The Accidental Marriage - 4 ss ss द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

Featured Books
शेयर करे

The Accidental Marriage - 4

दो साल बाद......,
दिल्ली_______________,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,,
खुराना मेंशन :
आज सब अरुण की पसंद का होना चाहिए ।
एक औरत सभी को ऑर्डर देते हुए कहती है ....... तभी पीछे से आवाज आती है मां आप सबसे ज्यादा भाई से प्यार करती है ,आप हमारे लिए तो इतना कुछ नही करती है। झूठ - मूठ का गुस्सा करते हुऐ अरूण की छोटी बहन माही अर्पणा से कहती है ।
अर्पणा खुराना अरूण खुराना की मां है ,.......
अर्पणा खुराना - तुम दोनों ही मेरे लिए एक जैसे हो बेटा । अब चलो जल्दी से मेरी हेल्प करो । ...........अरूण के नीचे आने से पहले सारी तैयारियां हो जानी चाहिए ।
हां मां आप ज्यादा मत सोचे भाई के आने से पहले सब हो जायेगा ।
अरूण जो रेडी होकर नीचे ही आ रहा था अचानक से रुक जाता है ।
इतनी शांति आज कोई उठा नही है क्या अरूण अपने रिस्ट वॉच में टाइम देखते हुए कहता है इस टाइम तक सभी उठ जाते है , फिर आज कोई दिखाई क्यों नही दे रहा कहते हुए अरुण सीढ़ियों से निचे हॉल की तरफ आने लगता है। ****** हैप्पी बर्थडे टू यू कहते हुए सभी अपनी छुपी हुई जगह से बाहर आते हुए कहते है , कोई किचन से तो कोई रूम से और माही तो डायनिंग टेबल के नीचे से निकलते हुए कहती है, हैप्पी बर्थडे भाई जिसे देख कर अरूण के चेहरे पर स्माईल आजाती है । माही के सर पर चपत लगाते हुए अरूण माही से कहता है ।
तुम्हें कोई और जगह नही मिली छुपने की ये सुनकर वहा खड़े सभी लोग हंसने लगते हैं।
वहा खड़े लोग जिनमें अरुण की मां और बहन बाकी सब उसके घर में काम करने वाले लोग है , अरूण की मां अर्पणा अरूण के पास आते हुए कहती है तुम्हारे पापा और भाई जल्दी ही वापस आजाएंगे अपना काम खत्म करके उन्होंने तुम्हारे लिए गिफ्ट्स भिजवाए है , मेने तुम्हारे कमरे में रखवा दिए है देख लेना ।
माही अरूण के पास आकर उसका हाथ पकड़ कर उसे खींचते हुए टेबल के पास लेकर आ जाती है टेबल पर रखे कैक को कट करने के लिए माही अरूण को एक नाइफ पकड़ा देती है , .... जैसे ही अरूण कैक कट करने के लिए आगे बढ़ता है ।
किसी की आवाज सुनते ही रुक जाता है , मैन डोर से हैप्पी बर्थडे माय लव कहते हुए एक लड़की अंदर आती है, जिसे देख कर माही का मुंह बन जाता है, और वो पास खड़े एक नोकर से कहती है , पता नहीं भाई को इसमें ऐसा क्या दिखा जो भाई ने इसे अपनी गर्लफ्रेंड बना लिया ।......इशिता बेटा आओ हम तुम्हारा ही इंतजार कर रहे थे । अरूण की मां कहती है ,.........
इशिता अपने हाथों में पकड़े रेड रोज का बुके अरूण को देते हुए उसके गालों पर हल्के से किस करती है , जिसे देख अरूण की मां अपना मुंह दूसरी तरफ कर देती है , माही तो उसे खा जाने वाली नजरो से ही देख रही थीं।अरूण कैक कट करता है , सभी को कैक अपने हाथो से खिलाने के बाद ऑफिस के लिए निकल जाता है , जाने से पहले वो अपनी मां को उसकी बर्थडे पार्टी ऑर्गेनाइज करने से मना कर देता है ।
