मेरे शब्द मेरी पहचान - 4 Shruti Sharma द्वारा कविता में हिंदी पीडीएफ

मेरे शब्द मेरी पहचान - 4

Shruti Sharma द्वारा हिंदी कविता

---- एक बीज भी कभी पेड़ होगा ----रख सबर एक एसा भी समा होगाजो तेरी काबिलियत का गवाह होगाना दे तू ध्यान उन तानों परजो दुनिया द्वारा बेवजह होगासमय खुद देगा तेरी कला का प्रमाणजब उस समय का आवाहन ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प