वो अनकही बातें - 22 RACHNA ROY द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

वो अनकही बातें - 22

अगले दिन सुबह समीर तैयार हो कर जाने लगा और उसने कहा कि शाम को शापिंग करने जाना है। तैयार रहना। शालू ने आंखें मलते हुए कहा अच्छा ठीक है। फिर शालू सो गई। समीर अस्पताल पहुंच कर सारी बात बताई की अगले हफ्ते जाना है।मिस मैरी ने कहा सर नो प्रोब्लम।।
इसी तरह समीर मरीजों को देख कर घर जल्दी लौट आए शालू से एकदम तैयार मिली। फिर दोनों शापिंग करने निकल गए।
इसी तरह एक हफ्ते कहा से निकल गया। आज समीर और शालू अपने हनीमून के लिए निकल रहे हैं।
शालू ने कहा हम कब तक पहुंच जाएंगे? समीर ने कहा जान टाइम तो लगेगा।पर मैं हुं ना। शालू ने कहा हां मुझे पता है तुम्हारी सांसों की खुशबू से मैं महक जाती हूं। समीर ने अपनी आंखें बड़ी कर लिया और फिर बोला अरे मर गया।
फिर हवाई जहाज में दोनों एक-दूसरे के हाथों को थाम कर बैठ गए। शालू ने कहा मुझे नींद आ रही है समीर ने तभी अपना कंधा दिखाते हुए इशारा किया और फिर शालू एक मासूम बच्ची की तरह अपना सर रख कर आंख बंद कर दिया।। समीर ने कहा याद है उन दिनों कालेज से पहले हम दोनों जब एक दूसरे से अंजान थे और एक ही बस में सफर कर रहे थे और तुम कितना लड़ी थी और फिर तुम्हें मेरे लिए बगल की सीट मिली पर तुम तो सारी रात मुझसे लड़ती रही और फिर जब नींद आ गई तो तुम्हें मेरा ही कंधा मिला था सोने के लिए। और पता है जब तुम मुझसे बिछड़ गई तो मुझे महसूस हुआ कि ये ही बन सकती है मेरी जिंदगी।। शालू ने सुन कर कहा अच्छा तो तुम मेरे पीछे क्यों नहीं आएं? समीर ने कहा कैसे आता यार तुम तो लड़ने के मूड में थी और फिर क़िस्मत का खेल देखो हम उसी कालेज में मिलें। शालू ने कहा हां पर तुमने मुझे कभी बताया नहीं हम पहले भी मिले थे। समीर ने कहा क्या यार कैसे बताता कि मैं उसी दिन से तुम्हें प्यार करने लगा था। शालू ने कहा ओ मेला सोमू सच्चे प्यार की जीत होती है। समीर ने कहा हां वो तो है और जानती हो मैंने तुम्हें पाने के लिए एक दरगाह पर गया था जहां पर एक बाबा ने कहा कि तेरी दुआ कबूल होगी और पता है अगर आप शिद्दत से कुछ मांगों ना तो पुरी कायनात आप की उस दुआ को पुरा करने में लग जाती है। फिर दोनों ही बहुत इमोशनल हो गए थे।

हवाई जहाज में फिर कुछ देर बाद नाश्ता मिला तो समीर ने ही शालू को खिला दिया।। फिर एक दूसरे के बाहों में दोनों सो गए।


सारी अनाउंसमेंट हो रही थी । ये फ्लाइट जिनेवा में १७.२०पर लैंड करेंगी।
शालू और उसका सोमू ने जो सपने देखें थे वो पुरे होने वाले थे।
फिर कुछ देर बाद ही दोनों अपने अपने बुक निकाल कर पढ़ने लगे क्योंकि हवाई जहाज में एक शुकून एक शान्ति देखने को मिलती हैं। शालू अपनी फेवरेट लव स्टोरी पढ़ने लगीं और समीर डाक्टर साहब की किताब में व्यस्त हो गए।

