असत्यम्। अशिवम्।। असुन्दरम्।।। - 24 Yashvant Kothari द्वारा हास्य कथाएं में हिंदी पीडीएफ

असत्यम्। अशिवम्।। असुन्दरम्।।। - 24

Yashvant Kothari मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी हास्य कथाएं

24 प्रजातन्त्र, राजनीति, कुर्सी, दल, विपक्ष, मत मतपत्र, मतदाता, तानाशाही, राजशाही, लोकशाही, और ऐसे अनेको ष्शब्द हवा में उछलने लग गये । जिसे आम आदमी प्रजातन्त्र समझता था वो अन्त में जाकर सामन्तशाही और तानाशाही ही हो जाता था ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प