शान्ति Saadat Hasan Manto द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

शान्ति

Saadat Hasan Manto मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

दोनों पीरे ज़ैन डेरी के बाहर बड़े धारियों वाले छाते के नीचे कुर्सीयों पर बैठे चाय पी रहे थे। उधर समुंद्र था जिस की लहरों की गुनगुनाहट सुनाई दे रही थी। चाय बहुत गर्म थी। इस लिए दोनों आहिस्ता ...और पढ़े