केप्ट्न स्वांग Steetlom द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

Featured Books
शेयर करे

केप्ट्न स्वांग

आज भी एक ओर आवकाश यान खोज ने निकला हे एक एसा ग्रह कि जो हमारी धरती (प्रुथ्वी) का स्थान ले सके। हमने विज्ञान मे बहुत प्रगती कर लि पर हम आपनी धरती को बचा नही सके। इस टेक्नोलोजी की रेस मे हमे पता ही नही चला की कब धरती जो हे वो एक गर्म होती गई ओर जब पता लगा तो बहुत देर होगइ थी। हमेने अपनी सुविधा के लीये मशीनो का आविस्कार किया पर आज के जामाने मे अब हर तरफ बस मशीनो का राज देखने को मीलता हे।

यान १९८४६९ का आज ३० मा साल हे अवकाश मे। रोबो मानव इस यान को चला रहे हे। केप्ट्न स्वांग ओर उनके साथी डिप स्लिप म्शीनमे २९ सालो से सोए हुए थे। ये सारे रोबो मानवो को उनका ध्यान रख रहे हे ओर यान का संचालन भी कर रहे थ हे। वो सब रोबो मानव बिना हवा के बिना खाने के भी जी सकते थे। वो सब बीजलि से चलते थे। वो सब आपनी जरुरत की बिजली न्युक्लिरयर उर्जा मशीन से पाते थे।

केप्टन स्वांग को आज तारीख मे एक रोबोट मानव को उन्हो ने उनको जगाने का शुचन दिया था इसलिये वो रोबो मानव को आपनी मेमरी मे से उसका मेसेज आता हे। क्रुपिया करके केप्टन को जागाना हे आज ।

वो जाकर उनको जगाता हे। स्वांग जागते हे ओर फीर सबसे पहले आपनी मेडिकल चेकअप करवाती हे ओर वो रोबो १.० को पुछती हे कि क्या कोइ हादसा हुआ था २९ साल मे? वो रोबो मानव कहता हे हाद्सा मेम केसा हदसा मेम? कोइ हादसा नही हुआ हे सब कुछ ठीक हे।

वो सभी धरती से ११ प्रकाश वर्ष की दुरी पर थे।

अब स्वांग बाकि के लोगो को जगाने को कहेती हे। सब लोको को धीरे धीरे करके जगाया जाता हे। सब लोग २९ सालो से सोए हुए थे। इसलीये किसीको तकलीफ हो रही थी। कोइ चल नही पाता था तो किसीका शरीरका कोइ आंग काम नही करता था तो किसीको कोइ ओर तकलीफ थी। सबको तरल चीजो पीने का सलाह दिया जारहा हे। उनके शरीमे तरल चीजो का वहन थम गया था क्योकि वो सभी काफी सालो से उन सोने वाली मशीनो मे सोए हुए जो थे ।

वो स्लिपिंग मशीने इन मशीनो की खाशीयत यह थी की उनके अंदर जो सोजाता उनकी उर्म बहुत हि कम बढ्ती । जैसे कि अगर कोइ आदमी सामान्य आयु अगर १ साल मे जीतनी बढती हे वो इसमे जाता हे तो यहा इन मशीन के अंदर का आदमी कि उर्म १ साल मे बस ३ महिना बढती हे। जेसे हमारी हमारी धरती पर मेंढक करते हे ।

सारे लोग अब जागे हए हे। सभी लोगो को पहेली बताया गया था कि आपको तभी जगाया जाएगा की जब हमारी धरती जेसा ग्रह नजर आए ओर आपको वहा जाकर उस ग्रह का मुआयना करना हे ओर वहा पर हम इनसान क्या जींदा रह सकेंगे? ए खोज करना हे।

पर जहा पर अगर पहेले हि जीवन को तो वह पर न जाए।

रोबो ८ ने पहेले ही इस ग्रह पर एक छोटा सा यंत्र भेजा था कि जीससे बहा के हालाद का पता चले। उसका लाइव विडियो सब स्क्रिन पर आरहा था। सब लोग इस उसको देख रहे हे।

स्वांगः रोबो ८ मुजे बताओ कि क्या वहा पर कोइ ओर जीव रहे ते हे?

