असत्यम्। अशिवम्।। असुन्दरम्।।। - 15 Yashvant Kothari द्वारा हास्य कथाएं में हिंदी पीडीएफ

असत्यम्। अशिवम्।। असुन्दरम्।।। - 15

Yashvant Kothari मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी हास्य कथाएं

15 कोई कुछ नहीं बोला। सन्नाटा बोलता रहा। झिगुंर बोलते रहे। मकड़ियांे ने संगीत के सुर छेड़े। रात थोड़े और गहराई। यशोधरा बोली। ‘आज मेरी काम वाली ने बताया कि कल और परसांे की छुट्टी करेंगी। जब पूछा क्यांे ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प