Red Headed league - 3 books and stories free download online pdf in Hindi

रेड हेडेड लीग - 3

दी एडवेंचर्स ऑफ़ शेरलोक होम्स

रेड हेडेड लीग

(3)

एक हंसमुख दिखने वाले क्लीन-शेवन नौजवान ने दरवाजा खोला और उसे अंदर आने को कहा |

होम्स ने कहा, "धन्यवाद, मुझे तो बस आपसे स्ट्रैंड का रास्ता पूछना था |"

असिस्टेंट ने दुकान का दरवाजा बंद करते हुए तुरंत कहा, "वहाँ सामने, दाएँ से तीसरा और बाएँ से चौथा |"

जब हम चलने लगे तो होम्स ने कहा “वह बहुत अक्लमंद है|” उन्होंने कहा “मेरी समझ में वह लंडन का चौथा सबसे जहीन इंसान है| यकीन से तो नहीं, फिर भी वह लंडन का तीसरा सबसे अक्लमंद इंसान होने का दावा भी कर सकता है| मैं इससे पहले भी उसके बारे में थोड़ा-बहुत जनता हूँ|”

“वह तो दिख ही रहा है” मैंने कहा| रेड हेडेड लीग के बारे में मिस्टर विल्सन का सहायक भी बहुत कुछ जनता है| मुझे यकीन है कि आपने अपने तरीके से जानकारी कर ही ली होगी कि शायद उसकी आपसे मुलाक़ात भी हो सकती है|”

“उसकी नहीं|”

“तो फिर क्या?”

“उसके पायजामे के घुटने वाला हिस्सा|”

“उसमें आपने क्या देखा?”

“जिसकी मुझे आशंका थी|”

“आपने फर्श को थपथपा कर क्यों देखा?”

चिकित्सक महोदय! यह बात करने का नहीं वरन अवलोकन करने का है| हम लोग शत्रु इलाके में जासूस हैं| हम लोगों को ‘सेक्स कोबर्ग स्क्वायर’ के बारे में थोड़ी-बहुत जानकारी है| अब हमें उन बिखरी हुई कड़ियों को जोड़ना है जो इस घटना का कारण हैं|”

जैसे ही हम लोग ‘सेक्स कोबर्ग स्क्वायर’ छोड़ कर उस मोड़ पर मुड़े, हम लोगों ने अपने आप को एक ऐसी सड़क पर पाया जहां का नज़ारा बिलकुल विपरीत था| यह एक गलियारा था जो शहर से उत्तर-पश्चिम को जाने वाले यातायात का प्रमुख गलियारा था| सड़क मार्ग आने-जाने वाले व्यापारिक वाहनों से अवरुद्ध था| जब कि पगडंडियाँ पैदल चलने वालों के झुंडों की खोपड़ियों से काली-काली नज़र आ रही थी| मुरझाये व थके-थके से स्क्वायर जिसे हम लोगों ने अभी-अभी छोड़ा थके विपरीत दूसरी ओर सुन्दर दुकानों व भव्य व्यापारिक भवनों की कतारें आश्चर्यचकित कर देने के लिए काफी था|

“मैं देखता हूँ|” इन कतारों पर सरसरी नज़र डालते हुए कोने में खड़े होम्स ने कहा| “मैं इन भवनों के क्रम को याद रखना चाहूँगा| लंडन को अच्छी तरह से जान लेने की मेरी इच्छा है|” “वहां पर मोर्तिमर तम्बाकू की दुकान, समाचार पत्र की दुकान, कोबर्ग की उपनगरीय बैंक शाखा, शाकाहारी रेस्तरां व मैक फार्लेन केरेज भवन है| इसके बाद हम एक दूसरे खंड में पहुँच जाते हैं| “और अब डाक्टर! हमने अपना कार्य पूरा कर लिया है लिहाज़ा कुछ मौज-मस्ती की जाये| पहले सेंडबिच और एक-एक कप काफ़ी का मज़ा लेते हैं, इसके बाद वायलिन लेंड के लिए निकलेंगे जहां सब कुछ मधुर ही मधुर, साम्य है और जहां हमें खिन्न करने वाली रेड हेडिड पहेली भी नहीं होगी|”

