ज्यादा बदलाव चाहोगे तो पीट दिये जाओगे (जुलाई २०१९) महेश रौतेला द्वारा कविता में हिंदी पीडीएफ

ज्यादा बदलाव चाहोगे तो पीट दिये जाओगे (जुलाई २०१९)

महेश रौतेला द्वारा हिंदी कविता

जुलाई २०१९१.ज्यादा बदलाव चाहोगे तोपीट दिये जाओगे,अधिक परिवर्तन चाहोगे तोमार दिये जाओगे,बहुत सुधार चाहोगे तोजेल भेज दिये जाओगे!मांगने पर कौरवों नेपाँच गांव भी नहीं दिये थे,और तुम जनता के लिएअच्छा तन-मन-धन मांग रहे हो!!जो अंग्रेजों ने बिछाया-ओढ़ायाउसी को बिछाया,ओढ़ाया ...और पढ़े