शह नशीं पर Saadat Hasan Manto द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

शह नशीं पर

Saadat Hasan Manto मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

वो सफ़ैद सलमा लगी साड़ी में शह-नशीन पर आई और ऐसा मालूम हुआ कि किसी ने नक़रई तारों वाला अनार छोड़ दिया है। साड़ी के थिरकते हूए रेशमी कपड़े पर जब जगह जगह सलमा का काम टिमटिमाने लगता तो ...और पढ़े