फिर देखते-देखते डिनर का समय भी हो गया दोनों ने ही सिर्फ चिकन सूप लिया किसी बात को लेकर दोनों ही हंसने लगे।
एक नई सुबह के साथ शालू ने एक गुड मॉर्निंग किस सोमू के गाल पर किया और नाश्ता आ गया । जिसमें दो अंडे , टोस्ट और बैल्क काॅफी के साथ शुरुआत किया और इतना लंबा सफर पर शालू को पता भी नहीं चला और जिनेवा एयरपोर्ट पर हवाई जहाज लैंड कर गई। सभी धीरे धीरे- नीचे उतर गए और सारी फारमालिटज के बाद दोनों का वीजा एप्रूव होने के बाद उनको लगेज मिल गया।

बाहर आने के बाद ही ट्रैवल पैकेज की ओर से एक कैब भी आ गया फिर जल्दी-जल्दी दोनों बैठ कर निकल पड़े। जहां पर इनकी होटल बुक थी। समीर ने कहा इन लोगों की सर्वीस बहुत ही शानदार है।
शालू ने कहा हां वो तो देख रही हूं।

होटल बेल्वेडेयर ये ही नाम है और देखा कितना ठंड है यहां ये समीर ने कहा।। और हां शालू तुमने जैकेट पहना है ना। शालू ने कहा हां बाबा सब कुछ पहना है और फिर तुम हो ना।।

फिर जिनेवा की वादियों को देखते हुए ये दोनों जा रहें थे।
कुछ घंटों बाद ही होटल बेल्वेडेयर पहुंच गए क्या शानदार होटल है। दोनों उतर गए और फिर गेट पर ही वहां के लोग जो जिस देश से आने वाले होते हैं उनलोगो का स्वागत बड़े ही शानदार तरीके से करते हैं। शालू को ये सब देख कर बहुत अच्छा लगा। फिर दोनों अपने रूम में जाकर बैठ गए।
शालू ने सोमू को गले से लगा कर कहा थैंक यू सोमू।। तुमने मुझे वो दिया जो शायद कोई ना देता। समीर ने कहा अरे मैडम अभी तो शुरुआत है आगे आगे देखिए होता है क्या।। चलो अब फेश् हो जाते हैं। फिर कुछ देर बाद वेटर बैल्क काॅफी और चोको चिप्स सर्व कर के गया। शालू ने कहा माई फेवरेट,सोमू क्यों न डिनर रूम में ही आॅडर कर दो। समीर ने कहा हां यार बहुत नींद आ रही है। फिर समीर ने फोन पर ही डिनर रुम में देने को बोला।कुछ देर बाद ही गर्म गर्म डिनर सर्व हो गया। फिर दोनों ने थोड़ा बहुत खा लिया और फिर सो गए।

दूसरे दिन सुबह सुबह जल्दी उठकर दोनों ही बालकनी से बहार का नजारा देखने लगें। समीर ने कहा क्या वादियां है मन करता है यही पर बस जाएं। शालू ने कहा ना जी ना मुझे अपना जहान ही प्यारा। समीर ने कहा हां पर खुबसूरती तो देखो। फिर दोनों फे्श हो कर नीचे पहुंच गए और जहां ओपन रेस्तरां था वहां जाकर बैठ गए। शालू ने कहा वाट ए लवली प्लेस। फिर दोनों ने चाय पिया और कुछ देर वहां पर इत्मिनान से बैठ गए। फिर वहां पर अनाउंसमेंट हुआ कि फुल सुपर डीलक्स बस दिया जाएगा और एक घंटे बाद ही निकलना है। वहां पर बहुत से इंडियन भी थे।
समीर ने कहा शालू क्या करना है बस से ही जाना है यहां अलग से। शालू ने सोचते हुए कहा कि आज बस से चलते हैं अगर कुछ दिक्कत हुई तो कल से हम अपना अलग से जाएंगे। समीर ने कहा ओके।
फिर दोनों नाश्ता करके रूम में जाकर तैयार होने लगें।