मेरा मित्र ‘होम्स’ एक उत्साही संगीतकार था जो न केवल एक अच्छा संगीतकार भर था वरन उसने कई श्रेष्ठ धुनें भी तैयार की थीं| उस दोपहर वह अत्यंत प्रसन्न था और अपनी लम्बी उँगलियों को इस तरह से घुमाता रहा मानो वह संगीत का अभ्यास कर रहा हो, जबकि उसका मंद-मंद मुस्कराता, उसकी थकी-थकी स्वप्निल ऑंखें होम्स जैसे शिकारी जासूस जैसी नहीं थीं| ऐसा मन जा सकता है कि होम्स एक निर्मम, अत्यधिक विनोदी और सदैव तत्पर रहने वाला आपराधिक मामलों का जासूस था| होम्स के बारे में मेरे हमेशा से विचार रहे हैं या एक वाक्य में कहूँ तो वह यह कि वह सदैव सही निर्णय लेने वाला सिद्ध हुआ है जो उसके कवि हृदय एवं विचारवान स्वभाव के विपरीत झलक देता है| उसकी यह स्वाभाविक विपरीत प्रिवृत्तियां उसे अत्यंत उत्साही व ऊर्जावान बनातीं रहती हैं| जहां तक मैं जानता हूँ वह कभी भी इतना अजेय नहीं होता था जब वह अपनी आराम कुर्सी पर आराम करते हुए अपने छोटे-छोटे व गुप्त तौर पर तैयार किये हुए दस्तावेजों का अध्ययन कर रहा होता था| यह तो जब देखा जा सकता था जब कि उस पर मामले की तह तक पहुँचने की खब्त सवार हो जाती थी और उसकी चातुर्यपूर्ण तार्किक बुद्धि इस स्तर तक पहुँच जाती थी कि जो उसकी कार्यशैली को नहीं जानते थे उसे शंका भरी नज़रों से इस तरह देखने लगते थे मानो वे समझते हों कि यह किसी भी मनुष्य के लिए संभव ही नहीं हो सकता| जब मैंने उसे सेंट जेम्स हाल में संगीत में मग्न उस दोपहर को देखा तो मुझे महसूस हुआ कि अपराधियों ने अपने लिए सामत बुलाली है|

जैसे ही हम वहां से निकले उसने मुझसे कहा “ डाक्टर! क्या आप अपने घर जाना चाहते हैं?”

“हाँ यही उचित है|”

“मुझे भी कोबर्ग स्क्वायर में कुछ ख़ास काम है जिसमें कुछ घंटे लग सकते हैं|”

“ख़ास क्यों?”

“मुझे एक ख़ास तरह के अपराध की संभावना दिखाई दे रही है| मुझे पूरा भरोसा है कि जिसे हम लोग समय रहते रोकने में सफल होंगे, परंतुपरान्तु आज शनिवार होने की वजह से मामला पेचीदा हो गया है| आज रात मुझे आपकी मदद की जरूरत पड़ेगी|”

“किस समय?”

“दस बजे ठीक रहेगा?”

“ मैं दस बजे स्ट्रीट पहुँच जाऊँगा|”

“बहुत अच्छा|” “डाक्टर मुझे लगता है कि वहां कुछ खतरा ह सकता है अतः अपनी सैनिक रिवाल्वर अपनी जेब में रख का आइयेगा|” उसने मेरी और हाथ हिलाया और भीड़ में गम हो गया|

मैं मानता हूँ कि मैं उतना बेवकूफ नहीं हूँ जितना कि मेरे पडोसी, परन्तु सर्लोक होम्स के साथ काम करते समय मुझे लगता था कि मैं बेवकूफियां करता हूँ| जो होम्स ने सुना होता वही मुझे भी सुनाई देता था, मुझे भी वही दिखाई देता था जो होम्स को फिर भी होम्स की बातों से साफ़ झलकता था कि उसे केवल उतना ही नहीं दिखाई देता था जितना कि हुआ हिता था बल्कि वह यह भी देख लेता था कि आगे क्या होने वाला है, जब कि यह सब मुझे उलझा के रख देता थेवं व्यर्थ लगता था|

