शेष जीवन(कहानियां पार्ट 20) किशनलाल शर्मा द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

शेष जीवन(कहानियां पार्ट 20)

किशनलाल शर्मा मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

यह बात एक दिन उर्मिला की बहू रमा को पता चली।रमा लेक्चरार थी।वह सारी बात सुनकर बोली,"माजी इसमें बुराई क्या है"?"बहू तू कैसी बात कर रही है।सास के गर्भ में दामाद का बच्चा?रमा की बात सुनकर उर्मिला बोली थी।"माँ ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प