अधूरी हवस - 4 Balak lakhani द्वारा डरावनी कहानी में हिंदी पीडीएफ

अधूरी हवस - 4

Balak lakhani मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी डरावनी कहानी

(4) जब इंसान प्यार मे होता है तो उसे पूरी दुनिया मेघधनुष की तरह सप्‍टरंगी लगती है, पर जेसे ही वो प्यार कही खो जाता है, तो पूरी दुनिया उन्हे दुश्मन लगती है, कई तो अपने आप को ही ...और पढ़े

अन्य रसप्रद विकल्प