सैलाब - 1 Lata Tejeswar renuka द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

सैलाब - 1

Lata Tejeswar renuka Verified icon द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

शतायु पलंग से उठ कर बैठा। नींद न आने के कारण वैसे भी परेशान था, ऊपर से गरमी। कुछ देर पहले ही बिजली गुल हो गई थी। आधी रात को बिजली चले जाना वहां कोई नयी बात नहीं थी। ...और पढ़े