा सारा मुड खराब कर दिया। सोने दो मुझे।।
शालू ने कहा नाराज क्यों होते हो।गुड नाईट। शालू ने कहा अच्छा बाबा सारी।सुनो ना प्लीज़ मुझे एक बात शेयर करनी थी डाक्टर साहब। सोमू ने कहा अब क्या हुआ? शालू ने कहा वो जो मन्थली होता है ना वो इस बार नहीं वो ।।आई मिन टु से ।। समीर ने कहा क्या।यू मीन ऐनी गुड न्यूज। शालू ने कहा शायद । समीर ने कहा यार तुमने पहले क्यों नहीं बताया। ओह। ह्म्म! जाने दो कल चेक कर लो।एम सो लकी।। ओह माई गॉड।आई लव यू शालू। फिर दोनों बातें करते हुए सो गए।

अगले दिन सुबह जल्दी उठकर पहले ही शालू ने किट से चेक किया पर नतीजे से थोड़ी मायूसी हो गई थी शालू। क्योंकि नतीजा नेगेटिव था।और खुद को बाथरूम में ही कुछ देर तक बन्द कर लिया।। समीर ने कहा यार जाना नहीं है क्या? कितना देर कर रही हो। समीर ने ऐसा ही दिखाया जैसे उसे कोई फर्क नहीं पड़ा। आखिर डाक्टर है इतना तो समझ है उसे। फिर शालू खुद को सम्हाल कर तौलिया से मुंह पोछते हुए बाहर आ गई। और बोली हां चलो मैं रेडी हुं।
फिर दोनों एक-दूसरे को बिना देखे ही होटल से बाहर निकल आएं। और कुछ कह भी पाते तो हैरी आ गया। फिर दोनों गाड़ी में बैठ गए दो अजनबी की तरह।
समीर ने कहा प्लीज़ यार अब मुड़ ठीक करो ओके। ऐसा होता रहता है। शालू ने कहा क्या तुम्हें कैसे पता चला कि।। समीर ने कहा मैं तो तुम्हारे दिल की धड़कन तक बता सकता हूं और ये सिर्फ एक नोर्मल सी बात है यार।।
फिर शालू थोड़ा सा ठीक थी। फिर ये लोग बहुत ही खूबसूरत जगह पर पहुंच गए।
समीर ने कहा हां देखो यहां पर सब बालीवुड की जगह कहा जाता है।

हैरी ने कहा हां सर ये इंटरलेकन ओस्ट को बॉलीवुल की पसंदीदा जगह कहा जाता है। यहाँ पर दिलवाले दुल्हनियाँ ले जाएंगे से लेकर ढाई अक्षर प्रेम के, जुदाई, हीरो जैसी फिल्में फिल्माईं गईं हैं। प्राकृतिक सुंदरता से भरपूर इस शहर में आप स्विट्जरलैंड के इतिहास और वर्तमान दोनों से मुलाकात कर सकते हैं।
हैरी ने कहा सर यदि आपके पास थोड़ा सा वक्त और हौसला हो तो सूर्योदय के समय यहाँ की पहाड़ियों पर चहलकदमी करना बेहद सुखद लगता है। यदि पैदल नहीं जा सकते तो यहाँ से एक ट्रेन सीधी पहाड़ी के ऊपर जाती है। बिना चूके उसका टिकट ले लीजिए। और पहाड़ी के ऊपर से सुंदर स्विट्जरलैंड का नजारा लीजिए।
समीर ने कहा ओह इस बार मिस हो गया पर।। शालू तुम भी कुछ बोलो ना ऐसा क्यों कर रही हो यार। बी पाज़िटिव।
शालू ने कहा हां ठीक हुं मैं।

हैरी ने कहा सर अब जंगफ्रोज चलेंगे।

समीर ने कहा वहां क्या है। हैरी ने कहा सर मै बताता हु।

जंगफ्रोज- समुद्र तल से 4158 मीटर ऊँचाई पर बना यह यूरोप की सबसे ऊँची पर्वत श्रंखला है। इसी के साथ-साथ यहाँ यूरोप का सबसे ऊँचा रेलवे स्टेशन भी है। इंटरलेकन स्टेशन से यहाँ के लिए ट्रेन मिलती है। इस ट्रेन से अपना सफर शुरू कर खूबसूरत स्विट्जरलैंड को अपनी आँखों में कैद करते हुए आप जंगफ्रोज पहुँच जाएंगें। बर्फ के पहाड़ों को काटती हुई ऊपर जाती इस ट्रेन से आप नयनाभिराम दृश्य देख और अपने कैमरे में कैद कर सकते हैं। गर्मी के मौसम में यहाँ आईस स्कींग का लुफ्त उठाया जा सकता है। यहाँ की बर्फ पर पड़ती सूरज की तिरछी किरणों की आभा देखने का आनंद ही कुछ और है।

जंगफ्रोज में बॉलीवुड की इतनी फिल्में फिल्माईं गईं हैं कि यहाँ बॉलीवुड रेस्त्रां ही बना दिया गया है।

समीर ने कहा ओके फिर चले। फिर गाड़ी में दोनों बैठ गए। समीर ने अपना हाथ शालू के हाथों के ऊपर रखा।पर फिर भी शालू कुछ भी नहीं बोली।

क्रमशः





रेट व् टिपण्णी करें

Vishwa

Vishwa 2 महीना पहले

Deboshree Majumdar

Deboshree Majumdar 8 महीना पहले

Kitu

Kitu 9 महीना पहले

Saurabh Gupta

Saurabh Gupta 9 महीना पहले