जब मैं केनिंग्टन अपने घर के लिए निकला, मैंने अब तक घटी सभी घटनाओं जैसे इन्साइक्लोपेडिया की रेड हेडिड नकलचियों द्वारा नक़ल निकाल लेना, सेक्स कोबर्ग स्क्वायर की यात्रा, और अशुभ सूचक शब्द जो होम्स ने मुझसे सांझा किये थे आदि के बारे में विचार करता रहा| आज ही रात्रि के लिए जल्दबाजी एवं मुझसे सशस्त्र आने के लिए कहना भी| हम लोग कहाँ जाने वाले थे, और क्या करने वाले थे? मुझे होम्स के द्वारा संकेत कर दिया गया था कि यह चिकने चेहरे वाला दलाल सहायक एक दुर्घर्ष आदमी था जो इस मामले में गहरी साजिश कर सकता था| मैंने इस पहेली को हल करने का प्रयास किया परन्तु बाद में यह सोच कर कि रात में सारा खुलासा तो हो ही जायेगा उस पहेली को दरकिनार कर दिया|

रात के सवा नौ बजे ही मैं घर से निकल पड़ा और पार्क व ऑक्सफ़ोर्ड स्ट्रीट होता हुआ, बेकार स्ट्रीट पहुँच गया| दो खूबसूरत आदमी खड़े थे और जैसे ही मैं गलियारे में घुसा, ऊपर से कुछ आवाज सुनाई दी| जैसे ही मैं होम्स के कमरे में घुसा पाया कि होम्स दो आदमियों के साथ चर्चा में रत था| उनमें से एक को मैं पीटर जोन्स के नाम से जानता था जो कि एक पुलिस अधिकारी था, जब कि दूसरा एक लंबा और पतला दुखी चेहरे वाला व्यक्ति था जिसने बहुत ही चमकीला हैट व बेतरतीब फ्रॉक कोट पहन रखा था|

मुझे देखते ही होम्स ने अपनी पी जेकिट को दुरुस्त करते हुए व् रेक में से अपनी खोज में संकलित फ़ाइल निकालते हुए कहा “अब हमारी पार्टी पूरी हो गई|” होम्स ने मुझे संबोधित करते हुए कहा “वाटसन! मुझे लगता है कि तुम मिस्टर जोन्स जो स्काटलेंड यार्ड से हैं, को तो जानते ही होगे| मैं मिस्टर मेरीवेदर से आपका परिचय कराता हूँ जो आज के अभियान में हमारे साथी होंगे|”

“हम जोड़े में शिकार करेंगे|” जोन्स ने अपनी प्रभावपूर्ण शैली में कहा| मित्रो अपने साथ एक आश्चर्यजनक व्यक्ति हैं जो जांच की शुरूआत करेंगे| बस इसके लिए उन्हें एक कुत्ते की जरूरत होगी जो इन्हें दौड़ लगाने में मदद करेगा|”

मिस्टर मेरीवेदर ने उदास हो कर कहा “यह सारा सहस एक निरर्थक प्रयास साबित न हो|”

आप होम्स सर पर पूरा भरोसा कर सकते हैं|” पुलिस एजेंट ने विश्वास पूर्वक कहा| उनके काम करने के अपने तरीके हैं, अगर वे बुरा न मानें तो मैं कहना चाहूँगा कि वे थोडा सैद्धांतिक जरूर हैं पर उनमें एक श्रेष्ठ जासूस होने के सरे गुण हैं| मैं बड़ी बात नहीं करता, एक-दो बार शोल्तो हत्याकांड और एग्रा खजाने के मामले में होम्स, सम्बंधित अधिकारियों से ज्यादा नजदीकी और सटीक पाए गए|”

“ओह! यदि आप कहते हैं मिस्टर जोन्स तब ठीक है, फिर भी मेरी जिज्ञासा शांत नहीं हुई”, अजनबी ने एकमत न होते हुए कहा|