शालू ने एक टी शर्ट जैकेट और जिन्स पहन लिया और उसके साथ एक साइड बैग भी लिया। बालों को खुला छोड़ दो मेरी जान ये बात सोमू ने कहा।। शालू ने कहा ओह सोमू एक पोनी टेल कर लिया ना। वरना हवा में उलझ जाएंगी। समीर ने कहा अरे मैं किस लिए हुं।। शालू हंस कर बोली मज़ाक बन्द करो।
फिर सभी डिलक्स बस में एक एक करके चढ़ने लगें। समीर ने कहा तुम्हें अगर भूख लगे तो मैंने कुछ बिस्कुट,केक सब रख लिया है।
फिर सभी टुरिस्ट बैठ गए और फिर एक देसी लड़का गाइड आ गया।
अमर नाम है मेरा दोस्तों । आज मैं सपनों की दुनिया के बारे में बताने जा रहा हूं।जी हां दोस्तों!
स्विट्ज़रलैंड पर्यटन दुनिया के सबसे खूबसूरत जगहों में से एक है जो अपनी सुंदरता से अपनी ओर काम करता है। आल्प्स की उड़ान में शामिल हैं। अंतरिक्ष में जाने के लिए अंतरिक्ष से भरा हुआ है। ‍ ‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍‍ला‍ले पर यह एक बार स्‍वि‍तरण स्‍थल है. पर्यावरण में बदली हुई दुनिया में हैं।
अंतरिक्ष में जाने के लिए यह बहुत अच्छा है। पर्यावरण के लिए उपयुक्त, पर्यावरण के अनुकूल होने के लिए, पर्यावरण के लिए उपयुक्त है।
स्विट्ज़रलैंड का इतिहास बदलने का इतिहास है। जब तक वातावरण में परिवर्तन किया गया था, तब तक यह वातावरण में बदल गया था। १७९८ में स्विंरलैंड में फ़्रांस के अधीन था और फ़्रान्स ने स्वि्रलैंड में अपना संविधान बनाया। यह संबिंध कभी भी कभी नहीं होगा। अपडेट होने के लिए, दो बार विश्व वार के भी आपके देश में खतरनाक होंगे और ऐसे ही एक देश के रूप में उपस्थिति में होंगे। स्‍वीरलैंड स्‍टाइल में बंद होने के दिन 1 अगस्त को स्विट्ज़रलैंड में जगह खाली थी।
स्विरलैंड की राजधानी है। जोकि सन 1848 में फ़ेडरल सिटी का प्रवेश शहर है।
अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा विनिमय के रूप में बदलने की स्थिति में मुद्रा व्यापार कर रहा है।
स्वितरलैंड में दुनिया में सबसे अधिक लोग हैं।स्वितरलैंड के ट्रांसलेशन में परिवर्तित मात्रा में काला धन है।स्वितरलैंड में बदलने के लिए अन्य देशों में परिवर्तन होते हैं।
स्पाइसरलैंड में सबसे अधिक तापमान एक शिक्षक की होता है

स्विट्ज़रलैंड पर्यटन में घुमने लायक जग ज्यूरिख हिन्दी में, स्विट्ज़रलैंड के प्रमुख अंतरिक्ष में इंप्लीमेंट यूरी आकर्षक अंतरिक्ष शहर जोकि चालू होने के लिए उपयुक्त है। स्विवरलैंड के उत्तर-मध्यस्थ ज्यूरीख स्विचरलैंड का सबसे बड़ा शहर है। देखने के लिए सुंदर शहर में सोने की स्थिति, थिएटर, पार्क और देखने के लिए देखने के लिए। इसके साथ ही स्विट्ज़रलैंड के ज्यूरिख में कई नाईट क्लब भी है जो पर्यटकों को अन्य कही देखने को नही मिलेंगे।

अब बस आज के लिए इतना पहले हम एक एक जगह घुम लें। सभी लोग बहुत हंसने लगे। समीर ने कहा ये बोर करेगा। शालू भी मुंह दबाकर हंसने लगी।

हम सभी अब यहां एक फेमस मोटर शो में जाकर घुमेगे। सभी लोग धीरे धीरे नीचे आ जाइए।
शालू और समीर एक दूसरे का हाथ पकड़ कर नीचे उतर गए।

