इश्क़ इबादत Devendra Prasad द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

इश्क़ इबादत

Devendra Prasad Verified icon द्वारा हिंदी प्रेम कथाएँ

मैं कैसे भूल सकता हूँ वो कॉलेज का पहला दिन। ठंड का मौसम और धुंध। मैं। जा रहा था अपने कॉलेज बस की ओर। बस रोजाना की तरह अपने तय वक़्त पर अपनी नियत स्थान पर खड़ी मिलती थी। ...और पढ़े