तेरे इश्क़ में पागल - 18 Sabreen FA द्वारा प्रेम कथाएँ में हिंदी पीडीएफ

तेरे इश्क़ में पागल - 18

Sabreen FA मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी प्रेम कथाएँ

"अहमद सर अब आपकी तबियत कैसी है?" कासिम ने मुस्कुराते हुए पूछा। "ठीक हु यार।" अहमद ने बालो में हाथ फेरते हुए कहा। तभी ज़ैन अंदर आया और अ कर कासिम के पास सोफे पर बैठ गया। कासिम फौरन ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प