शबनम मौसी (फ़िल्म समीक्षा) Vinay Panwar द्वारा फिल्म समीक्षा में हिंदी पीडीएफ

शबनम मौसी (फ़िल्म समीक्षा)

Vinay Panwar मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी फिल्म समीक्षा

शबनम मौसी फ़िल्म को हम महज मनोरंजन के लिए नही देख सकते। यह फ़िल्म दिमाग को झंझोड़ने में सक्षम है।महमूद साहेब पर फिल्माया गया गीत, "सज रही गली मेरी अम्मा सुनहरी गोटे से " ने हमेशा आंखे नम की। ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प