अय्याश--भाग(८) Saroj Verma द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

अय्याश--भाग(८)

Saroj Verma मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

उस तवायफ़ को नाश्ता देकर सत्या फौरन डिब्बे से बाहर चला आया और बाहर आकर एक पेड़ के नीचें बैठ गया फिर कुछ सोचते हुए उसकी आँखों से दो आँसू भी टपक गए,वो कुछ देर यूँ ही बैठा रहा ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प

-->