“मैं समझता हूँ कि आपकी शंका दूर होगी, आज रात आप कुछ ऐसा करेंगे जो आज तक नहीं किया और वह ज्यादा रोमांचक होगा” सरलाक होम्स ने कहा| मिस्टर मेरीवेदर आपका हिस्सा होगा लगभग 30,000 पाउंड्स और मिस्टर जोन्स आपको वह आदमी मिलेगा जिसे आप पकड़ना चाहते हैं| होम्स ने कहने जारी रखा “उस चालबाज, चोर, तोड़-फोड़ करने वाले हत्यारे का नाम जान क्ले है| मिस्टर मेरीवेदर वह एक जवां व्यक्ति है परन्तु वह अपने पेशे के शिखर पर है और मैं लन्दन के किसी अन्य अपराधी की अपेक्षा उसी पर अपना दाव लगाना पसंद करूंगा|

‘जान क्ले’ न केवल जवान व्यक्ति है बल्कि ध्यान देने योग्य व्यक्ति है| उसके दादा एक शाही परिवार से थे, और वह खुद भी एटन व ऑक्सफ़ोर्ड का पड़ा-लिखा है|उसका दिमाग उसकी उँगलियों की तरह तेज है| यद्यपि उसके कुछ सुबूत हमें हर जगह मिले फिर भी हम उसे पकड़ नहीं सके|किसी हफ्ते वह स्काटलैंड में नक़ल करके धन कमाता तो अगले हफ्ते वह उस धन को कार्निबेल में अनाथालय खोलने के लिए खर्च करता है| मैं कई वर्षों से उसका पीछा कर रहा हूँ पर उस पर अबतक नज़र न ठहरा पाया|

“मुझे आशा है कि आज रात मैं आप लोगों को उससे मिवौंगा, जान क्ले से एक -दो मुठभेड़ हुईं हैं और मैं मानता हूँ कि वह अपने पेशे के शिखर पर है| इस समय साधे दस बजे हैं और अपना अभियान शुरू करने का सही समय है| यदि आप दोनों पहली बग्घी से निकल जाते हैं तो मैनौर मिस्टर वाटसन दूसरी बग्घी से आपके पीछे निकल पड़ेंगे|”

सर्लोक होम्स उस यात्रा के दौरान ज्यादातर चुप ही रहे| हाँ कब में लेते-लेते वे उस धुन को गुनगुनाते रहे जो उन्होंने दोपहर को सुनी थी| फेरिंग्टन स्ट्रीट तक पहुँचने के दौरान गैस बत्तियों से प्रकाशित भूलभुलैयों युक्त लम्बे रस्ते को पार करते करते हम उकता चुके थे|

मेरे मित्र होम्स ने कहा-“अब हम नजदीक पहुँच रहे हैं|” ये जो मेरीवेदर है वो एक बैंक के निदेशक हैं और इस मामले में व्यक्तिगत रूचि रखते हैं| मैं सोचता हूँ कि जोन्स को भी साथ ले लेना चाहिए| वह अपने पेशे में मुर्ख व्यक्ति है फिर भी वह बुरा आदमी नहीं है| उसकी एक खासियत भी है कि वह बुलडॉग की तरह बहादुर है और जब वह किसी के ऊपर अपने पंजे गढा देता है तो केकड़े की तरह दृढ़ता से जमा देता है| चलिए अब हम पहुँच गए हैं, वे दोनों हमारा इंतज़ार कर रहे हैं|”

अब हम उस भीडभाड वाले इलाके में जैसे-तैसे पहुँच ही गए हैं जहां पर हम सुबह आये थे| हमने अपनी बग्घियाँ छोड़ दीं और मेरीवेदर के निर्देशानुसार एक पतली गली से निकलकर बगल के दरवाजे से जो उसने ही खोला था, गुजरे| उसमें एक छोटा सा बरामदा था जिस पर लोहे का भारीभरकम दरवाजा लगा था| इसे भी खोला गया जिसके बाद सीढियां थीं जो एक दूसरे दरवाजे पर ख़त्म होती थीं| मिस्टर मेरीवेदर ने रुक कर लेन्टर्न जलाई और हम लोगों को एक अँधेरे, मिटटी की खुशबूदार गलियारे से होते हुए तीसरा दरवाजा जिसके पीछे एक बहुत बड़ा तहखाना था जो पतियों और बड़े-बड़े संदूकों से भरा पड़ा था, तक ले गए|

