वो अनकही बातें - 21 RACHNA ROY द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

वो अनकही बातें - 21

दूसरे दिन सुबह शालू तैयार हो कर नीचे पहुंच गई। और किचन में जाकर विनय काका को बोली की काका आज मैं कुछ समीर के लिए बनाऊ? विनय काका बोले अरे हां ज़रूर बेटी। फिर शालू ने जल्दी जल्दी चीज़ सेन्डबीज और डबल आमलेट जो समीर को बहुत पसंद हैं साथ में मैंगो जूस तैयार किया ।
कुछ देर बाद समीर भी तैयार हो कर नीचे पहुंच गए और शालू को किचन में देख कर दंग रह गया और बोला अरे आज विनय काका को छुट्टी दे दी क्या? शालू क्या बात है मेरा पसंदीदा चीज़ सेन्डबीज और आमलेट, तुमने बनाया। शालू ने कहा हां, हां खाइए ना। कहते हुए शालू ने खिला दिया और फिर दोनों ने एक-दूसरे को खिलाया। समीर ने कहा यार तुम ने तो मेरा दिन बना दिया। तुम अपना दवा लेना मत भूलना। चलो अब चलता हूं। शाम को गिफ्ट खोलते हैं। शालू ने कहा हां ठीक है।
फिर शालू ने प्लेट सजा कर विनय काका को टेबल पर नाश्ता करने को कहा। विनय काका तो मान नहीं रहे थे और रो पड़े। विनय काका खाते हुए बोलें बेटा आज सही मायने में घर की लक्ष्मी आ गई है। शालू ने कहा क्या काका आप हमारे बड़े हो और हमेशा हमारे लिए सब कुछ करते हो पर आपके लिए कोई कुछ नहीं करता तो आज मैंने सोचा थोड़ी सी सेवा करूं।आप मेरे पिता जैसे हो।
विनय काका बोले बिटिया इतना मान दिया तुमने मुझे बहुत आशीर्वाद तुमको।।
विनय काका बहुत मन से खा लिया और फिर बोलें बेटा आप दवा खा ले।
शालू ने कहा हां मैंने खा लिया और अब थोड़ी देर आराम करना चाहती हुं।
ये कह कर शालू ऊपर चली गई। कमरे में पहुंच कर ही अपने सोमू को मिस करने लगी और फिर सोमू का टाॅवल लेकर उसकी खुशबू को महसूस करने लगी ओह सोमू ये परफ्यूम तो मुझे दिवाना कर दिया था पहली बार। फिर जल्दी से मोबाइल पर समीर को भी को डेढ़ सारा किस भेजा और मिस यू का मेसेज भी भेज दिया।
कुछ देर बाद समीर का फोन आया और बोला कि कया बात है मैडम। शालू ने कहा हां, क्या होगा मुझे प्यार आ रहा है।। और सोमू मैं बोर हो जाती हुं क्या मैं जयोन कर लूं कहीं?
समीर ने कहा अरे बाबा अभी तो हमने शादी किया है कुछ देर रूको।। अच्छा चलो हम बाद में बात करते हैं।