रोबो८: नही मेम कोइ जीव नही हे बस जो भी हे वो हमारे धरती के प्राणी यो से मेल खाते हे।

स्वांग: अब वहा पर तलास करके कोइ आच्छि जगह बताओ। कि मे ओर मेरे सात आठ लोग वहा पर उतर शके ओर वहा कि जांच कर शके ।

रोबो८: जी मेम,

थोडि देर बाद बोलता हे।

मेमे मील गइ वहा ९८ डि एम राइट ओर २५ डि एम लेफ्ट उतरने पर आप लोगो को सब कुछ देख सकंगे।

स्वांग: तो फिर देर किस बात कि हे? वहा जाने कि तैयारी करो ओर वो आठ लोगो भी तैयार होने को कहेती हे।

अब रोबो १ उनके लीये एक चोटा यान को तैयार करता हे । कि जो वहा उस ग्रह पर जा सके।

स्वांग ओर उनके आठ साथी कुल मीलके नो लोग वहा पर जाने के लिये अब तैयार थे। सबको आवकाश शुट पहेनाया गया। सब बहुत ही उत्साहि थे।

स्वांग ने सबको क्या करना हे वो बताया ओर ३ रोबो साथ लीये कि जो उनके काम मे मदद करेगे। ये रोबोटो को हर ८ घंटे मे अपने आप् को रिचार्ज करना होता था ओर वहा सायाद ज्यासा समय लागेगा। तो उनकी बेटरी ओर सारे इनसानो केलीये ओक्सिजन के एक ज्यादा टेंक, खाना सब साथ रख ने का आदेश स्वांग ने दिया।

ये सब रख उस यान मे रख कर रोबो १ ने स्वांग को सुचीत किया की हम तैयार हे। ये यान अब उस ग्रह का पहेला सफर करने को तैयार था।

सारे ९ लोग उसमे बेठे सबने आपना समान चेक किया ओर सबने हरा सीगनल दिया। तो स्वांग ने उसका इंजन चालु किया ओर वो लोग वहा उस ग्रह कि पहेली सफर को चल दिये।

उस छोटे यान को उस यान से भी कंटोल किया जा सकता था ओर इस मेन यान से भी। वहा इस ग्रह पर पहेले बताए हुए कोर्डीनेट पर सब लोग यान ले कर पहोच ते हे। रोबो ने बताइ मुताबिक वहासे सब कुछ दिखता था।

स्वांग ने वहा पर कदम रखा ओर कोइ खतरा नही हे वो देखा फिर सब लोग याने से नीचे उतरे ओर उस ग्रह को देखने लगे क्या खुबसुरत था नझारा वो हरीयाली वो ४ उपग्रह उसकी सुंदरता पर चार चांद लगा रहे थे।

अब केप्टन ने कहा की सब लोग जीतनी जल्दी होसके उतना जो मेने काम बताया वो खतम करो। सब लोग तीन ग्रुप मे बट गये। सबके साथ एक रोबो दिया गया। जीसमे एक ग्रुप सजीवो के बारेमे खोज करता था। एक ग्रुप इसके वातावरण के बारेमे खोज करता था ओर तीसरा जोहे वो इसके जमीन के बारेमे खोज करता था।

सब लोग चले गये अब स्वांग वहा यान पर हि रुकी ओर पता नही पर स्वांग ने आखरी वख्त मे एक ज्यादा रोबो को भी लीया था। वहा पर अब दोनो सब कुछ देख रहे थे।

५ घंटे से ज्यादा समय बित गया था। तभी उस ग्रह मे एक हरी रोशनी कही से निकलती हे ओर स्वांग कि आंखे चोक जाती हे। बस सेकंड के कुछ हिस्से मे वो सारे ग्रह पर छा गई।

