आंसू सूख गए - 1 LM Sharma द्वारा लघुकथा में हिंदी पीडीएफ

आंसू सूख गए - 1

LM Sharma द्वारा हिंदी लघुकथा

बात 1920 के दशक की है । उस समय जहां देखो वहीं गरीबी का आलम था। बहुत ही ऐसे कम परिवार थे जहां पर दो समय की रोटी आराम से मिलती हो । अधिकतर गरीबी से जूझ रहे थे। ...और पढ़े


अन्य रसप्रद विकल्प

-->