एक चिट्ठी प्यार भरी - 4 Shwet Kumar Sinha द्वारा पत्र में हिंदी पीडीएफ

एक चिट्ठी प्यार भरी - 4

Shwet Kumar Sinha मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी पत्र

प्रिय प्रियतमा, आज एकबार फिर तुम्हारी नगरी में हूं। पर सबकुछ कितना बदल गया है यहां! या फिर शायद ये मेरी नजरों को धोखा भी हो सकता है क्योंकि तुम जो साथ नहीं हो अब।याद है, पहले हम और ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प