वहा पर भी जो लोग जमीन के उपर खोज कर रहे थे। वो सभी उसको देख कर हेरान होगये। वहा पर दुसरा ग्रप हि जमीन के उपर था । तो बस वो ओर तीन लोगो ने ही वो रोसनी देखी।

उस रोशनी के गुजर जाने के बाद अब यान के सारा इंधन खाली होकर वहा बहार गीर रहा था। वो देख कर स्वांग ने रोबोको उसकी जांच करने को कहा। तो वहा पर अब वो भी पता नही पर काम नही करता था। स्वांग ने उसकी जांच कि पर कुछ पता नही लगा । अब स्वांग ने यान से सर्पक करना चाहा पर हुआ नही। वो हेरान रह गई ये क्या हो गया?

वो सब कुछ रीसेट करके चालु किया पर कुछ नही हुआ। उतनी देर मे वहा पर बाकी लोग भी आ गये। उनमे से जीसने रोशनी देखी उअने स्वांग को पुछा की ये क्या था। पर कोइ कुछ नही जानता था।

ओर सबने कहा कि हमारे साथ जो रोबो था वो भी अचानक बंद हो गया। तो वहा ही छोड दिया ओर हम धबराकर आपके पास आगये।

अब सब लोग यान को चलाने कि कोशीस करने लगे। पर कुछ नही हुआ। सब लोग एक दुसरे के सामने देखने लगे कि क्या हुआ?

स्वांग : हमारा यान का इधन नही हे ओर सर्पक भी नही हो रहा हे। अब हम सायद यहा पर फस गये हे । लेकीन गघबराने कि कोइ जरुरत नही मे कोइ ना कोइ रास्ता ढुंढ लुगी।

सब लोग वहा पर उसया नो सिंर्कोनाइज करके अपने साथ लेते हे ओर वहा उस ग्रह पर चोकन्ने हो कर आगे बढ्ते हे। (सिंर्कोनाइज एक एसी तकनीक थी कि जिससे कोइ बडि चिज को छोटी किया जा सकता था। )

अब वो लोग वहा आगे बढते हे। वो रोशनी के बारे मे जानने के लिये । वहा तकरीबन ९ घंटे का सफर करते हे ओर उनको वहा पर एक उनका पुराना यान कि जो लगभग ५० साल पहेले भेजा था उसके लोग मीलते हे वो उनको चारो ओरसे घेर लेते हे। केप्ट्न ग्रीम की जो उसके केप्टन थे। उन्होने स्वांग के उपर धरती का लोगो देखा ओर धरती की भाषा मे पुछा कि तुम कोन हो? कहा से आये हो? ओर क्यु आये हो?

उन्हो ने आपना नाम बताया हम धरती से आये हे। अब हामारी धरती रहने लाइक नही रहि तो हमे ओर एक रहने के लिये कोइ ग्रह चाहिये। तो हम इस पर जांच करने आये थे।

ग्रीम ने आपनी पहेचान दि ओर कह कि आपमे से कोन उस रोशनी को छुआ हे? तो उसमे से तीन लोगो नीकले ।

फिर ग्रीम ने उनको एक पहाडि पर लेगये ओर उनको वहा से नीचे फेक दिया । सब लोग हेरान होगए की ये तो धरती के लोग हे फिर भी वो हमे मारना क्यो चाहते हे?

लेकिन ये क्या ये लोग तो हवा मे तेर रहे थे। सब हेरान रह गये। ये क्या हुआ ?

वहा पर वो लोग वहा पर आते हे ओर स्वांग ग्रीम को पुछ्ती हे कि ये सब क्या हे?

