Sacche Dil ki Pukar books and stories free download online pdf in Hindi

सच्चे दिल की पुकार

सच्चे दिल की पुकार

  • रिंकल राजा
  • हमारे इस जहा में कई किषम के लोग है ....!!! जैसे की कोई आलसी है तो कोई अपने काम में चुस्त ...!!! और कोई कपटी है तो कोई प्रमाणिक ...!!!

    इस जहा में हर कोई केहता है ... भगवन सुन रहे है , भगवन देख रहे है ...!!! हमारे कर्मो का हिसाब देखेंगे अच्छे कर्मो को स्वर्ग और बुरे कर्मो को नरक मीलेगा , और कई लोग कहते है भगवान होते ही नहीं , अपनी मर्ज़ी ही चलेगी भगवान कुछ नहीं कर सकते हमें ही सब कुछ करना चाहिए ...!!!

    एक आम आदमी महेनत करके अपना बसेरा बनता है ... ! तो कोई हिंसा , चोरी करके अपना घर चलाता है ...! पर अपने मन में सच्चाई हो तो हर काम अच्छा और सच्चा होता है ...! भगवान हर जगह है , हमारे आसपास , हमारे साथ , हमारे दिल , दिमाग में, हमारे सामने , हमारे पास , हर जगह भगवान है ...! बस हमें महेसुस करने की देरी है ...!!!

    एक सच्चे दिल और बिना स्वार्थ से कि गई पुकार भगवान सुनते ही है ...! पर अगर स्वार्थ के साथ की गई प्रार्थना कभी सफल नहीं हो सकती , किसी का बुरा सोचने से खुद का ही बुरा हो जाता है ...! हर किसी के दिल में भगवान होता है ...!!!

    हर किसी को कभी अपने से कम नहीं सोचना चाहिए .... क्योकि कीस्मत कभी भी पलट सकती है...!!! और हमारी किस्मत में कल क्या लिखा होगा वो भी हमें पता नहीं होता...!!! और दुनिया को हमें दिल से अपना सोचा तो देखिये दुनिया आपके साथ ही महेसुस कर पायेंगे ...!!!

    एक आम आदमी अगर बड़े आदमी के साथ खुद को तोलेगा तो वो खुद से ही हार जायेगा ...! पर अगर सच्चे मन से वो काम करे और आगे बठने का प्रयास करे तो वो ज़रूर एक दिन अच्छा और सच्चा आदमी बनेगा ...!!!

    अगर कोई सच्चे मन से कोई भी प्रार्थना करे तो वो कभी निष्फल नहीं हो सकती ...! बस खुद पर हर हाल में भरोषा होना चाहिए ...!!!

    प्रार्थना में कई ताकात होती है... और अपने आप पर यकिन हो तो हर काम आसान हो सकता है ...!!!

    जिंदगी एक बार मिलती है ...!!! हर पल-पल आवश्यक होता है ...! तो इसे बुरे कर्मो और स्वार्थ से ख़तम नहीं होने देना चाहिए ...! हर किसी को उम्मीद होती है ... हर किसी को ख्वाब होता है पर उस ख्वाब को बिना स्वार्थ के और बिना हिंसा से पूरा करे तो फिर अपनी मंजिल एक दिन ज़रूर पूरी होती है...!!!

    एक मशहूर कहावत है की “ अपने किरतार ऐसे निभाओ की हमारा पर्दा गिरने के बाद भी तालिय बजती रहे....!!!

    एक अच्छा दिल कई सारे लोगो को खुस कर सकता है...! और हमारी जिंदगी को भी एक नयी राह (मंजिल ) देता है ...! हर किसी के मन में बस हमारे लिए दुआ ही होनी चाहिए ना की कड़वाहट ....!

    भगवान श्री कृष्णा भी गीता में कह गये है की स्वार्थ से किया गया काम कभी सफल नहीं हो सकता... और स्वार्थ से भरा इन्सान भगवान को भी मंज़ूर नहीं है ...! और बिना हिंसा और स्वार्थ से भरा इन्सान भगवान को भी पसंद है...!!!

    एक सच्चा दिल , सच्चा प्यार , सच्चा दोस्त , सच्चा साथी , हमारी शान बढ़ाता है...!!!

    ऐसा नहीं है की गलत राह पर चलने वाले और हिंसा करने वाले लोग ही खुश होते है .... उस इन्सान की खुसी पल –दो पल होती है और एक ना एक दिन ज़रूर उसे अपने कर्मो की सजा मिल ही जाती है ...!!! इस दुनिया स्वार्थ से भरी हुई है ... अपने आप को ऐस और आराम से रहने के लिए कुछ भी कर सकती है... पर अच्छे और बुरे का नज़रिया समज में आ जाये तो वो इन्सान को कभी सर ज़ुका के नहीं चलना पड़ता .....!!! अच्छे बात , अच्छा दिल , अच्छा परिवार ,अछे लोगों की और ही शान होती है...!!!

    “ में बस इतना कहेना चाहती हु की एक अच्छा दिल और एक सच्ची सोच आप को अपनी मंजिल तक पोहचा सकता है और भगवान उसके साथ हमेशा होते ही है ....!!!!!!”

    - रिंकल राजा

    अन्य रसप्रद विकल्प