ग्यारह अमावस - 46 Ashish Kumar Trivedi द्वारा थ्रिलर में हिंदी पीडीएफ

ग्यारह अमावस - 46

Ashish Kumar Trivedi मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी थ्रिलर

(46)वह आदमी रंजन सिंह था। उसने टॉर्च की रौशनी कान्हा के चेहरे पर मारी। कान्हा रंजन सिंह को देखकर थर थर कांप रहा था। उसे इस हालत में देखकर रंजन सिंह के मन में आया कि अब वह कुछ ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प