एक नींद हज़ार सपने Anju Sharma द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

एक नींद हज़ार सपने

Anju Sharma Verified icon द्वारा हिंदी लघुकथा

उस नामुराद रात का दूसरा पहर भी बीत चुका था! दिन भर की चहलकदमी और तमाशे से ऊबी गली अब चाँद के साए में झपकियां ले रही थी और दूर किसी कोने से आती किसी कुत्ते की आवाज़ पर ...और पढ़े