प्रेत आत्माओं का साया सोनू समाधिया रसिक द्वारा डरावनी कहानी में हिंदी पीडीएफ

प्रेत आत्माओं का साया

सोनू समाधिया रसिक Verified icon द्वारा हिंदी डरावनी कहानी

"माँ कुछ दो ना खाने के लिए बहुत भूख लगी है।""सुनते हो जी! बच्चे सुबह से भूख से तड़प रहे हैं और आप हो कि हाथ पे हाथ रखे बैठे हैं, कुछ करते क्यूँ नहीं हो।""क्या करूँ मर जाऊँ ...और पढ़े