मार्ग-श्रान्त Deepak sharma द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

मार्ग-श्रान्त

Deepak sharma मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी लघुकथा

विद्यावती निझावन किस विभं्रश घाटी में विचर रही थी? कहाँ थी वह? ये पर्दे उसने पहले कहाँ देखे रहे? कब देखे रहे? बयालीस साल पहले? या फिर पैंतालीस साल पहले? वह दरवाजा ढूँढ़ने लगी। सामने की दीवार में खिड़कियाँ ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प

-->