कैसा ये इश्क़ है.... - (भाग46) Apoorva Singh द्वारा उपन्यास प्रकरण में हिंदी पीडीएफ

कैसा ये इश्क़ है.... - (भाग46)

Apoorva Singh मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी उपन्यास प्रकरण

अब रूठे हुए को कैसे मनाये मुझे तो पता भी नही।नया नया कदम रखा है इस राह पर तो कैसे पता करूँ।अप्पू तुम भी न चिल्ला लेती,नाराजगी जता देती मुझ पर तो तुम्हारा सारा गुस्सा निकल जाता लेकिन नही।बस ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प