ग्रीम: हा हमे भी यकिन नही हुआ था? पर हम भी यहा पर ५० सालो से हे यहा गुरुत्वाकर्षण जायादा हे ओर इसलीये हमारी उर्म धीरे धीरे बढती हे। हम पीछले कइ सालो से यहा से बाहार नीकले ने की कोशीश कर रहे हे पर कामयाब नही हो पाये बस हम ६ लोगो मे से ति न लोगो के पास ये शक्ति हे।

ये रोशनी जबभी कोइ नये कोग आते हे तो वहा उस बडे पर्वत मेसे नीकलती हे ओर वही जाकर समा जाती हे। उसके बारे मे हम कइ बार बात पता लगाने कि कोशीश कर चुके पर हरबार हमे बस मायुसी हि मीली। जब तुम लोग आये तो हमने तुमको सुचीत करने कि कोशीश कि पर तुम उस पहाड पर ही उतरे तो हमारे पहोचने से पहेले ही सब हो गया। पर उससे फायदा भी हुआ हम सारे के पास अब ये पावर हे।

स्वांग: अब क्या? हम यहा पर ही फसे रहेंगे? हम केसे बहार नीकले? हमारा मेन यान वहा उपर इंतजार कर रहा हे।

ग्रीम: मेने पता लगाया हे कि जब कोइ बहार का जहाज आता अहे आगर उसको हम इस रोशनी के नीकलने से पहेले अगर हम उसको कोइ येसी जगह लेचले कि जहा पर उसका असर नहो तो हम सायद तुम्हारे उस यान तक पहोच पायेंगे।

स्वांग: मुजे पुरा भरोसा हे रोबो १ पर की वो हम अगर ६ गंटे कोंटेक्ट मे न रहे तो वो जरुरु हमारी मदद केलिये कोइ यान भेजेगा।

ग्रीम: हम सब मीलके यहा पर १५ ओर वहा नीचे २० लोग हे हमे सबको यहा से नीकल ना हे वो सब भी इसी तरह फसे हे।

स्वांग: ठीक हे। पर वो लोग कहा से हे? ओर उनको क्या इस रोशनीसे कोइ ताकत नही मीली?

ग्रीम: अर ये ताकत कोइ वरदान नही हे । बस ये हमारी वो हमे हमारी उर्म को बढाती हे ओर हम जलदी बुढे होते हे। हमको भी इसका पता बादमे लगा। लेकीन यहा पर अगर उसका आसर खत्म करना हे तो तुम्हे अब दोबारा उस रोशनी का इंतजार करना होगा। मेने भी ये तकरीबन ४ बार किया हे ओर आब मे इन सबसे २० साल बडा हुआ हु।

स्वांग ; तो आब क्या करे ? अब हमे ओर १ गंटा इंतजार करना हे बस फीर हमे ९ लोग जासके उतना एक यान आयेगा।

ग्रीम: तो फीर किसका इंतजार हे? सबको कहो कि अपना सामान बंघ ले ओर इस ग्रह के नमुने भी साथ लेले । इस तरह से सबको तेयार करते हे।

स्वांग : हम ओर हमारे साथी पहेले जायेंगे जाकर हम बडा यान भेजेंगे ।

ग्रीम: ठिक हे । तो पहेले अगर वो यान आता हे तो हमे उसको इस रोशनी से बचान हे। बहार का यान आते ही बस १५ मीनीट मे वो रोशनी आती हे। बताओ कीसी के पास कोइ प्लान हे कि केसे उसको बचाया जाये उस रोशनी से?

स्वांग : हमारे पार सींर्कोनाइज मशीन हे जीससे वो छोटा हो जायेगा ओर हम उसको बचा लेंगे उस रोशनी से ।

ग्रीम: ठिक हे

पर अब हमे तुम बताओ कि तुम्हारा यान उतरने की संभावना ये कहा हे ?