जैसे ही उसने लेन्टर्न दिखाकर अपनी तरफ घूर, होम्स ने कहा “बाहर से आप इतने कमजोर नज़र तो नहीं आते|”

मेरीवेदर ने फर्श पर पड़े हुए झंडे को छड़ी से टटोलते हुए कहा “मैं अन्दर से भी कमजोर नहीं हूँ| प्रिय! मैं ही क्यों? यह कुछ उचित नहीं दीखता|” मेरीवेदर ने आश्चर्य से देखते हुए कहा|

होम्स ने कठोरता से कहा “अब हमें थोड़ी चुप्पी साधनी होगी|”आप लोंगों ने पहले ही हमारी सफलता को क्षति पहुंचा दी है| क्या मैं आप लोगों से कह सकता हूँ कि आप लोग इन संदूकों पर बैठ जाएँ और मेरे कार्य में बाधा न डालें|”

मेरीवेदर गंभीर हो कर दुखी मुख मुद्रा के साथ पेटी पर बैठ गया| दूसरी तरफ होम्स घुटनों के बल फर्श पर बैठ कर लेन्टर्न एवं आवर्धक लेंस की मदद से पत्थरों के बीच की दरारों को ध्यान से देखने लगे| थोड़ी ही देर में होम्स संतुष्ट होकर खड़े हो गए और आवर्धक लेंस को अपनी जेब में रख लिया|

“हमारे पास लगभग एक घंटे का समय है जिसमें अब कुछ करने को नहीं बचा है, जब तक कि वह सूदखोर दलाल सो नहीं जाता| इसके बाद हम एक मिनट का समय भी नहीं गवांएंगे जिससे कार्य पूरा होने के बाद हम लोगों को यहाँ से भागने के लिए लम्बा समय मिल सके| हम सब इस समय जहां हैं, वह लंडन के प्रमुख बैंक की शहर की शाखा का तहखाना है और मिस्टर मेरीवेदर निद्देशकों के डायरेक्टर के प्रमुख हैं वे बताएँगे कि लोंदन के साहसी अपराधी इसमें ज्यादा रूचि रखते हैं|”

मेरीवेदर बुदबुदाया “यह हमारा फ्रेंच गोल्ड है| हमें कई बार चेतावनियाँ दी गईं हैं कि इसे पाने के अनधिकृत प्रयास हो सकते हैं|”

“आपका फ्रेंच गोल्ड?”

“हाँ, कुछ माह पूर्व हमें लगा कि हमें अपने स्त्रोतों को बढ़ाने का हमें मौक़ा मिला है, अतः हमने फ़्रांस बैंक से 30,000 फ़्रांसीसी मुद्राएँ उधार लीं| लोगों को ज्ञात हो गया कि उधार मंगाए गए धन का स्तेमाल का मौका नहीं आया और अबभी तहखाने में पड़ा हुआ है| जिस पेटी पर मैं बैठा था उसमें फ़्रांस कि 2000 मुद्राएँ लेड फ्वाइल तह कर रखी हुईं हैं| इस समय हमारी धातु मुद्राओं का भण्डार काफी ज्यादा है कि उसे बैंक की एक शाखा में नहीं रखा जाता है जिसका पता निदेशकों को भी नहीं होता है|”

होम्स ने कहा “यह उचित भी है|” अब समय है कि हमें अपनी योजनाओं को तरतीब स बैठना होगा| मुझे आशा है कि एक घंटे के अन्दार्मामला अपे चरम पर होगा| और इस बीच हमें मिस्टर मेरीवेदर अपनी लेन्टर्न के ऊपर पर्दा डाल देना चाहिए|”

“और हम सब अँधेरे में बैठेंगे?”

