जीवन पर 8 कविताएँ Alok Sharma द्वारा कविता में हिंदी पीडीएफ

जीवन पर 8 कविताएँ

Alok Sharma द्वारा हिंदी कविता

दुनिया इतनी सरल नहीदुनिया इतनी सरल नही जो नज़र आयेअक्सर नए राही को दूर के ही डोल सुहाएबड़ो की बातों का अब वो सम्मान रहा कहाँउल्टी ज़ुबाँ कैंची जैसी, माँ-बाप को सिखाएदर्द तो होगा ही जब मारोगे पैर पे ...और पढ़े