स्वांग ; सायद वो जहा हम उतरे थे वहा ही ज्यादा हे।

तो वहा मे जाती जु ओर हमाते पास ओर २ ओर मशीन हे। तो उसे हम ज्यादा संभावना वाले इलाके मे किसीको इस मशीन के साथ तेनात करेंगे।

ओर हमारी उडने कि पावर तो हेही तो हम उसका भी इस्तेमाल करेंगे।

ग्रीम; ठीक हे ? तो ये तीन मशीन लेके लोग वहा पर जाए जहा पर मे बाताता हु । ओर मे ओर तुम स्वांग उस पर्वत पर जाते हे। तो ओर जीसको भी अगर यान मीलता हे। तो तुरंत उसको छोटा कर देना। ओर सही जगह पर लेजाना ओर फिर हमे सुचीत करना। ओर वो लोग जो उड नही सकते वो वहा नीचे ही रहेंगे।

सब लोग जीसको उड्ना आता था वो लोग अब वहा उन जगहो पे गये ओर तेनात हो गये।

तो वहा पर रोबो १ को भी ओर बडे यान के लोगो को भी चींता होने लगी थी के आखीर क्या हुआ वहा नीचे वहा सम्पर्क क्या नही हुआ? अब सबसे पहेले भेजे गया छोटा तपास यान काभी पता नही हे।

वहा का दुसरा कप्तान : रोबो १ अब ६ गंटे हो गये हे अब हमे उनकी मदद करने के लीये यान भेजना होगा।

ठिक हे तो उसमे हम ५ रोबो को तेयार करके भेजते हे रोबो १ ने कहा

ओर वो लोग वहा नीचे मदद केलीये यान भेजते हे ।

वही भेजते हे की जहा पर पहेले भेजा था। ओर देखते ही देखते वो चल पडा अपने साथी ओर को बचाने। वहा पहोच गया जहा पर पहेले यान भेजा था।

वहा पर जाके रोबो ने स्वांग को देखकर तसल्ली हुइ पर ये क्या उन्होने यान पर वो सींर्कोन गन चलादी ओर वो चोटा होगया पर उसमे से एक रोबो ने यान के बाहार वाली गन चाला दी ओर वो केप्टन ग्रीम को लगी। वो वहा बेहोश हो गए। लेकिन स्वांगे ने दुसरो के संदेश भेजा कि वहा पर ग्रीम को गोली लगी हे। उनकी मदद करने जाओ

ओर फिर स्वांग वहा उस यान को लेकर वहा से चली जाती हे। वहा उस सुरक्षीत जगह पर ।

लेकीन अब ग्रीम के पास पहोचते पहोचते वो रोशनी वहासे नीकली ओर सबके पास से वो उडने कि पावर चली गइ। आब स्वांग के पास ही वो उड्ने कि पावर थी।

अब वो रोशनी वापस चली गइ। तो स्वांग ने आपने साथीयो को उस यान मे बेठा कर वापस भेज दिया ओर इसके लीये ओर यान भेजने के लीये रोबो १ को सुचीत करने को कहा।

फीर वो उडके ग्रीम के पास गई ओर वहा पर जाकर देखा की सबकी पावर जा चुकी थी अब केवल उसके पास ही उडने की पावर थी। वो सबको लेकर वहा पर आती हे जहा उसने रोबो को यान भेज नेको कहा था।

अब अब ३० लोग बाकिथे। तो वहा पर उपर जाकर स्वांग के लोगो ने रोबो १ को सब बताया । तो रोबो १ ने उन सब के लीये ५ यान भेजे

सब को स्वांग ने आपनी उड्ने की पावर से वहा जाकार सींर्कोन गन का इस्तेमाल कर बारी बारी से सबको बहा से यान मे भेज दिया ओर ववो खुद भी बहा पहोच गइ।

सब लोग ग्रीम को मीलके खुश हुए। ओर

इस तरह से स्वांग ने अपने उड्ने कि पावरका इस्तेमाल कर सबको बचा लीया। ओर वो यान आपनी देसरे ग्रह कि खोज मे आगे बढता हे।

फिर क्या होता हे ये जानने के लीये बने रहीये हमारे साथ्।

https://www.wbookg.com/