यहां पर बहुत ही खूबसूरत मोटर शो होगा। सभी लोग एक साथ देखने लगें।

जिनेवा में बहुत ही फेमस मोटर शो होता है जो दुनिया भर के लोगों को अपनी तरफ आकर्षित करता है।
फिर यहां से ही अनेकों दर्शनीय जगह देखने को मिलेगा। ज्यादा दूर नहीं है सभी एक साथ हो लिजिए। ऐसा अमर ने कहा।
सभी उत्साहित होकर पैदल चलने लगें। कुछ लोग फोटो खींचने के लिए तैयार थे। समीर और शालू बहुत सारे फोटो खिंचवाने लगें उनके लिए ये पल बहुत ही खास था।
अमर गाईड आगे कहने लगा।

जिनेवा में कई दर्शनीय जगह है जहां घूमकर आपको बहुत आनंद मिलेगा। इन से रूपी से जेनेवा लेकड़े एक उत्कृष्ट कार्य के लिए, जेनेवा लेक, दैव और केबिले खिताबी स्विट्ज़रलैंड टूरिज्म में घूमने वाली जगहों में शामिल ल्यूसर्न शहर एक खूबसूरत पर्यटन स्थल है जोकि नीलम झील के उत्तरी छोर पर स्थित है।

अब हमलोग उस नीलम झील का नजारा देखेंगे
नीलम झील स्विट्ज़रलैंड की चौथी सबसे बड़ी झील है।

इसके बाद हम लोग ल्यूसनऺ चलेंगे।आप सभी से निवेदन है कि सभी बस में जाकर बैठ जाएं।
सभी यात्रिया जाने लगें बस की तरफ। समीर और शालू भी सारी फ़ोटो लेकर बस में बैठ गए। शालू बहुत खुश हो गई उन तस्वीरों में जान डाल दी थी उसने। समीर ने मन में सोचा।।
फिर बस चल पड़ी। और कुछ देर बाद ही ल्यूसर्न पहुंच गए।
अमर ने जल्दी ही इस शहर के बारे में जानकारी दें दी।

सभी धीरे धीरे उतर गए।
ल्यूसर्न स्विट्ज़रलैंड का एक छोटा सा शहर है परन्तु यह बहुत ही आकर्षक है। इस शहर में बहुत पुराने ब्रिज है जोकि पर्यटकों के आकर्षण का केंद्र बने हुए है। इसके अलवा ल्यूसर्न में बहुत सारी ऐसी जगह है जहां घूम कर आप आनंद की अनुभूति कर सकते है। ल्यूसर्न संगीत तथा साहित्य में रूचि रखने वालों के लिए बहुत ही सांस्कृतिक स्थान है।
उतरने के बाद सभी वहां का वातावरण और दृश्य का आनंद लेने लगें।
सभी उत्साहित होकर देखने लगें फिर सभी काफी थक चुके थे तो अमर ने कहा अब सभी यहां एक भारतीय रेस्तरां में जाकर खाना खा सकते हैं।
सभी जाने लगें। समीर ने कहा शालू चलो चलते हैं तुम्हारे दवा भी लेना है। वहां पहुंच कर सभी राहत का सांस लेने लगें और फिर सभी खाना आर्डर करने लगे। समीर ने भी एकदम सादा खाना ही आर्डर किया। फिर दोनों खाना खाने लगे।।।
अब हमें वापस होटल जाना होगा क्योंकि दो वयस्कों की अचानक तबीयत बिगड़ी गई है। ये बात अमर ने कहा अब हम सभी कल फिर मिलेंगे।
फिर क्या था सभी बस में सवार होकर वापस होटल के लिए निकल पड़े।
क्रमशः





रेट व् टिपण्णी करें

Parash Dhulia

Parash Dhulia 3 महीना पहले

RACHNA ROY

RACHNA ROY मातृभारती सत्यापित 9 महीना पहले

Neha Yatish jain

Neha Yatish jain 9 महीना पहले

Nabina Chakarborty

Nabina Chakarborty 9 महीना पहले

Great

Kitu

Kitu 9 महीना पहले