इसके बाद फोन रखते हुए शालू ने खुद को देखा और कहा कि सोमू ने इग्नोर किया मुझे।। फिर कुछ सोचने लगी और एकाएक शालू ने अपनी अलमारी खोली और उसमें कुछ खोजने लगी और फिर उसके हाथ आया एक पुरानी फोन की डायरी। कुछ खोजने लगी और फिर नायरा का
नम्बर निकाला और फिर सोचा चलो एक बार कोशिश करती हुं शायद नम्बर नायरा का ही हो काॅल किया लम्बी रिंग के बाद हेलो की आवाज सुनकर ही शालू खिल उठी क्योंकि वो आवाज सिर्फ नायरा की थी। शालू ने कहा हेलो नायरा!
उधर से आवाज आई कौन शालू!ओह माई गॉड, कहा चली गई थी यार!
शालू तो रोने लगी और फिर बोली कि मैं फोन पर कुछ नहीं बता सकती हुं मैं एक एड्रेस सेंड करती हुं शाम को आ जाओ।नायरा ने कहा हां ठीक है।
फिर शालू ने वटसप पर मैसेज भेज दिया।
फिर कुछ देर आराम करने लगी और फिर दोपहर को विनय काका उठाने लगें। शालू ने कहा अरे मैं सो गई थी क्या?
विनय काका बोले बिटिया अब चलो खाना खा लो।
शालू ने कहा हां मैं फे्श हो कर आती हूं। फिर शालू खाना खाते हुए बोली कि काका शाम को मेरी सहेली आ रही है तो कुछ खास डिनर बना दिजियेगा।
विनय काका ने कहा हां, पनीर कोफ्ते बना है एक दाल कढ़ी बना है, साथ में पुलाव, और आलू के परांठे बना देता हूं।खीर भी बन गया है समीर बेटा ने कहा था कि खीर तुम्हें पसंद है। शालू एक दम खुश हो गई और बोली हां काका बहुत कुछ बना है।
शालू खाना खा कर सोमू को फोन मिलाने लगी पर फोन तो डाक्टर सहाब का विजी था। शालू ने एक मेसेज दे दिया कि शाम को नायरा आ रही है हो सके तो जल्दी आना।
कुछ देर बाद ही समीर का फोन आया और बोला अरे वाह।नायरा कहा मिलीं? शालू ने कहा मिला बस ,ओह सोमू मैंने बुलाया उसको। समीर ने कहा हां ठीक है अच्छा सुनो पैकिंग कर लो परसों हमें निकलना है बैंकाक।।
शालू ने कहा हां क्या बात है सोमू। समीर ने कहा हां तो हनीमून पर जाना है। शालू ने कहा अरे बाबा तुम्हारे ओ टी का क्या होगा?
समीर ने कहा घर आ कर बताऊं।
फिर शालू जल्दी से समीर के पसंद का सलवार सूट पहना और बालों को खुला छोड़ दिया, साथ ही हाथों में मैचिंग चुड़ी पहन लिया। मांग में सिंदूर और होंठों पर एक लाईट कलर शेड वाली लिप कलर लगाया। फिर नीचे आ कर नायरा को फोन किया और तभी बेल बजीं।
शालू ने दरवाजा खोला तो सामने नायरा थी। शालू देखते ही उसके गले लग कर रोने लगी जैसे कोई कीमती सामान मिला हो।
नायरा भी शालू को देखें जा रही थी। शालू ने कहा आ बैठ।नायरा ने कहा पता है कल रात भर सो नहीं पाईं।सोच रही थी कि शालू कहां चली गई थी और।।

शालू ने अपनी पुरी दास्तान सुनाई।नायरा ने कहा तो तेरा सोमू है कहां?
शालू ने कहा बस आ रहा है। फिर विनय काका ने नाश्ता सर्व किया।नायरा ने कहा शालू मैं तेरे लिए बहुत खुश हूं सच्चे प्यार की हमेशा जीत होती है।
शालू ने कहा हां पता है परसों हम लोग बैंकाक जा रहें हैं।नायरा ने कहा अच्छा वाह क्या बात है।
फिर कुछ देर बाद समीर भी आ गए।नायरा तो देखती रह गई और फिर बोली जीजू कितने हैंडसम है। समीर ने कहा हां वो तो हुं।।आप लोग बातें किजिए मैं फे्श हो कर आता हूं।नायरा ने पूछा क्या तुमने जाॅब लिया?
शालू ने कहा अरे नहीं सोमू कहा करने देता है।
फिर समीर आ गए और विनय काका ने खाना लगा दिया।
नायरा डाइनिंग टेबल पर इतना सारा आइटम देख कर दंग रह गई।
समीर, शालू और नायरा खाने बैठ गए।नायरा ने कहा कितना कुछ बना है तेरे घर में।

शालू ने कहा हां रोज ही इतना बनता है।सोमू को अलग अलग डिशेज पसंद है। सभी बातें करते हुए खाना खाने लगे और नायरा ने कहा थैंक यू फार द लवली डिनर।