एक ऊंची बिल्डिंग के फ्लैट में दो लडकियां बैड पर सो रही थी , अलार्म की आवाज सुनकर एक लड़की अपना हाथ बढ़ाकर अलार्म को बंद कर देती है , दुसरी लड़की अपना हाथ बढ़ाकर फोन लेकर टाईम देखते हुए कहती है ।
काव्या 8 बज रहे है हम लेट हो जायेंगे इंटरव्यू के लिए , तुम्हें भी तो अपने ऑफिस जाना है , उसकी बाते सुनते ही काव्या झट से उठ कर बैठ जाती है ,
काव्या - पाखी अगर हम आज भी लेट हो गए तो आज बॉस हमारी हमेशा के लिए छुट्टी कर देंगे । कहते हुए काव्या वाशरूम की तरफ भागने लगती है ।
पाखी - अरे पहले हमे जाने दो । तुम तो जॉब भी कर रही हो , हमे तो इंटरव्यू के लिए जाना है अगर हम लेट हो गए तो जॉब भी नहीं मिलेगी हमे। तुम्हें तो जॉब अभी मिली भी नही हम देर से गए तो हमारी लगी हुई जॉब भी चली जायेगी । वाशरूम के अंदर से काव्या कहती है ।______,,,,
थोड़ी देर में दोनों ही लड़कियां तैयार हो कर डायनिंग टेबल आ जाती है ।
ब्रेकफास्ट करते हुए काव्या पाखी से कहती है ,,
देखो पाखी जिस कंपनी में तुम जा रही हो न वो कंपनी दिल्ली की टॉप कंपनियों में से एक है वहां जॉब मिलना आसान नही होगा । फिर भी तुम अपना बेस्ट देना । पाखी - ओके ।
काव्या - वैसे हमे लगता है , तुम्हें जॉब मिल जायेगी।
पाखी - तुम इतनी श्योर कैसे हो ।
काव्या - तुम इतनी खुबसूरत हो इन्टरव्यू लेने वाला तो तुम पर ही फ्लैट हो जायेगा । पाखी - हमे ऐसे जॉब नहीं चाहिए । हमें हमारी कॉलिफिकेशन के दम पर जॉब चाहिए ।
काव्या - बेस्ट ऑफ लक माई क्यूटी पाई , पाखी का एक गाल खींचते हुए कहती है । दोनों ही ब्रेकफास्ट के बाद अपने ऑफिस के लिए निकल जाती है ।
अरूण कार ड्राइव कर रहा था इशिता उसके बराबर में बैठी थीं
वो कंटिन्यू बिना पलके झपकाए अरूण देख रही थीं जैसे वो अरूण को अपनी आंखों में समां लेना चाहती हो उसकी चाहत अरूण को पाने की उसकी आंखों में साफ दिखाई दे रही थीं। दोनों की खामोशी तोड़ते हुए इशिता अरूण से कहती है ,
अरूण हम दोनों चार सालो से साथ है , तुम्हें नही लगता अब हमे शादी कर लेनी चाहिए ।
अरूण ये सुनते ही कार साइड में रोक देता है ये सब वो इतनी जल्दी में करता है इशिता ये देख कर घबरा जाती है वो अरूण की तरफ देखते हुए पुछती है ,,,,,,,,,,, आर यू ओके , _______ ,
अरूण - बस हम्म्म में जवाब देता है ।.......
इसके बाद दोनों ही बिना कुछ बोले चले जाते है अरूण इशिता को उसके ऑफिस ड्रॉप करके अपने ऑफिस आ जाता है अरूण के ऑफिस में अन्दर आते ही सारा स्टाफ उसे विश करता है । वो सबको एक स्माइल पास करता हुआ अपने कैबीन में आ जाता है ।.......... ******
आगे क्या हुआ जानने के लिए पढ़ें । अगला चैप्टर जरूर पढ़े ।
😇😇😇