नाजायज रिश्ते का अंजाम--5 Kishanlal Sharma द्वारा रोमांचक कहानियाँ में हिंदी पीडीएफ

नाजायज रिश्ते का अंजाम--5

Kishanlal Sharma मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी रोमांचक कहानियाँ

माया राजेन्द्र से अलग होकर दरवाजा खोलने के लिए आ तो गयी।लेकिन उसे अस्त व्यस्त अवस्था मे देखकर सुधीर के मन मे सन्देह का बीज फूट गया।सुधीर ने पत्नी से साफ साफ तो कुछ नही कहा पर घुमा फिराकर ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प