नायरा ने कहा तुम दोनों को शादी की बहुत सारी बधाई , अच्छा मुझे जाना होगा। शालू ने कहा हां ठीक है फिर मिलना हां।नायरा ने गुड नाईट बोल कर चली गई।
समीर ने कहा विनय काका आप खाना खा लिजिए। शालू ने कहा सोमू मुझे कुछ बात करनी है तुमसे। समीर ने कहा हां चलते हैं ऊपर।
फिर अपने कमरे में आ गए और शालू फे्श हो कर आ गई। और फिर बोली सोमू मुझे भी आफिस जोय्न करना है। समीर ने कहा हां ठीक है कर लेना पर अभी नहीं हमें परसों निकलना होगा। मैंने मेरे जुनियर डाक्टर को अपनी सारी अपोनटमेन्ट समझा दिया। हमारी दस दिन की टि्प है। शालू ने कहा अच्छा ठीक है। समीर चलो थोड़ी बहुत पैकिंग कर लेते हैं।
समीर ने एक बड़ा वाला टार्ली बैग निकाला और फिर अपने अलमारी में से शर्ट पेंट रखने लगा। तभी समीर के फोन पर मेसेज आ गया। समीर ने चेक किया और खुश हो गया। शालू मेरी जान एक गुड न्यूज़ है। शालू ने कहा अब क्या? समीर ने कहा अब हमारा बैंकाक जाना कैसेल! शालू ने अच्छा तो ये गुड न्यूज हुआं। समीर ने कहा अरे बाबा सुनो तो मुझे हमेशा एक टूर पैकेज मिलता है पर मैं आज तक कभी लिया नहीं क्योंकि तुम नहीं थी पर आज वो पैकेज मैंने ले लिया पता है कहां की टूर है?
शालू ने कहा मुझे कैसे पता? समीर ने स्विट्जरलैंड सपनों का शहर। शालू ने कहा क्या आई कांट विलिव इट। समीर ने कहा अब एक हफ्ते बाद हमें जाना होगा।चलो अब सपनों की दुनिया में चलें।
अगले दिन सुबह उठकर तैयार हो कर नाश्ता करके जल्दी ही समीर निकल गए। शालू आराम से लेट उठी और नहा कर तैयार हो कर नाश्ता करने लगी। फिर समीर का फोन आया कि आज रात विकास के घर डिनर के लिए जाना है। शालू ने कहा अच्छा ठीक है। शालू ने कहा विनय काका रात हमें विकास के घर डिनर के लिए जाना है। विनय काका बोले बिटिया ठीक है।

