स्त्री Asmita Madhesiya द्वारा कविता में हिंदी पीडीएफ

स्त्री

Asmita Madhesiya द्वारा हिंदी कविता

एक स्त्री में बहुत शक्ती होती है,कभी कभी बिना गलती के भी रोती है,समाज के तानो से डरती है,फिर भी पीछे ना हटती है,एक स्त्री में बहुत शक्ती होती है,अपने आप में ही संसार होती है,तुम्हारे जीवन ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प