“मुझे लगता है कि ऐसा ही करना होगा|” मैं अपनी जेब में एक ताश की गद्दी लेकर आया था जैसे ही आपको आपका मुलजिम मिल जाएगा बैठ कर पत्ते खेलेंगे| परन्तु मुझे लगता है कि दुश्मन इस हद तक तैयार है कि हम लोग रोशनी करके नहीं बैठ सकते| सबसे पहले हमें अपनी-अपनी पोजीशन लेना होगी| मुल्ज़िमात खतरनाक लोग हैं और यदि हम सतर्क न रहे तो हमें भी नुक्सान पहुंचा सकते हैं|यदि हम उन्हें घेर भी लेते हैं तब भी| मैं इस पेटी के पीछे खड़ा रहूँगा| क्या तुम लोग अपने को उन संदूकों के पीछे छिपा सकते हो?और तब जब मैं उन लोगों पर रोशनी चमकाऊं जल्दी से इकट्ठे हो जाना| यदि उन लोगों ने गोली चलाई तो मिस्टर वाटसन! आपको भी उन्हें मार गिराने में कोई संकोच नहीं होना चाहिए|”

मैंने अपनी रिवाल्वर का घोड़ा चढ़ा कर उसी पेटी के ऊपर रख दिया जिस पेटी के पीछे मैं दुबका हुआ था|

होम्स ने लेन्टर्न की चरों तरफ झिल्ली चढ़ा डी और हम लोग एक नितांत घने अँधेरे में थे| इतना घुप अँधेरा मैंने पहले कभी नहीं महसूस किया था| बत्ती की दुर्गन्ध हमें बता रही थी कि अभी भी उसमें रोशनी है जिसे जरूरत पड़ने पर कभी भी चमकाया जा सकता है| आशा में मेरी धमनियों में खून तेजी से दौड़ने लगा था फिर भी उस तहखाने की सर्द व नाम हवा में एक निराशाजनक व दिल दहला देने वाली खामोशी छाई हुई थी|

होम्स बुदबुदाया “वे लोग एक से अधिक हैं|वे सेक्स कोबर्ग स्क्वायर के पिछवाड़े से दाखिल होंगे| जोन्स! क्या तुमने वो साड़ी तयारियां कार्लिं हैं जिनके लिए मैंने तुम्हे बताया था?”

“मैंने एक इन्स्पेक्टर और दो अन्य पुलिश कर्मी दरवाजे पर तैनात कर दिए हैं|

“मैंने और दूसरे सरे छिद्र बंद कर दिए हैं| अब हमें खामोशी से इंतज़ार करना चाहिए|

क्या समय था! बाद में नोट्स का अवलोकन पकरने पर पता चला कि कि सवा घंटे का समय हो गया था, पर मुझे लगा कि रात बिट रही थी और सुबह होने को है| मेरी टाँगें जकड चुकी थीं| मुझे लगा कि मुझे अपनी लि हुई पोजीशन बदलना पड़ेगी| इसके बावजूद मेरी धमनियों में रक्त तेजी से दौड़ रहा था, मैं इतना अधिक साफ़ सुन पा रहा था कि मेरे साथियों की सांसें भी| मैं, भारीभरकम जोन्स कि लम्बी और गहरी संसेंसंसे स्पष्ट सुन रहा था| मैं फर्श पर आसानी से भी देख पा रहा था| यकायक मुझे रौशनी की छोटी सी चमक दिखाई दी|

पहले यह पत्थरों कि फर्श पर छोटी सी चमक थी बाद में इसकी लम्बाई बढाती गयी और अब तो एक पिली रेखा सी खीच गई थी| और इसके बाद बिना किसी चेतावनी या आवाज के पत्थरों के बिछ की दरार में से एक हाथ बहार निकला, एक सफ़ेद और जनाना हाथ जिसने उस रोशनी के छोटे से दायरे का जायजा लिया| एक मिनट के लिए हिलती-दुलती उँगलियों वाला वह हाथ फर्श के बाहर आ गया परन्तु वह उसी तरह वापिस अन्दर चला गया जिस तरह वह बहार आया ता, और फिर सिवाय एक छोटी सी चमक जो पत्थरों की दरार से दिखाई दे रही थी घुप अँधेरा छा गया|

***

अन्य रसप्रद विकल्प

शेयर करे

NEW REALESED