समीर ने शालू का वीजा आवेदन कर दिया था और आज ही वो समीर के अस्पताल के पत्ते पर आ गया। समीर बहुत ही खुश हो गया।
शाम को समीर के घर आते ही शालू ने कहा सोमू क्या पहनूं मैं? समीर ने कहा हर चीज में सादगी है कुछ भी पहन लो। शालू ने कहा हां अब बदल गए हो तुम पहले खुद बोला करते थे। समीर ने कहा अच्छा बाबा तुम साड़ी पहन लो ।वो लाइट यलो कलर शेड। शालू ने कहा हां ठीक है। फिर शालू जल्दी से तैयार हो गई। शालू ने अपने बालों को क्लच किया था।पर सोमू ने जैसे ही देखा तो धीरे से बाल खोल दिया, और मुस्कुराते हुए कहा कि खुलें बालों में ज्यादा अच्छी लगती हो। शालू ने कहा अच्छा जी।हाथों में पीली और गोल्डन चुड़िया खनक रही थी। होठों पर एक लाईट कलर शेड लिप कलर लगाया और एक बिंदी लगाकर एक क्लच बैग मैचिंग वाली ले लिया। समीर ने एक सूट पहन लिया और दोनों निकल गए। समीर ने कहा आकाश आज डाइविंग तुम करो।
आकाश ने कहा हां सर।
शालू ने मुस्कुराते हुए कहा कि आकाश भाई को ही डाइविंग करनी चाहिए। फिर दोनों पीछे आराम से बैठ गए एक प्रेमी युगल की तरह एक दूसरे के हाथों में हाथ डाल कर गुनगुनाने लगे। समीर ने कहा पता है आज तुम्हारा वीजा आ गया। शालू ने कहा हां, ठीक है लेकिन वो विकास के लिए कुछ लेना है कि नहीं। समीर ने कहा हां ले लिया। शालू ने कहा वाह सोमू । समीर ने कहा हां सोमू अकेला रहते रहते दुनियादारी सीख गया। फिर कुछ देर बाद विकास के कालोनी पहुंच गए। समीर ने वो पैकेट शालू को देते हुए कहा कि ये विकास की पत्नी को दे देना।
फिर दोनों बी ब्लॉक में चले गए।
विकास नीचे पहुंच गया था और देखते ही बोला आइए डाक्टर साहब। समीर ने कहा क्या यार यहां तो छोड़ दें।
फिर तीनों लिफ्ट में प्रवेश किया और पहुंच गए। अन्दर पहुंच कर ही विकास की पत्नी ने कहा आओ शालू। शालू ने गले मिल कर अभिवादन किया और वो पैकेट उसे दे दिया। फिर सभी लोग बैठ गए। कुछ देर बाद कोल्ड ड्रिंक जूस स्टार्टर सर्व किया। शालू को बहुत ही अच्छा लग रहा था उन लोगों के साथ बातचीत करते हुए।
फिर विकास ने शालू और सोमू के पार्टी वाली सीडी आॅन कर दिया। सभी खुब हंसी मजाक के साथ देख रहे थे।
विकास की पत्नी ने डिनर टेबल पर लगा दिया और सबको डिनर करने के लिए बुलाया। विकास ने पूछा कब जा रहे हों? समीर ने कहा अरे यार बैंकाक जाना कैन्सल कर दिया और अब स्विट्जरलैंड जा रहे हैं। विकास ने कहा अरे वाह यार क्या बात है।स्विट्ज़रलैंड सपनों का शहर और तुम लोग एक दूसरे के लिए बनें हो। शालू भी हंसने लगी। फिर डिनर करने के बाद आईसक्रीम दिया। फिर गुड नाईट बोल कर दोनों निकल गए।
घर पहुंचते रात काफी हो गई क्योंकि मुम्बई की ट्राफिक क्या कहना।
घर पहुंचते ही समीर ने कहा विनय काका आप खाना खा लिए। विनय काका ने कहा हां बेटा। फिर दोनों ही नींद में थे और थके हुए भी थे।
बेडरूम में आकर जल्दी से फे्श हो गए।
समीर ने कहा शालू दवाई लिया? शालू ने कहा हां बाबा ले लिया। शालू ने अपनी नाईट की्म लगाते हुए कहा अच्छा एक बात पूछूं विकास को कोई बेबी नहीं है क्या? समीर ने कहा हां बहुत कोशिश कर रहे हैं वो लोग पर अभी तक कुछ नहीं।।सात साल हो गए शादी को। शालू ने कहा अच्छा। पता है मुझे बहुत डर लगता है कि कहीं मेरी बिमारी मेरे मां बनाने की खुशी ना छिन ले। समीर ने अपनी बाहों में भर लिया और कहा क्यों ऐसा सोचती हो मेरी जान।। और जिंदगी में मुझे तुम्हारे सिवा और किसी की कभी जरूरत तो नहीं हैं ,ना ही पहले थी और ना ही कभी होगी। शालू ने कहा हां पर मुझे है।। प्लीज़ ऐसा मत बोलो सोमू मुझे तुम्हारे जैसे छोटू सा सोमू चाहिए।।



क्रमशः

रेट व् टिपण्णी करें

Vishwa

Vishwa 2 महीना पहले

Parash Dhulia

Parash Dhulia 3 महीना पहले

S Nagpal

S Nagpal 7 महीना पहले

Sumita

Sumita 9 महीना पहले

Usha Dattani Dattani

Usha Dattani Dattani 9 महीना पहले