शेष जीवन (कहानियां पार्ट 2) किशनलाल शर्मा द्वारा सामाजिक कहानियां में हिंदी पीडीएफ

शेष जीवन (कहानियां पार्ट 2)

किशनलाल शर्मा मातृभारती सत्यापित द्वारा हिंदी सामाजिक कहानियां

रमेश कुछ देर तक इला को देखता रहा।जब वह कुछ नही बोली तब वह फिर बोला,"मैं तुम्हे प्रपोज करना चाहता हूँ"।"क्या शादी और मुझसे?"रमेश की बात सुनकर इला चोंक्की थी।"हां।शादी करके मैं तुम्हे अपनी जीवन संगनी बनाना चाहता हूँ।""यह ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प

-->