शेष जीवन(कहानियां पार्ट 17) किशनलाल शर्मा द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

शेष जीवन(कहानियां पार्ट 17)

किशनलाल शर्मा मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

एक और सावित्री"भाभी इस केस में कुछ नही हो सकता।""तुम यह बात कह रहे हो।इस शहर के माने हुए वकील होकर यह बात कर रहे हो।""भाभी मे कानून की बारीकियां समझता हूँ।इसीलिए यह बात कह रहा हूँ।इस केस में ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प